Post is pinned.Post has attachment
सेकुलर खतना धारियों का नाजायज बाप मुल्ला गांधी 
गांधी से जुडे कुछ सच जिसे इतिहास
मे नही पढाया गया।

नाथूराम विनायक गोडसे अपने अन्तिम
शब्दों में "नाथूराम विनायक गोडसे" ने
कहा था: "यदि अपने देश और धर्म के
प्रति भक्तिभाव रखना कोई पाप है तो मैंने वह
पाप किया है और यदि यह पुण्य है तो उसके
द्वारा अर्जित पुण्य पद पर मैं अपना नम्र
अधिकार व्यक्त करता हूँ"

गांन्धी-वध के मुकद्दमें के दौरान
न्यायमूर्ति खोसला से नाथूराम ने
अपना वक्तव्य स्वयं पढ़कर सुनाने
की अनुमति माँगी थी और उसे यह
अनुमति मिली थी।

नाथूराम गोडसे का यह
न्यायालयीन वक्तव्य भारत सरकार
द्वारा प्रतिबन्धित कर दिया गया था।

इसप्रतिबन्ध के विरुद्ध नाथूराम गोडसे के भाई
तथा गांन्धी-वध के सह-अभियुक्त गोपाल
गोडसे ने ६०वर्षों तक वैधानिक लडाई
लड़ी और उसके फलस्वरूप सर्वोच्च न्यायालय ने
इस प्रतिबन्ध को हटा लिया तथा उस वक्तव्य
के प्रकाशन की अनुमति दी।

नाथूराम गोडसे ने
न्यायालय के समक्ष गान्धी-वध के
जो 150 कारण बताये थे उनमें से प्रमुख 15 कारण
निम्नलिखित हैं: -
गान्धी ने अनेक अवसरों पर शिवाजी,
महाराणा प्रताप व गुरू गोबिन्द सिंह
को पथभ्रष्ट देशभक्त कहा।
कांग्रेस के त्रिपुरा अधिवेशन में
नेताजी सुभाष चन्द्र बोस को बहुमत से कॉंग्रेस
अध्यक्ष चुन लिया गया किन्तु
गान्धी पट्टाभि सीतारमय्या का समर्थन
कर रहे थे, अत: सुभाष बाबू ने निरन्तर विरोध व
असहयोग के कारण पद त्याग दिया।लाहौर कांग्रेस में वल्लभभाई पटेलका बहुमत से चुनाव सम्पन्न हुआ किन्तुगान्धी की जिद के कारण यह पद जवाहरलालनेहरु को दिया गया।
14-15 1947 जून को दिल्ली में आयोजित
अखिल भारतीय कांग्रेस समिति की बैठक में
भारत विभाजन का प्रस्ताव अस्वीकृत होने
वाला था, किन्तु गान्धी ने वहाँ पहुँच कर
प्रस्ताव का समर्थन करवाया। यह भी तब
जबकि उन्होंने स्वयं ही यह कहा था कि देश
का विभाजन उनकी लाश पर होगा।
जवाहरलाल की अध्यक्षता में मन्त्रिमंडल ने
सोमनाथ मन्दिर का सरकारी व्यय पर
पुनर्निर्माण का प्रस्ताव पारित किया,
किन्तु गान्धी जो कि मन्त्रीमण्डल के सदस्य
भी नहीं थे; ने सोमनाथ मन्दिर पर
सरकारी व्यय के प्रस्ताव को निरस्त
करवाया और 13 जनवरी 1948 को आमरण अनशन
के माध्यम से सरकार पर
दिल्ली की मस्जिदों का सरकारी खर्चे से
पुनर्निर्माण कराने के लिए दबाव डाला।
पाकिस्तान से आये विस्थापित हिन्दुओं
ने दिल्ली की खाली मस्जिदों में जब अस्थाई
शरण ली तो गान्धी ने उन उजड़े हिन्दुओं
को जिनमें वृद्ध, स्त्रियाँ व बालक अधिक थे
मस्जिदों से खदेड़ बाहर ठिठुरते शीत में रात
बिताने पर मजबूर किया गया।
22 अक्तूबर 1947 को पाकिस्तान ने कश्मीर
पर आक्रमण कर दिया, उससे पूर्व माउण्टबैटन ने
भारत सरकार से पाकिस्तान सरकार को 55
करोड़ रुपये की राशि देने का परामर्श
दिया था। केन्द्रीय मन्त्रिमण्डल ने आक्रमण के
दृष्टिगत यह राशि देने को टालने का निर्णय
लिया किन्तु गान्धी ने उसी समय यह
राशि तुरन्त दिलवाने के लिए आमरण अनशन शुरू
कर दिया जिसके परिणामस्वरूप यह
राशि पाकिस्तान कोष भारत के हितों के
विपरीत दे दी गयी।
गाँधी अहिंसा अपनाने को तो कहते थे पर
सिर्फ हिन्दुओ से उनके इन्ही दोहरे मापदंडो के
कारन दुखी होकर "नाथूराम विनायक गोडसे"
ने उनकी हिंसात्मक मृत्यु कर दी।
Photo

Post has attachment

Post has attachment
नौकरी (job) करने वाले दोस्त कृपया जरूर पढ़ें :-

भारत में लगभग 70% लोग ऐसे हैँ जो 10 से 15000/= की नौकरी करते हैं उनके बॉस या मालिक उनसे 8 से 12 घंटे की कड़ी मेहनत करवाते हैं तब जाकर उन्हें पगार (salary) देते हैं उस पैसे से वे लोग अपने घर का खर्च भी ठीक से नहीं चला पाते दोस्तों मै भी ऐसा ही था सोचता रहता था काश कोई ऐसा काम मिल जाये जिससे मेरे परिवार की सभी जरूरतें पूरी हो जाएं और मुझे जॉब भी ना छोड़नी पड़े आखिर भगवान की कृपा से वो काम मुझे मिल ही गया 3 महीने मैंने इस कंपनी में जैसे मुझे बताया गया वैसे करता गया अब मुझे यहाँ से 10000 रूपये महीना मिल रहे है और यहाँ किसी की गुलामी (नौकरी) नहीं करनी केवल दिन में 2 घंटे अपने android मोबाइल से (घर या ऑफिस कही भी बैठकर) वर्क करना होता है बस और हर महीने income दुगुनी होती जा रही है ।

दोस्तों आपको भी ये बिज़नेस करना है तो संपर्क करे:-
https://play.google.com/store/apps/details?id=com.coolebiz
And Use My Refer Code: 266967990202


नोट :- कृपया वे ही लोग संपर्क करें जिनके पास android मोबाइल हो और फेसबुक तथा whatsapp ठीक से use करना जानते हों


तथा Refer code डालने से मुझे आपका whatsaap नम्बर मिल जायेगा ता की आपको डेटेल से बता सकू

धन्यवाद


Refer ID of Sponsor : 266967990202
Photo

Post has attachment
【 Coolebiz 】*Coolebiz App से घर बैठे 25 हजार से 1 लाख रूपये महिना आराम से कमा सकते हो वो भी Life-Time के लिये ।।इतना ही नही यदि आप 500 लोगो को जोइन करा लेते हो तो Company की ओर से ( 5 - लाख ) रूपये बोनस के रूपमें मिलेगा इसमे हमे 10 लेबल तक पैसे मिलता है साथ ही"*भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त कंपनी है*चाहे तो Google में सर्च कर देख सकते हो इसमें का पैसा सीधे Benkमें Withdralकर सकते हो
प्रश्न (1) सबसे पहले आपके मन में ये आ रहा होगा कि भले कोई App हमें पैसा क्यू देगा**
उत्तर - जी हा coolebiz देता है कई कंपनिया Coolebiz को ADS (विज्ञापन) देती है ये हमे उन्ही App को Life में एकबार Download करने को कहते है और उन्ही के पैसे देता हैप्रश्न (2) Coolebiz App क्या है इसमे हमें पैसा कमाने के लिये क्या करना पढ़ेगा ।
उत्तर - यह एक Mobile App है जिसका पुरा नाम COOLEBIZ SPL है यह भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त कंपनी है ।।**
(3) इसमें आपको पैसा कमाने के लियेआप सबसे पहले अपने मोबाईल के play store में जाकर Coolebiz सर्च करे और Coolebiz को install कर ले ।या याहा क्लिक कर Download करेक्लिक Download फिर ओपन करेhttps://play.google.com/store/apps/details?id=com.coolebiz*_
(4) अपना Name, E-mail,Birth,Details sponsoreभरे_*
(5) Refer ID **```266967990202```डालेया
कही Refer ID ```266967990202``` को कापी में लिख लेना कि Acountबनाते समये न भूले ।*
(6) अब वाहा पर process पर क्लिक करे फिर Agree पर क्लिक करे ।**
(7) याहा पर आपको Task के रूप में दिये गये App को Download करनी है कम से कम 10App को ये App कोई जादा MB का नही होगा ।यदि आप इन App को Download नही करोगे तो 40 रू. बोनस पैसे नही मिलेंगेऔर I.D. Unlock नही होगी Life में केवल एक बार ही TaskComplit करना पड़ेगा । चाहे इसे आप 1 घंटे में करे या 1 दिन में ओ आपके ऊपर है**_
(8) जैसे ही Teskcomplite करोगे I.D. Unlock तुरंत हो जायेगा और इस प्रकार menu ओपन हो जायेगा आपका ID (Right side) में लिखा होगा इन्हे याद करले या कही पर लिख लेफिर अपने दोस्तो को अपने I.D. के द्वारा जोडे चाहे तो आप Facebook ,WhatsappBlutooth या Xenderसे कर सकते हो बस सर्ते ओपन कराकर SponsoreCod अपना डलवा ले। और Task पूरा कराये यदि आप इस Coolebiz App में सिर्फ 5 लोगो को जोइन करा लेते हो तोआप कुछ इस तरह कमा सकते हो मैने सिर्फ 5 लोग बस बोला चाहे तो आप Unlimited लोगो को जोइन करा सकते हो ये तो एक सिम्पल रेंज है*For Example आपकी income इसप्रकार होगी :*level - टीम ₹(Rs)**Total```
1. 5 - 12 - 60
2.- 25 - 8 - 200
3.- 125 - 4 - 500
4.- 625 - 4 - 2500
5.- 3125 - 2 - 6250
6.- 15625 - 2 - 31250
7.- 78125 - 2 - 156250
8.- 390625 - 2 - 781250
9.- 1953125 - 2 - 3906250
10.-9765625 - 2 - 19531250*🔷Total income=Rs ``24415760```सोच लो अगर 5% भी success बन गये तोभी Rs 24415760``` मिलेगा वो भी बिनाकुछ लगाये**दोस्तो आप से निवेदन है Refer ID मांगे तो ``266967990202``` _ *_डाले या इसे कही कापी पे लिख ले
Photo

Post has shared content
Krishna Bhajan - श्याम चूडी बेचने आया (Shyam chudi Bhechne Aya)
http://buff.ly/2pNHWyj

Listen to Krishna Without waiting on Bhajan App: http://buff.ly/2pNt0QW

#krishna #shreekrishan #isskon
Photo

Post has attachment

आज नाथुराम गोडसे की जन्म तिथि है !

वर्षों बाद किसी एक कवि ने दबे सच को फिर से उजागर करने की कोशिश की है !

आप सभी साहित्य प्रेमी पाठकों के लिए कवि की मूल कविता नीचे विस्तार से लिखी गयी है !

ये कविता आज सुबह से सोशल मीडिया पर भारी संख्या में share की जा रही हैं
पूजा अग्रवाल
🙏🙏🇮🇳🙏🙏
_____________________

माना गांधी ने कष्ट सहे थे ,
अपनी पूरी निष्ठा से ।
और भारत प्रख्यात हुआ है,
उनकी अमर प्रतिष्ठा से ॥

किन्तु अहिंसा सत्य कभी,
अपनों पर ही ठन जाता है ।
घी और शहद अमृत हैं पर ,
मिलकर के विष बन जाता है।

अपने सारे निर्णय हम पर,
थोप रहे थे गांधी जी ।
तुष्टिकरण के खूनी खंजर,
घोंप रहे थे गांधी जी ॥

महाक्रांति का हर नायक तो,
उनके लिए खिलौना था ।
उनके हठ के आगे,
जम्बूदीप भी बौना था ॥

इसीलिये भारत अखण्ड,
अखण्ड भारत का दौर गया ।
भारत से पंजाब, सिंध,
रावलपिंडी,लाहौर गया ॥

तब जाकर के सफल हुए,
जालिम जिन्ना के मंसूबे ।
गांधी जी अपनी जिद में ,
पूरे भारत को ले डूबे ॥

भारत के इतिहासकार,
थे चाटुकार दरबारों में ।
अपना सब कुछ बेच चुके थे,
नेहरू के परिवारों में ॥

भारत का सच लिख पाना,
था उनके बस की बात नहीं ।
वैसे भी सूरज को लिख पाना,
जुगनू की औकात नहीं ॥

आजादी का श्रेय नहीं है,
गांधी के आंदोलन को ।
इन यज्ञों का हव्य बनाया,
शेखर ने पिस्टल गन को ॥

जो जिन्ना जैसे राक्षस से,
मिलने जुलने जाते थे ।
जिनके कपड़े लन्दन, पेरिस,
दुबई में धुलने जाते थे ॥

कायरता का नशा दिया है,
गांधी के पैमाने ने ।
भारत को बर्बाद किया,
नेहरू के राजघराने ने ॥

हिन्दू अरमानों की जलती,
एक चिता थे गांधी जी ।
कौरव का साथ निभाने वाले,
भीष्म पिता थे गांधी जी ॥

अपनी शर्तों पर इरविन तक,
को भी झुकवा सकते थे ।
भगत सिंह की फांसी को,
दो पल में रुकवा सकते थे ।।

मन्दिर में पढ़कर कुरान,
वो विश्व विजेता बने रहे ।
ऐसा करके मुस्लिम जन,
मानस के नेता बने रहे ॥

एक नवल गौरव गढ़ने की,
हिम्मत तो करते बापू ।
मस्जिद में गीता पढ़ने की,
हिम्मत तो करते बापू ॥

रेलों में, हिन्दू काट-काट कर,
भेज रहे थे पाकिस्तानी ।
टोपी के लिए दुखी थे वे,
पर चोटी की एक नहीं मानी ॥

मानों फूलों के प्रति ममता,
खतम हो गई माली में ।
गांधी जी दंगों में बैठे थे,
छिपकर नोवा खाली में ॥

तीन दिवस में श्री राम का,
धीरज संयम टूट गया ।
सौवीं गाली सुन, कान्हा का
चक्र हाथ से छूट गया ॥

गांधी जी की पाक, परस्ती पर
जब भारत लाचार हुआ ।
तब जाकर नाथू,
बापू वध को मज़बूर हुआ ॥

गये सभा में गांधी जी,
करने अंतिम प्रणाम ।
ऐसी गोली मारी गांधी को,
याद आ गए श्री राम ॥

मूक अहिंसा के कारण ही
भारत का आँचल फट जाता ।
गांधी जीवित होते तो
फिर देश, दुबारा बंट जाता ॥

थक गए हैं हम प्रखर सत्य की
अर्थी को ढोते ढोते ।
कितना अच्छा होता जो
नेता जी राष्ट्रपिता होते ॥

नाथू को फाँसी लटकाकर
गांधी जो को न्याय मिला ।
और मेरी भारत माँ को
बंटवारे का अध्याय मिला ॥

लेकिन जब भी कोई भीष्म
कौरव का साथ निभाएगा ।
तब तब कोई अर्जुन रण में
उन पर तीर चलाएगा ॥

अगर गोडसे की गोली
उतरी ना होती सीने में ।
तो हर हिन्दू पढ़ता नमाज ,
फिर मक्का और मदीने में ॥

भारत की बिखरी भूमि
अब तलक समाहित नहीं हुई ।
नाथू की रखी अस्थि
अब तलक प्रवाहित नहीं हुई ॥

इससे पहले अस्थिकलश को
सिंधु सागर की लहरें सींचे ।
पूरा पाक समाहित कर लो
इस भगवा झंडे के नीचें ॥
_____________________

(भारत के इस सत्य इतिहास को प्रसारित करने के लिए शेयर अवश्य करें)



Post has shared content

Post has attachment

Post has attachment
जयपुर : राजस्थान #पुलिस ने एक ऐसे #सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है, जो रईसजादों को खूबसूरत #महिलाओं के जाल में फंसाकर उनसे मोटी रकम ऐंठता था । इस रैकेट में एक 26 साल की एनआरआई #महिला भी शामिल है । वहीं #सेक्स #रैकेट में #पुलिस अधिकारी, #पत्रकार और #वकील भी #शामिल हैं । सेक्स रैकेट के खुलासे के बाद कई पीड़ित रईसजादे अपनी शिकायत लेकर पुलिस के पास पहुंचे ।

🚩सेक्स रैकेट और ब्लैकमेलिंग का ऐसा गिरोह, जिसके काम करने के तरीके सुनने के बाद #लोगों के लिए यकीन करना मुश्किल है कि यह कोई सेक्स रैकेट है या फिर कोई इंडस्ट्री । इस रैकेट में हर तरह के पेशे से जुड़े लोगों को अलग-अलग काम बांटे गए थे । रैकेट की पहली कड़ी लड़कियां होती थी । दरअसल #गिरफ्त में आई #एनआरआई महिला रवनीत कौर उर्फ रूबी शर्मा और देहरादून की रहने वाली कल्पना इस रैकेट की धोखेबाज हसीनाएं थी।
Wait while more posts are being loaded