Post has attachment
पूरी दुनिया को बर्फ बनाना भारत ने सिखाया ! हमारा भारत देश बहुत ही अदभुत है हमारे यहा बर्फ सबसे कम होती है लेकिन पूरी दुनिया को बर्फ बनाना हमने सिखाया ! भारत में बर्फ कुल मिलाकर 2-4 राज्यों में है जहाँ पर बर्फ गिरती है ये जो बर्फ गिरती है ये प्रकृति की बनाई हुई है लेकिन हम भारतवासी इस पर गर्व कर सकते है कि मनुष्य की बनाई हुई सबसे पहली बर्फ हमने दुनिया को दी है और उसकी तकनीक भी हमने ही पूरी दुनियां को दी है ! अंग्रेज लोग बताते है कि उन्होंने 18वी सबसे पहले बर्फ बनाई लेकिन हमने तो इससे हजार साल पहले ही बर्फ बना ली थी ! http://www.krantidoot.in/2016/05/Do-you-know-That-India-taught-the-whole-world-to-make-ice-Rajiv-Ji-Dixit.html 

Post has attachment

Post has attachment
जिस सेना पर पूरा देश गर्व करता है उस सेना के ऐसे महत्वपूर्ण पदों पर न तो नादानी की गुंजाइश होती है और न ही विश्वासघात की। दोनों के ही अंजाम घातक होते हैं । हमारा सैनिक अगर मातृभूमि की रक्षा में दुश्मन से लड़ते लड़ते वीरगति को प्राप्त हो तो उसे अपनी शहादत पर गर्व होता है लेकिन जब एक देशभक्त सैनिक अपने ही किसी साथी की गद्दारी के कारण अपने प्राणों की बलि देता है तो उसे अपने प्राणों का नहीं, दुख इस बात का होता है कि अब मेरा देश असुरक्षित हाथों में है। वो सैनिक जो अपनी जवानी देश की सीमाओं की रक्षा में लगा देता है, वो पत्नी जो अपनी जिंदगी सरहद की निगरानी करते पति पर गर्व करते हुए बिता देती है, वो बच्चे जो अपने पिता के इंतजार में बड़े हो जाते हैं और वो बूढ़ी आँखें जो अपने बेटे के इंतजार में दम तोड़ देती हैं ! क्या इस देश के सर्वोच्च पदों पर बैठे नेता और कठिन से कठिन प्रतियोगी परीक्षाओं को पास करके इन पदों पर आसीन अधिकारी कभी भ्रष्टाचार की भेंट चढ़े ऐसे ही किसी सैनिक के परिवार से मिलकर उनके कुछ बेहद मासूम और सरल से सवालों के जवाब दे पाएंगे? http://www.krantidoot.in/2017/07/Some-questions-arising-from-the-arrow-of-the-Dhanush.html 

Post has attachment
जब बटुकेश्वर आजीवन कारावास से रिहा हुए तो सबसे पहले दिल्ली में उस जगह पहुंचे जहां उन्हें और भगत सिंह को असेंबली बम कांड के फौरन बाद गिरफ्तार करके हिरासत में रखा गया था। दिल्ली में खूनी दरवाजा वाली जेल में, बच्चे वहां बैडमिंटन खेल रहे थे। बच्चों ने उन्हें वहां चुपचाप खड़े देखा, तो पूछा कि क्या आप बैडमिंटन खेलना चाहते हैं, उन्होंने मना किया तो पूछा, कि फिर आप क्या देख रहे हैं। बीके ने जवाब दिया कि मैं उस जगह को देख रहा हूं जहां कभी भगत सिंह और बटुकेश्वर दत्त जेल में बंद थे। बच्चों ने पूछा कौन भगत सिंह और कौन बटुकेश्वर दत्त? सोचिए उन पर क्या गुजरी होगी। वैसे भी उस दौर में पढ़े-लिखे लोग कम थे, कम्युनिकेशन के साधन कम थे, बच्चों के स्कूल की किताबों में राष्ट्रीय साहित्य था ही नहीं। लेकिन आज तो है, आज की पीढ़ी भी उन्हें ना जाने तो उनको अपनी कुर्बानी व्यर्थ ही लगेगी। http://www.krantidoot.in/2016/05/Bhagat-Singh-and-Batukeshwar-Dutt.html 

Post has attachment
Photo

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment
आखिर इस देश में हो क्या रहा है? पवित्र संसद में आस्था को चोट पहुंचाने वाले बोल बोले जा रहें है। लम्बी दलाली और राजनैतिक भूमिका निर्वाहन करने वाले नरेश अग्रवाल हिन्दू देवताओ को मद्यपान का आदती बता रहें थे और पूरी की पूरी संसद उस सांसद द्वारा उगले जहर को पी रही थी।काश ऐसा नरेश कभी किसी अन्य मज़हब के किसी पूज्य को लेकर कुछ कहते। अब तक उनके चीथड़े हो चुके होते और पूरा देश जल रहा होता। देवी देवता हमारे आधार हैं। यह पवित्र संविधान भी मानता है। दुर्भाग्य यह है कि संविधान के पवित्र मंदिर में विष बुझे शब्दों का प्रयोग करने वाले एक हतोत्साहित सांसद ने अकारण ही सबको अपवित्र शब्दों का श्रोता बना दिया। http://www.krantidoot.in/2017/07/Naresh-agrawal-should-be-punished.html?m=1

Post has attachment
पाकिस्तान एक इस्लामी राज्य है जहां मार्क्सवाद और नास्तिकतावाद को ईशनिंदात्मक माना जाता है। भारतीय वामपंथियों और तथाकथित बुद्धिजीवियों को अगर इस्लामाबाद, लाहौर और पेशावर की सड़कों पर भेज दिया जाए तो उन्हें मार दिया जाएगा। भारत में वे हिंदू देवताओं और धर्म पर हमला करते हुए मुक्त स्वर से भाषण झाड़ते हैं, क्या पाकिस्तान में संभव होगा ? शाहरुख खान और आमिर खान का दावा है कि भारत असहिष्णु है, फिर भी वे भारत में समृद्ध और विकसित होते हैं। सच कहूँ तो, यदि वे पाकिस्तान जायें और एक बार यह कह भर दें कि पाकिस्तान असहिष्णु है, तो फिर अपना अंजाम खुद देख लें, वे कुछ घंटों से ज्यादा नहीं बचेंगे । http://www.krantidoot.in/2017/07/Coalition-of-Indian-journalists-with-Pakistan.html 
Wait while more posts are being loaded