ब्राह्मण को डुबोने वाली तीन-
1-दारु , 2-दोगङ , 3-दगा

ब्राह्मण के लिये जरुरी तीन-
1-सँस्कार , 2- मेहनत , 3-भाईचारा ॥

ब्राह्मण को प्रिय तीन-
1-न्याय , 2-नमन , 3-आदर

ब्राह्मण को अप्रिय तीन-
1-अपमान,2- विश्वासघात , 3-अनादर ॥

ब्राह्मण को महान बनाने वाले तीन-
1-शरणागतरक्षक, 2-दयालूता, 3-परोपकार

ब्राह्मण के लिये अब जरुरी तीन-
1-एकता , 2-सँस्कार ,3-धर्म पालन

ब्राह्मण के लिये छोङने वाली तीन-
1-बुरी संगत ,2- कुप्रथाएँ ,3- आपसी मनमुटाव ॥

ब्राह्मण को जोङने वाली तीन-
1-गोरवशाली ईतिहास, 2- परम्पराएँ , 3-हमारे
आदर्श...

अगर आप भी ब्राह्मण है,
तो आगे भेजो।

जय परशुराम ...हर हर महादेव

ब्राह्मणो का योगदान -

भारत के क्रान्तिकारियो मे 90% क्रान्तिकारी ब्राह्मण थे जरा देखो कुछ मशहूर ब्राह्मण क्रान्तिकारियो के नाम
ब्राह्मण स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी
(१) चंद्रशेखर आजाद
(२) सुखदेव
(३) विनायक दामोदर सावरकर( वीर सावरकर )
(४) बाल गंगाधर तिलक
(५) लाल बहाद्दुर शास्त्री
(६) रानी लक्ष्मी बाई
(७) डा. राजेन्द्र प्रसाद
(८) पण्डित रामप्रसाद बिस्मिल
(९) मंगल पान्डेय
(१०) लाला लाजपत राय
(११) देशबन्धु डा. राजीव दीक्षित
(१२) नेताजी सुभाष चन्द्र बोस
(१३) शिवराम राजगुरु
(१४) विनोबा भावे
(१५) गोपाल कृष्ण गोखले
(१६) कर्नल लक्ष्मी सह्गल ( आजाद हिंद फ़ौज
की पहली महिला )
(१७) पण्डित मदन मोहन मालवीय
(१८) डा. शंकर दयाल शर्मा
(१९) रवि शंकर व्यास
(२०) मोहनलाल पंड्या
(२१) महादेव गोविंद रानाडे
(२२) तात्या टोपे
(२३) खुदीराम बोस
(२४) बाल गंगाधर तिलक
(२५) चक्रवर्ती राजगोपालाचारी
(२६) बिपिन चंद्र पाल
(२७) नर हरि पारीख
(२८) हरगोविन्द पंत
(२९) गोविन्द बल्लभ पंत
(३०) बदरी दत्त पाण्डे
(३१) प्रेम बल्लभ पाण्डे
(३२) भोलादत पाण्डे
(३३) लक्ष्मीदत्त शास्त्री
(३४) मोरारजी देसाई
(३५) महावीर त्यागी
(३६) बाबा राघव दास
(३७) स्वामी सहजानन्द

यह है ब्राह्मणो का भारत की क्रांती मे योगदान , तुम्हारा क्या है ? जरा बताओ तो तुम किस अधिकार से स्वयं को भारतीय
कहते हो और ब्राह्मणो का विरोध करते हो । मुझे गर्व है
मैं ब्राह्मण हूं
यदि ब्राह्मण नही होगा तो किसी का भी अस्तित्व
नही होगा

अथर्व वेद के 5/19/10 मे स्पष्ट लिखा है बाह्मणो की उपेक्षा व तिरस्कार की बात सोचने मात्र भल से सोचने वाले का सर्वस्व पतन होना शुरू हो जाता है । क्योकि

ब्राह्मण दान देने पे आया तो
-दधीचि,

दान लेने पे आया तो
सुदामा

परीक्षा लेने पे आया तो
-भृगु,

तपोबल पे आया तो
कपिल मुनि

अहंकार को दबाने पे आया तो
अगस्त मुनि

धर्म को बचाने पे आया तो
आदि शंकराचार्य

नीति पे आया तो ...
-चाणकय,

नेतृत्व करने पे आया तो
-अटल बिहारी,

बग़ावत पे आया तो
-मंगल पांडे,

क्रांति पे आया तो
-चंद्रशेखर आज़ाद,

संगठित करने पे आया तो
-केशव बलिराम हेगड़ेवार,

संघर्ष करने पे आया तो
-विनायक राव सावरकर

निराश हुआ तो
-नाथु राम गोडसे

और
क्रोध मे आया तो
-परशुराम

: ब्राह्मण साम्राज्य की टीम ने 2 महीने की मेहनत कर भारत के समस्त राज्यों से ब्राह्मण जनसँख्या जानने की कोशिश की हे जिसके अनुसार सूची तयार हुई हे। उम्मीद हे ब्राह्मण अपनी शक्ति पहचाने और एकजुट होकर कार्य करे :

1) जम्मू कश्मीर : 2 लाख + 4 लाख विस्थापित
2) पंजाब : 9 लाख ब्राह्मण
3) हरयाणा : 14 लाख ब्राह्मण
4) राजस्थान : 78 लाख ब्राह्मण
5) गुजरात : 60 लाख ब्राह्मण
6) महाराष्ट्र : 45 लाख ब्राह्मण
7) गोवा : 5 लाख ब्राह्मण
8) कर्णाटक : 45 लाख ब्राह्मण
9) केरल : 12 लाख ब्राह्मण
10) तमिलनाडु : 36 लाख ब्राह्मण
11) आँध्रप्रदेश : 24 लाख ब्राह्मण
12) छत्तीसगढ़ : 24 लाख ब्राह्मण
13) ओद्दिस : 37 लाख ब्राह्मण
14) झारखण्ड : 12 लाख ब्राह्मण
15) बिहार : 90 लाख ब्राह्मण
16) पश्चिम बंगाल : 18 लाख ब्राह्मण
17) मध्य प्रदेश : 42 लाख ब्राह्मण
18) उत्तर प्रदेश : 2 करोड़ ब्राह्मण
19) उत्तराखंड : 20 लाख ब्राह्मण
20) हिमाचल : 45 लाख ब्राह्मण
21) सिक्किम : 1 लाख ब्राह्मण
22) आसाम : 10 लाख ब्राह्मण
23) मिजोरम : 1.5 लाख ब्राह्मण
24) अरुणाचल : 1 लाख ब्राह्मण
25) नागालैंड : 2 लाख ब्राह्मण
26) मणिपुर : 7 लाख ब्राह्मण
27) मेघालय : 9 लाख ब्राह्मण
28) त्रिपुरा : 2 लाख ब्राह्मण

सबसे ज्यादा ब्राह्मण वाला राज्य: उत्तर प्रदेश

सबसे कम ब्राह्मण वाला राज्य : सिक्किम

सबसे ज्यादा ब्राह्मण राजनेतिक वर्चस्व : पश्चिम बंगाल

सबसे ज्यादा %ब्राह्मण वाला राज्य : उत्तराखंड में जनसँख्या के 20 % ब्राह्मण

अत्यधिक साक्षर ब्राह्मण राज्य :
केरल और हिमाचल

सबसे ज्यादा अच्छी आर्थिक स्तिथि में ब्राह्मण : आसाम

सबसे ज्यादा ब्राह्मण मुख्यमंत्री वाला राज्य : राजस्थान

सबसे ज्यादा ब्राह्मण विधायक वाला राज्य : उत्तर प्रदेश
--------------------

भारत लोकसभा में ब्राह्मण :
48 %
भारत राज्यसभा में ब्राह्मण : 36 %
भारत में ब्राह्मण राज्यपाल : 50 %
भारत में ब्राह्मण कैबिनेट सचिव : 33 %
भारत में मंत्री सचिव में ब्राह्मण : 54%
भारत में अतिरिक्त सचिव ब्राह्मण : 62%
भारत में पर्सनल सचिव ब्राह्मण : 70%
यूनिवर्सिटी में ब्राह्मण वाईस चांसलर : 51%
सुप्रीम कोर्ट में ब्राह्मण जज: 56%
हाई कोर्ट में ब्राह्मण जज :
40 %
भारतीय राजदूत ब्राह्मण : 41%
पब्लिक अंडरटेकिंग ब्राह्मण :
केंद्रीय : 57%
राज्य : 82 %

बैंक में ब्राह्मण : 57 %
एयरलाइन्स में ब्राह्मण : 61%
IAS ब्राह्मण : 72%
IPS ब्राह्मण : 61%
टीवी कलाकार एव बॉलीवुड : 83%
CBI Custom ब्राह्मण 72%

कुछ बात तो है कि हस्ती मिटती नही हमारी ।

मिट गये हमे मिटाने वाले

इस संदेश को इतना फैलाओ कि हर ब्राह्मण के मोबाईल मे पहुँचे .... जय हो

ब्रम्हाशक्ति विजयते
*जय हिन्दू राष्ट्र*🙏🏻

Post has shared content
अमेरिका से आयी बंगाल के बारे में ऐसी खौफनाक रिपोर्ट, जिसने पूरी दुनिया में तहलका मचा दिया है। कभी भारतीय संस्कृति का प्रतीक माने जाने वाले बंगाल की दशा आज क्या हो चुकी है, ये बात तो किसी से छिपी नहीं है. हिन्दुओं के खिलाफ साम्प्रदायिक दंगे तो पिछले काफी वक़्त से होना शुरू हो चुके हैं और अब तो हालात ये हो चुके हैं कि त्यौहार मनाने तक पर रोक लगाई जानी शुरू हो गयी है. मगर बंगाल पर मशहूर अमेरिकी पत्रकार जेनेट लेवी ने अब जो लेख लिखा है और उसमे जो खुलासे किये हैं, उन्हें देख आपके पैरों तले जमीन खिसक जायेगी.

 

जेनेट लेवी का दावा – बंगाल जल्द बनेगा एक अलग इस्लामिक देश


जेनेट लेवी ने अपने ताजा लेख में दावा किया है कि कश्मीर के बाद बंगाल में जल्द ही गृहयुद्ध शुरू होने वाला है, जिसमे बड़े पैमाने पर हिन्दुओं का कत्लेआम करके मुगलिस्तान नाम से एक अलग देश की मांग की जायेगी. यानी भारत का एक और विभाजन होगा और वो भी तलवार के दम पर और बंगाल की वोटबैंक की भूखी ममता बनर्जी की सहमति से होगा सब कुछ.

जेनेट लेवी ने अपने लेख में इस दावे के पक्ष में कई तथ्य पेश किए हैं. उन्होंने लिखा है कि “बंटवारे के वक्त भारत के हिस्से वाले पश्चिमी बंगाल में मुसलमानों की आबादी 12 फीसदी से कुछ ज्यादा थी, जबकि पाकिस्तान के हिस्से में गए पूर्वी बंगाल में हिंदुओं की आबादी 30 फीसदी थी. आज पश्चिम बंगाल में मुसलमानों की जनसंख्या बढ़कर 27 फीसदी हो चुकी है. कुछ जिलों में तो ये 63 फीसदी तक हो गई है. वहीँ दूसरी ओर बांग्लादेश में हिंदू 30 फीसदी से घटकर केवल 8 फीसदी ही बचे हैं.”

आप यहाँ जेनेट का पूरा लेख खुद भी पढ़ सकते हैं. http://www.americanthinker.com/articles/2015/02/the_muslim_takeover_of_west_bengal.html

बढ़ती हुई मुस्लिम आबादी को ठहराया जिम्मेदार
बता दें कि जेनेट ने ये लेख ‘अमेरिकन थिंकर’ मैगजीन में लिखा है. ये लेख एक चेतावनी के तौर पर उन देशों के लिए लिखा गया है, जो मुस्लिम शरणार्थियों के लिए अपने दरवाजे खोल रहे हैं. जेनेट लेवी ने बेहद सनसनीखेज दावा करते हुए लिखा है कि किसी भी समाज में मुस्लिमों की 27 फीसदी आबादी काफी है कि वो उस जगह को अलग इस्लामी देश बनाने की मांग शुरू कर दें.



उन्होंने दावा किया है कि मुस्लिम संगठित होकर रहते हैं और 27 फीसदी आबादी होते ही इस्लामिक क़ानून शरिया की मांग करते हुए अलग देश बनाने तक की मांग करने लगते हैं. पश्चिम बंगाल का उदाहरण देते हुए उन्होंने लिखा है कि ममता बनर्जी के लगातार हर चुनाव जीतने का कारण वहां के मुस्लिम ही हैं. बदले में ममता मुस्लिमों को खुश करने वाली नीतियां बनाती है.

सऊदी से आने वाले पैसे से चल रहा जिहादी खेल?
जल्द ही बंगाल में एक अलग इस्लामिक देश बनाने की मांग उठने जा रही है और इसमें कोई संदेह नहीं कि सत्ता की भूखी ममता इसे मान भी जाए. उन्होंने अपने इस दावे के लिए तथ्य पेश करते हुए लिखा कि ममता ने सऊदी अरब से फंड पाने वाले 10 हजार से ज्यादा मदरसों को मान्यता देकर वहां की डिग्री को सरकारी नौकरी के काबिल बना दिया है. सऊदी से पैसा आता है और उन मदरसों में वहाबी कट्टरता की शिक्षा दी जाती है.

ममता ने शुरू किया इस्लामिक शहर बसाने का प्रोजेक्ट?
गैर मजहबी लोगों से नफरत करना सिखाया जाता है. उन्होंने लिखा कि ममता ने मस्जिदों के इमामों के लिए तरह-तरह के वजीफे भी घोषित किए हैं, मगर हिन्दुओं के लिए ऐसे कोई वजीफे नहीं घोषित किये गए. इसके अलावा उन्होंने लिखा कि ममता ने तो बंगाल में बाकायदा एक इस्लामिक शहर बसाने का प्रोजेक्ट भी शुरू किया है.

पूरे बंगाल में मुस्लिम मेडिकल, टेक्निकल और नर्सिंग स्कूल खोले जा रहे हैं, जिनमें मुस्लिम छात्रों को सस्ती शिक्षा मिलेगी. इसके अलावा कई ऐसे अस्पताल बन रहे हैं, जिनमें सिर्फ मुसलमानों का इलाज होगा. मुसलमान नौजवानों को मुफ्त साइकिल से लेकर लैपटॉप तक बांटने की स्कीमें चल रही हैं. इस बात का पूरा ख्याल रखा जा रहा है कि लैपटॉप केवल मुस्लिम लड़कों को ही मिले, मुस्लिम लड़कियों को नहीं.

जेनेट ने मुस्लिमों को आतंकवाद का दोषी ठहराया
जेनेट लेवी ने लिखा है कि बंगाल में बेहद गरीबी में जी रहे लाखों हिंदू परिवारों को ऐसी किसी योजना का फायदा नहीं दिया जाता. जेनेट लेवी ने दुनिया भर की ऐसी कई मिसालें दी हैं, जहां मुस्लिम आबादी बढ़ने के साथ ही आतंकवाद, धार्मिक कट्टरता और अपराध के मामले बढ़ने लगे.

 

आबादी बढ़ने के साथ ऐसी जगहों पर पहले अलग शरिया क़ानून की मांग की जाती है और फिर आखिर में ये अलग देश की मांग तक पहुंच जाती है. जेनेट ने अपने लेख में इस समस्या के लिए इस्लाम को ही जिम्मेदार ठहरा दिया है. उन्होंने लिखा है कि कुरान में यह संदेश खुलकर दिया गया है कि दुनिया भर में इस्लामिक राज स्थापित हो.

तस्लीमा नसरीन का उदाहरण किया पेश
जेनेट ने लिखा है कि हर जगह इस्लाम जबरन धर्म-परिवर्तन या गैर-मुसलमानों की हत्याएं करवाकर फैला है. अपने लेख में बंगाल के हालातों के बारे में उन्होंने लिखा है. बंगाल में हुए दंगों का जिक्र करते हुए उन्होंने लिखा है कि 2007 में कोलकाता में बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन के खिलाफ दंगे भड़क उठे थे. ये पहली कोशिश थी जिसमे बंगाल में मुस्लिम संगठनों ने इस्लामी ईशनिंदा (ब्लासफैमी) कानून की मांग शुरू कर दी थी.

भारत की धर्म निरपेक्षता पर उठाये सवाल
1993 में तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर हो रहे अत्याचारों और उनको जबरन मुसलमान बनाने के मुद्दे पर किताब ‘लज्जा’ लिखी थी. किताब लिखने के बाद उन्हें कट्टरपंथियों के डर से बांग्लादेश छोड़ना पड़ा था. वो कोलकाता में ये सोच कर बस गयी थी कि वहां वो सुरक्षित रहेंगी क्योंकि भारत तो एक धर्मनिरपेक्ष देश है और वहां विचारों को रखने की स्वतंत्रता भी है.

मगर हैरानी की बात है कि धर्म निरपेक्ष देश भारत में भी मुस्लिमों ने तस्लीमा नसरीन को नफरत की नजर से देखा. भारत में उनका गला काटने तक के फतवे जारी किए गए. देश के अलग-अलग शहरों में कई बार उन पर हमले भी हुए. मगर वोटबैंक के भूखी वामपंथी और तृणमूल की सरकारों ने कभी उनका साथ नहीं दिया. क्योंकि ऐसा करने पर मुस्लिम नाराज हो जाते और वोटबैंक चला जाता.

बंगाल में हो रही है ‘मुगलिस्तान’ देश की मांग
जेनेट लेवी ने आगे लिखा है कि 2013 में पहली बार बंगाल के कुछ कट्टरपंथी मौलानाओं ने अलग ‘मुगलिस्तान’ की मांग शुरू कर दी. इसी साल बंगाल में हुए दंगों में सैकड़ों हिंदुओं के घर और दुकानें लूट लिए गए और कई मंदिरों को भी तोड़ दिया गया. इन दंगों में सरकार द्वारा पुलिस को आदेश दिये गए कि वो दंगाइयों के खिलाफ कुछ ना करें.

हिन्दुओं का बहिष्कार किया जाता है?
ममता को डर था कि मुसलमानों को रोका गया तो वो नाराज हो जाएंगे और वोट नहीं देंगे. लेख में बताया गया है कि केवल दंगे ही नहीं बल्कि हिन्दुओं को भगाने के लिए जिन जिलों में मुसलमानों की संख्या ज्यादा है, वहां के मुसलमान हिंदू कारोबारियों का बायकॉट करते हैं. मालदा, मुर्शिदाबाद और उत्तरी दिनाजपुर जिलों में मुसलमान हिंदुओं की दुकानों से सामान तक नहीं खरीदते.

यही वजह है कि वहां से बड़ी संख्या में हिंदुओं का पलायन होना शुरू हो चुका है. कश्मीरी पंडितों की ही तरह यहाँ भी हिन्दुओं को अपने घरों और कारोबार छोड़कर दूसरी जगहों पर जाना पड़ रहा है. ये वो जिले हैं जहां हिंदू अल्पसंख्यक हो चुके हैं.

आतंक समर्थकों को संसद भेज रही ममता
इसके आगे जेनेट ने लिखा है कि ममता ने अब बाकायदा आतंकवाद समर्थकों को संसद में भेजना तक शुरू कर दिया है. जून 2014 में ममता बनर्जी ने अहमद हसन इमरान नाम के एक कुख्यात जिहादी को अपनी पार्टी के टिकट पर राज्यसभा सांसद बनाकर भेजा. हसन इमरान प्रतिबंधित आतंकी संगठन सिमी का सह-संस्थापक रहा है.

हसन इमरान पर आरोप है कि उसने शारदा चिटफंड घोटाले का पैसा बांग्लादेश के जिहादी संगठन जमात-ए-इस्लामी तक पहुंचाया, ताकि वो बांग्लादेश में दंगे भड़का सके. हसन इमरान के खिलाफ एनआईए और सीबीआई की जांच भी चल रही है.

लोकल इंटेलिजेंस यूनिट (एलआईयू) की रिपोर्ट के मुताबिक कई दंगों और आतंकवादियों को शरण देने में हसन का हाथ रहा है. उसके पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से रिश्ते होने के आरोप लगते रहे हैं. जेनेट के मुताबिक़ बंगाल का भारत से विभाजन करने की मांग अब जल्द ही उठने लगेगी. इस लेख के जरिये जेनेट ने उन पश्चिमी देशों को चेतावनी दी है, जो मुस्लिम शरणार्थियों को अपने यहाँ बसा रहे हैं, कि जल्द ही उन्हें भी इसी सब का सामना करना पडेगा.

Post has shared content
Photo
Photo
08/06/2018
2 Photos - View album

The Crusades have finally started as predicted!
=======================
The  first countries to ban Islam: See how the world is acting fast on the  threat posed by Islam and its barbaric Sharia Law.

Japan has  always refused Muslims to live permanently in their country and they  cannot own any real estate or any type of business, and have banned any  worship of Islam. Any Muslim tourist caught spreading the word of Islam will be deported immediately, including all family members.

Cuba rejects plans for first mosque.

The African nation of Angola and several other nations have officially banned Islam.

Record number of Muslims,  (over 2,000)  deported from Norway as a way of fighting crime.  Since these Muslim criminals have been deported, crime has dropped by a  staggering 72%. Prison Officials are reporting that nearly half of their jail cells are now vacant, Courtrooms nearly empty, Police now  free to attend to other matters, mainly traffic
offenses to keep their  roads and highways safe and assisting the public in as many ways as  they can.

In Germany alone in the last year there were 81  violent attacks targeting mosques.

Austrian police arrested 13 men targeting suspected jihad recruiters.

A Chinese court sends 22 Muslim Imams to jail  for 16 to 20 years for spreading Islam hatred and have executed eighteen Jihadists;  China
campaigns against Separatism (disallowing  Islamist to have  their own
separate state). Muslim prayers banned in government  buildings and
schools in Xinjiang (Western China). Hundreds of Muslim families prepared to leave China for their own safety and return back to their
own Middle Eastern countries.

Muslim refugees  beginning to realize that they are not welcome in Christian countries  because of their violent ways and the continuing wars in Syria and Iraq whipped up by the hideous IS who are murdering young children and using  mothers and daughters as sex slaves.

British Home Secretary  prepares to introduce 'Anti-social Behavior Order' for extremists and  strip dual nationals of their Citizenship. Deportation laws also being prepared.

The Czech Republic blatantly refuses Islam in their  country, regarding it as evil.

Alabama - A new controversial amendment that will ban the recognition
of "foreign laws which would  include Sharia law".

The Polish Defense League issues a warning  to Muslims. 16 States have
all Introduced Legislation to Ban Sharia Law.

Many Muslims in Northern Ireland have announced  plans to leave the country to avoid anti-Islamic violence by Irish  locals. The
Announcement comes after an attack on groups of Muslims in  the city of Belfast, Groups of Irish locals went berserk and bashed  teenage Muslim gangs who were referring to young Irish girls as sluts  and should be all gang raped, according to Islam and ''Sharia  Law''. Even
hospital staff were reluctant to treat the battered Muslim Patients, the majority were given the Band-Aid treatment and  sent home with staff muttering ''Good Riddance''.

North  Carolina bans Islamic "Sharia Law" in the State, regarding it now as a  criminal offence.

Dutch MP's call for removal of all mosques in  the Netherlands. One
Member of the Dutch Parliament said: "We want to clean Netherlands of
Islam".  Dutch MP Machiel De Graaf spoke on  behalf of the Party for Freedom when he said, "All mosques in the  Netherlands should be shut
down. Without Islam, the Netherlands would  be a wonderful safe country to live in, as it was before the arrival of  Muslim refugees''.

Please share this with your friends if you agree.

Post has attachment
This is true face of CONGRESS

Zameer Ahmed karnataka cong candidate promises unending bloodshed of Hindus if Congress is voted to power and when he becomes minister.

See these people' ready to kill Hindus...

Please go to the booth and vote out these criminals

Post has attachment
इस वीडियो की अनदेखी करना खुद को धोखा देना है, ये बहुत ही कड़वी मगर ज़रूरी सच्चाई है ये वीडियो अगर नहीं देखा तो ज़िन्दगी की सबसे बड़ी सच्चाई नहीं देखी, अगर देश को फिर से गुलाम होने से बचाना है तो भारत देश का हर एक नागरिक कम से कम इस वीडियो को 100 लोगो को शेयर करें 🇮🇳👇🏻

Post has attachment

Post has attachment
Photo

Want to know about tomarrow 24 Nov for leo

Post has attachment
Book #Pujari with #PujaMaterials Online. #PujaServices at your Home or Office in #Bengaluru.

MakeMyPuja offers you convenient online Puja #Booking! Book online at the best Rate.

Like our page https://www.facebook.com/makemypuja/ for latest updates on Puja's.
Wait while more posts are being loaded