Post has attachment
ना यूँ ही कोई राणा बना।
ना यूँ ही कोई राजपूत बना,
कुछ तो था उनकी भुजाऑ में ,
वो तभी धरा सम्राट
बना ।
रण मेँ जिनकी हुँकार से,
महाकाल भी घबराता है।.
वो ही अवतार इस दुनिय़ाँ मेँ आकर
राजपूत
कहलाता है .....
जय माताजी..
जय राजपूताना..
Photo
Wait while more posts are being loaded