#कल्चर_टेररिज्म_खत्म_हो_और_सब_अपनी_संस्कृति_अपनाये 
सनातन संस्कृति की तरह कोई संस्कृति नही, सनातन संस्कारों जैसा कोई संस्कार नही, सनातन सभ्यता जैसी कोई सभ्यता नही। लोग जाते है उन लोगों की संस्कृति में जिनको नही पता कि चरित्र क्या है? चरित्रहीन कौन है और चरित्रवान कौन है? बस उन्ही की तरह हम enjoy करना चाहते हैं अपनी जिंदगी और इसे enjoy नही इसे बर्बादी कहते है क्योंकि वो हमारे देश की संस्कृति को खत्म करने के लिए हमें बिगाडन् की कोशिश है और कुछ नही इसलिए मेरे प्यारे ओ अपनी सनातन संस्कृति को पहचानो। उनकी संस्कृति कुछ साल पुरानी है लेकिन हमारी संस्कृति जबसे पृथ्वी बनी है तब से है। 
राधे राधे
Wait while more posts are being loaded