Post has attachment

Post has attachment

हमें प्रकृति के संदेशों को पहचान करके उसी के अनुसार चलना चाहिए.......  पर हम उसका खुला उलंघन करते है जिसके परिणामस्‍वरूप हमें तरह-तरह की आपदाओं और समस्याओं का सामना करना पड़ता है..... लेकिन हम सब है कि उसकी अधीनता स्‍वीकार करने को तैयार नहीं.............

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment

There was no such community on Google+, so I just started...
Wait while more posts are being loaded