Post is pinned.Post has attachment
jai bheem ke 14-04-2016 ke utsav

Post has attachment
joint function 2016 in Mhow
Photo

Post has attachment
Photo

Post has attachment
babasaheb Dr. B.R. Ambedkar janam sathaan Mhow 2016 Function

Post has attachment
Free advice your all critical problems
marriage - business - foreign tour-job
film carrier - love marriage - education
health problems-paranormal activity
and any house problems
solve by astrology & tantra
astrologer pashaji
mumbai-delhi-meerut-dehradun
ph.08755574773 - 09320576423
Photo

Post has attachment
Photo

Post has shared content
aal frds
ASSALAAM O ALAIYKUM🌹
WARAHMATULLAHI 🌹
WA BARKATUHU 🌹
GOOD MORNING ALL OF U FRIENDS🌹
Photo

Desh ki aarashan ke naam par sajis ho hai Hume bhe ek hone ki jarurat ki aaj nahi sanjhe to gulami ka jeevan jeena padega चंडीगढ़- हरियाणा में जाट आरक्षण की मांग को लेकर भड़का आंदोलन हिंसक होने से दिल्ली-रोहतक बाइपास के पास हालात को काबू करने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी। इसमें एक शख्स की मौत हो गई जबकि 9 लोग घायल हो गए। वहीँ हरियाणा के डीजीपी के मुताबिक, रोहतक में प्रदर्शनकारियों ने सर्किट हाउस में आग लगा दी है। प्रदेश के आठ जिलों में सेना बुलाई गई है।

दरअसल, रोहतक में उग्र भीड़ ने हरियाणा के वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्‍यु के घर पर हमला बोल दिया और वहां तोड़फोड़ कर आग लगाने की कोशिश की गई। कैप्टन के घर पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। इससे पहले रोहतक में मोबाइल और इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई।

हंगामे के चलते झज्जर और सोनीपत में भी अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है। इस आंदोलन की वजह से रेल और सड़क दोनों मार्ग बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं। कई जगह जाम लगा हुआ है।

ज्ञात हो कि गुरुवार को रोहतक कोर्ट परिसर में आरक्षण की मांग को लेकर दो गुटों के आपस में भिड़ंत के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने सर्वदलीय बैठक बुलाई थी जिसमें उन्होंने जाट नेताओं से बातचीत की अपील की।

पिछले कई दिनों से आरक्षण की मांग को लेकर हरियाणा में जाट प्रदर्शन हो रहा है। यूपीए सरकार के समय से जाटों को मिले आरक्षण को पिछले साल सुप्रीम कोर्ट ने रद्द कर दिया था। जाटों का प्रदर्शन रोहतक-झज्जर क्षेत्र से सोनीपत, भिवानी, हिसार, फतेहाबाद और जींद जिलों तक फैल गया है। प्रदर्शनों में बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हो रही हैं। सोनीपत में प्रदर्शनों में जहां वकील शामिल हुए, बड़ी संख्या में छात्रों ने रोहतक में प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी सरकारी नौकरियों और शैक्षणिक संस्थानों में अन्य पिछड़ा वर्ग के तहत आरक्षण की मांग कर रहे हैं।

Post has attachment
Jai bheem sat sat pranam

Post has shared content
Janjagarn hetu
🙏साथियों जय भीम 🙏
एक राजा था। उसने दस खूंखार शेर पाल रखे थे।
उसके राज्य में प्रजा से जब कोई गलती हो जाती तो वह उन्हें उन शेरों को ही खिला देता था ।
एक बार उसके एक विश्वासपात्र सेवक से एक छोटी सी भूल हो गयी,
राजा ने उसे भी उन्हीं शेरों के सामने डालने का हुक्म सुना दिया।
उस सेवक ने उसे अपने दस साल की सेवा का वास्ता दिया,
मगर राजा ने उसकी एक न सुनी।
फिर उसने अपने लिए दस दिन की मोहलत माँगी जो उसे मिल गयी।
अब वह आदमी उन शेरों के रखवाले के पास गया और उससे विनती की कि वह उसे दस दिन के लिए अपने साथ काम करने का अवसर दे। किस्मत उसके साथ थी, उस रखवाले ने उसे अपने साथ रख लिया। दस दिनों तक उसने उन शेरों को खिलाया, पिलाया, नहलाया, सहलाया और खूब सेवा की।
आखिर फैसले वाले दिन राजा ने जब उसे उन शेरों के सामने फेंकवा दिया तो वे उसे चाटने लगे, उसके सामने दुम हिलाने और लोटने लगे।
राजा को बड़ा आश्चर्य हुआ।
उसके पूछने पर उस आदमी ने बताया कि महाराज इन बेजुबान शेरों ने मेरी मात्र दस दिन की सेवा का इतना मान दिया ,महाराज ने दस वर्षों की सेवा को एक छोटी सी भूल पर भुला दिया।
राजा को अपनी गलती का तो अहसास हो गया लेकिन घमंड कायम थी । उसने उस आदमी को तुरंत भूखे मगरमच्छों के सामने डलवा दिया।
मेरे मूलनिवासी बहुजन साथियों , जब हमारा संघर्ष मनुवादी व्यवस्थासे हो , राज दरबारी उन्हीके आदमी हो , न्याय व्यवस्था में उनकेही गुलाम हो, तब न्याय प्रणाली कितनीही अच्छी क्यों न हो न्याय की अपेक्षा कैसे कर सकते है ? हमारे कितनेभी रोहित कुर्बान हुए तो भी नहीं । हा हमारा रोहित मार्ग दर्शक बनकर हमें एकजुट कर सकता है । और इस ताकत से हम मनुवादियोंको उखाड़ फेककर अपनी मूलनिवासी सच्ची संविधानिक व्यवस्था ला सकते है । याद कीजिये बाबासाहब ने क्या कहा था ? "तुमको शासन कर्ती जमात बनाना है "।
जागो बहुजनो जागो ,
अभी नहीं तो कभी नहीं ।
🙏
Photo
Wait while more posts are being loaded