माना की तुम लफ़्ज़ों के बादशाह हो..
मगर हम भी खामोशियों पर राज़ करते हैं..

Post has attachment
Photo
Wait while more posts are being loaded