Post has attachment
सूखा प्राकृतिक त्रासदी है। सारी दुनिया में उसके असर से, खेती सहित, अनेक गतिविधियाँ प्रभावित होती हैं। कुओं, तालाबों, जलाशयों और झीलों में पानी घटता है। कई बार, उन पर असमय सूखने का खतरा बढ़ता है। प्रभावित इलाकों में पीने के पानी की किल्लत हो जाती है। उद्योग धंधे भी पानी की कमी की त्रासदी भोगते हैं। 

http://hindi.indiawaterportal.org/node/50852

Post has attachment
आई.आई.टी. कंर्सोटियम फॉर गंगा द्वारा प्रस्तुत गंगा रीवर बेसिन मैनेजमेंट प्लान
http://hindi.indiawaterportal.org/node/47728

Post has attachment
भोपाल गैस त्रासदी को इस दिसंबर में 30 साल हो जाएंगे। इस बड़ी अवधि में मध्य प्रदेश और केन्द्र सरकार मिलकर भी यहां पड़े जहरीले कचरे का निपटान नहीं कर पाई हैं। हर साल बारिश के साथ इसका रिसाव भूमि में होता है और अब आशंका की जा रही है कि यह रिसाव लगभग तीन किलोमीटर के दायरे में फैल गया है। तीन दिसंबर सन् 1984 को भोपाल के यूनियन कार्बाइड कारखाने में हुई गैस त्रासदी के बाद के तीस वर्षों के दौरान यहां कई तरह के अध्ययन हुए हैं। 
http://hindi.indiawaterportal.org/node/46368

Post has attachment
भारत में लगभग 15 हजार किलोमीटर की समुद्र तटीय इलाका है। गुजरात, महाराष्ट्र, दमन एंड दीव, गोवा, केरल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, उड़ीसा, और पश्चिम बंगाल ये हमारे समुद्र तटीय राज्य हैं। मैंग्रोव को हमारे देश में विभिन्न भाषाओं और बोलियों में अलग-अलग नामों से पुकारा जाता होगा क्योंकि मैंग्रोव के जंगल हमारे देश में अंग्रेजी और अंग्रेजों के आने से पहले रहे हैं तो निश्चय ही हमारे लोगों ने अपनी-अपनी बोलियों और भाषाओं में मैंग्रोव को पहचानने के लिए शब्द दिए होंगे। 

मित्रों आप से अपेक्षा है कि अपनी-अपनी बोलियों और भाषाओं में मैंग्रोव के कुछ देशी नाम हमें बताएं और भेजें। 

रमेश कुमार 
ईमेल : ramesh@indiawaterportal.org
फोन : 09811236709
http://hindi.indiawaterportal.org/node/46281

Post has attachment
नवरात्र! यद्यपि ये नौ दिन आदि मातृशक्तियों की पूजन की रातों को अपने साथ लेकर आते हैं और मां गंगा आदि शक्ति नहीं है; यह बाद में धरती पर अवतरित हुई; फिर भी मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि जैसी मां गंगा है, वैसी दुनिया में कोई और नहीं। यह दुनिया की एकमात्र ऐसी मां है, जिसे धरा पर उतारकर एक इंसान ने स्वयं को उसकी संतान कहलाने योग्य साबित किया। भारत में भी ऐसी कोई दूसरी नदी या मां हो तो बताइए?
http://hindi.indiawaterportal.org/node/46118
Wait while more posts are being loaded