Post has attachment
Photo

Post has attachment
Photo

Post has attachment
Photo

Post has attachment
Photo

महिला रक्षा मंत्री सीतारमन: कांग्रेसी परिवार
का बीजेपी से प्यार, जानें जरा हटके बातें
निर्मला सीतारमन के पति और परिवार का झुकाव
कांग्रेस की ओर था इसके बावजूद उन्होंने साल 2006
में बीजेपी ज्वाइन किया. अपने राजनीतिक जीवन के
शुरुआती दिनों में वे रविशंकर प्रसाद के नेतृत्व में
बीजेपी की प्रवक्ता बनीं. लंदन में हासिल की गई
अपनी उपलब्धियों के दम पर पार्टी में लगातार
सफलता की सीढ़ी चढ़ती चली गईं.
मोदी कैबिनेट के विस्तार में आज नौ नए मंत्रियों ने
शपथ ली, जबकि चार मंत्रियों को प्रमोशन दिया
गया. इस पूरे विस्तार की सबसे बड़ी खबर निर्मला
सीतारमन का रक्षा मंत्री बनाया जाना है. अभी
तक वित्त मंत्री अरुण जेटली के पास रक्षा मंत्रालय
का अतिरिक्त प्रभार था.
आजादी के बाद देश को पहली बार पूर्ण कालिक
महिला रक्षामंत्री मिली हैं. इससे पहले साल 1975
और 1980-82 के बीच तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा
गांधी के पास रक्षा मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार
था.
निर्मला सीतारमन का जन्म 18 अगस्त 1959 में
तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली में हुआ. उनके पिता रेलवे
में नौकरी करते थे और मां गृहणी थी. पिता के
अनुसाशन और मां के किताबों के प्रति प्यार का
असर उनके जीवन पर भी हुआ. निर्मला सीतारमन ने
अपना ग्रेजुएशन तिरुचिरापल्ली में किया. इसके बाद
मास्टर्स के लिए वे दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू
विश्वविद्यालय आ गईं. साल 1986 में पराकला
प्रभाकर से शादी के बाद वे लंदन शिफ्ट हो गईं. वहां
कॉर्पोरेट के क्षेत्र में कई उपलब्धियां हासिल करने के
बाद वे 1991 में भारत वापस आ गईं.
पति और परिवार कांग्रेस समर्थक फिर ज्वाइन की
बीजेपी
Wait while more posts are being loaded