Post has attachment

Post has attachment
ॐ नमो आदेश आदेश गुरू जी मैं आप दोस्त पंडित नरेश नाथ आज आपको बता रहा हूँ| यह 15संकेत जो बताएँगे की आप पर होगी धन वर्षा

किसी भी व्यक्ति की धन संबंधी मनोकामनाएं कब पूरी होंगी, कब महालक्ष्मी की कृपा मिलेगी, यह जानने के लिए ज्योतिष में कुछ संकेत बताए गए हैं। यहां जानिए लक्ष्मी कृपा से जुड़े 15 शुभ संकेत यानी शकुन...
1. यदि किसी व्यक्ति के सपनों में बार-बार पानी, हरियाली, लक्ष्मीजी का वाहन उल्लू दिखाई देने लगे तो समझ लेना चाहिए कि निकट भविष्य में लक्ष्मी कृपा से धन संबंधी बाधाएं दूर हो सकती हैं।
2. यदि हम किसी आवश्यक काम के लिए जा रहे हैं और रास्ते में लाल साड़ी में पूरे सोलह श्रृंगार किए कोई स्त्री दिख जाए तो यह भी महालक्ष्मी की कृपा का इशारा ही है। ऐसा होने पर उस दिन कार्यों में सफलता मिलने की संभावनाएं काफी अधिक रहती है।
3. सुबह उठते ही शंख, मंदिर की घंटियां आदि के स्वर सुनाई दे तो यह भी शुभ होता है।
4. किसी किसी व्यक्ति को सुबह-सुबह गन्ना दिखाई दे तो निकट भविष्य में उसे धन संबंधी कार्यों में सफलता प्राप्त हो सकती है।
5. यदि सुबह जागते ही पहली नजर दही या दूध से भरे बर्तन पर पड़े तो इसे भी शुभ संकेत समझा जाता है।

6. श्रीफल, शंख, मोर, हंस, पुष्प, पुष्पमाला आदि पर चीजें सुबह-सुबह दिखाई दे तो शुभ होता है।
7. सप्ताह के सातों दिन अलग-अलग देवी-देवताओं की पूजा के निर्धारित किए गए हैं। शास्त्रों के अनुसार शुक्रवार का दिन महालक्ष्मी की पूजा करने पर विशेष कृपा दिलवाता है। इस दिन यदि कोई कन्या आपको सिक्का दे तो यह शुभ संकेत है। ऐसा होने पर समझ लेना चाहिए आपको निकट भविष्य में धन लाभ होने वाला है।
8. यदि घर से निकलते ही गाय दिखाई दे तो शुभ संकेत होता है। सफेद गाय हो तो बहुत शुभ होता है। काली गाय हो तो अधिक शुभ संकेत नहीं माना जाता है।
9. यदि किसी व्यक्ति के सपने में सफेद सांप, सोने के जैसा सांप दिखाई देने लगे तो यह भी महालक्ष्मी की कृपा का इशारा है। ऐसा होने पर निकट भविष्य में धन संबंधी कार्यों में कोई विशेष उपलब्धि
हासिल हो सकती है।
10. यदि कहीं आते-जाते समय कोई सफेद सांप दिखे तो यह भी महालक्ष्मी की कृपा पाने का संकेत है।
11. जब आपके आपके घर या ऑफिस में अचानक उल्लू आ जाए तो समझ लेना चाहिए कि आपको भविष्य में कोई बड़ा लाभ होने वाला है। शास्त्रों के अनुसार महालक्ष्मी का वाहन उल्लू ही है, अत: यह घर में आए तो शुभ होता है।
12. किसी भी शुक्रवार को घर से बाहर निकलते ही कोई छोटी कन्या पानी से भरा हुआ कलश (मटका) उठाए दिखे तो यह भी शुभ संकेत है। कलश भरा होगा तो भविष्य में धन लाभ मिलने की संभावनाएं बन सकती हैं। यदि कलश खाली होगा तो धन संबंधी कार्यों में सावधानी रखनी चाहिए।
13. किसी यात्रा पर जाते समय सीधे हाथ की ओर सांप, बंदर, कुत्ता या कोई पक्षी दिखाई दे तो यह शुभ शकुन होता है। यात्रा मंगलमय रहती है।
14. यदि कोई स्त्री लाल साड़ी और सोलह श्रृंगार किए हुए दिखाई देती है तो यह बहुत ही शुभ शकुन होता है। शास्त्रों के अनुसार घर से निकलते समय यह शकुन होने पर देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है।
15. यदि घर से निकलते ही कोई सफाईकर्मी दिखाई दे तो यह भी शुभ शकुन होता है।
ॐ नमो आदेश आदेश गुरू जी को मैं आपका दोस्त पंडित नरेश नाथ जी आज आपको बता रहा हूँ।अपने बच्चों को बनाएं कुशाग्र विद्यार्थी इन सरल उपायों से

यदि आपके बच्चो का पढाई में मन नहीं लगता या फिर पढने के बावजूद वह अपने पाठ को याद नहीं रख पता तो अब घबराने की जरूरत नहीं। हम आपको कुछ ऎसे उपाय बताने जा रहे हैं जिससे आपके बच्चो का पढाई में मन भी लगेगा और साथ ही उसे सब कुछ याद भी रहेगा।

ये सरल उपाय अपनाकर आप अपने बच्चो को पढाई में कुशाग्र बना सकते हैं।
1. बच्चों की अच्छी पढाई के लिए स्टडी टेबल हमेशा ही कमरे के पूर्व कोने में इस तरह से रखें कि पढाई करते समय आपके बच्चे का मुंह पूर्व दिशा की ओर रहे।
2. बच्चों को पढाई मे कुशाग्र बनाने के लिए उन्हें पढाई से पहले गायत्री मंत्र का पाठ करने के लिए कहें व पढते समय बच्चो के सिर पर पिरामिडिकल कैप लगाएं। ऎसा करने से उसके द्वारा याद किया हुआ सबक या पाठ उसे हमेशा के लिए याद रहेगा और बुद्धि कुशाग्र होगी।
3. बच्चों के उत्तर-पूर्व दीवार में लाल पट्टी के चायनीज बच्चों की युगल फोटों लगाएं। ऎसा करने से घर में खुशियां आएंगी और आपके बच्चो का करियर अच्छा बनेगा। इन उपायों को अपनाकर आप अपने बच्चे को एक अच्छा करियर दे सकते हैं और जीवन में सफल बना सकते हैं।
. हमारे YouTube.channel
पर हमारे उपाय और वीडियो देखने केलिए लींक पर क्लिक करें
https://www.youtube.com/channel/UCtlEx0LPyeu9RA4odXKXdQg

कुछ ऐसे टोटके जो आपकी समस्याओं को कर देंगे छूमंतर


भाई-भाई में अनबन दूर करने हेतु:
मंदिर के पास नीम का वृक्ष लगाएं व प्रतिदिन उसकी सेवा करें। घर में ऊंट व हाथी के खिलौने न रखें। मंगलवार को हनुमान जी को प्रसाद और सिंदूर चढ़ाएं। स्थितियां अनुकूल होने लगेंगी। अच्छे स्वास्थ्य हेतु: यदि स्वास्थ्य अनुकूल न रहता हो तो किसी कब्र या दरगाह पर सूर्यास्त के पश्चात् तेल का दीपक और मोगरे की अगरबत्ती जलाएं और 5 बताशे रखें। मन ही मन प्रार्थना करें और वापस आते वक्त मुड़ कर न देखें। स्वास्थ्य अनुकूल होने लगेगा यह टोटका शुक्रवार से शुरू करंे।
कर्ज से मुक्ति हेतु:
चांदी का चैकोर टुकड़ा अपने साथ रखें। चार किलो सफेद मूली बहते पानी में बहाएं। कुआं, झील, टैंक या तालाब में नहीं। अपने भोजन में से कुछ हिस्सा प्रतिदिन गाय, कुत्ते को व कौए को दें। हरे रंग से परहेज करें।
आर्थिक समस्या दूर करने हेतु:

दो अलग-अलग दुकानों से एक-एक आम खरीदें और दोनों को एक साथ बहती नदी में प्रवाहित करें। यह टोटका, शुक्ल पक्ष के बुधवार को करें। चांदी की चेन गले में पहनें, आर्थिक संकट दूर होगा।
चिड़ियों को सतनाजा डालें। इसका चूरा भी चिड़ियों को डालें, तरक्की होगी।
कार्य की सिद्धि हेतु:

कहीं जाते समय घर से निकलने से पूर्व ही अपने हाथ में रोटी लें। मार्ग में जहां भी कौए दिखाई दें वहां उस रोटी को टुकड़े कर डाल दें और आगे बढ़ जाएं। पीछे मुड़ कर न देखें। कार्य में सफलता प्राप्त होगी। निम्न मंत्र को प्रथम 1000 बार जपें तथा रोली, चंदन, गोरोचन एवं कपूर सामने पूजा में रखें। उसपर हाथ रखें और जप करें। फिर सब सामग्री को गाय के दूध में घिस कर, तिलक लगा कर, घर से निकलें। जो कार्य बनने हेतु यह सिद्ध तिलक लगा कर जाएंगे, आपका वह कार्य अवश्य सिद्ध होगा। मंत्र इस प्रकार हैः ‘‘ओम हीं अमुकं वे वशमाय स्वाहा।’’ यह बड़ा ही प्रभावी मंत्र है। अमुकं के स्थान पर जिस व्यक्ति से कार्य लेना हो, उसके नाम का उच्चारण करें।

विद्या में आने वाले विघ्न को दूर करने हेतु:
मंदिर में सफेद काले कंबल तथा धार्मिक पुस्तकों का दान करें। 40 दिन तक प्रतिदिन एक केला गणेश जी के मंदिर में उनके आगे रखें। परीक्षा में सफलता हेतु: परीक्षा भवन में प्रवेश करते समय भगवान राम का ध्यान करें और निम्नलिखित मंत्र का ग्यारह बार जप करें। प्रवसि नगर कीजै सब काजा हृदय राखि कौशलपुर राजा। शुरू, व अंत में चैपाई के संपुट अवश्य लगाएं। यह बहुत प्रभावी टोटका है, यदि श्रद्धापूर्वक किया जाए तो अत्यंत चमत्कारिक परिणाम देता है।
शीघ्र विवाह हेतु:
यदि विवाह में बहुत विलंब हो रहा हो तो मंदिर के प्रांगण में अनार का वृक्ष लगाएं व रोज उसे जल से सीचें। कच्चा दूध व जल मिला कर प्रतिदिन शिवलिंग पर चढ़ाएं। प्रतिदिन गाय को चारा या हरा पालक खिलाएं। एक से बढ़ कर एक रिश्ते एक आने लगेंगे
। सुखमय जीवन हेतु:
सौ ग्राम चावल 43 दिन तक प्रतिदिन किसी नदी या नहर में डालें 43 दिन, कष्ट दूर हो जाएंगे।
संतान प्राप्ति हेतु:
विवाह के कई वर्षों बाद भी यदि संतान न हो तो जमादार को सप्ताह में एक किलो मूली का दान देते रहें। यह टोटका किसी भी दिन सूर्यास्त से पूर्व करना है। शाकाहारी रहें। हरिवंशपुराण का पाठ प्रतिदिन करें। महीने में एक बार किसी पंडित से घर में गायत्री का हवन करवाएं। गोद शीघ्र भरेगी।
नौकरी में तरक्की हेतु:
चिड़ियों को सतनाजा डालें। इसका चूरा भी चिड़ियों को डालें, तरक्की होगी।
कार्य की सिद्धि हेतु:
कहीं जाते समय घर से निकलने से पूर्व ही अपने हाथ में रोटी लें। मार्ग में जहां भी कौए दिखाई दें वहां उस रोटी को टुकड़े कर डाल दें और आगे बढ़ जाएं। पीछे मुड़ कर न देखें। कार्य में सफलता प्राप्त होगी। निम्न मंत्र को प्रथम 1000 बार जपें तथा रोली, चंदन, गोरोचन एवं कपूर सामने पूजा में रखें। उसपर हाथ रखें और जप करें। फिर सब सामग्री को गाय के दूध में घिस कर, तिलक लगा कर, घर से निकलें। जो कार्य बनने हेतु यह सिद्ध तिलक लगा कर जाएंगे, आपका वह कार्य अवश्य सिद्ध होगा। मंत्र इस प्रकार हैः ‘‘ओम हीं अमुकं वे वशमाय स्वाहा।’’ यह बड़ा ही प्रभावी मंत्र है। अमुकं के स्थान पर जिस व्यक्ति से कार्य लेना हो, उसके नाम का उच्चारण करें। 
Wait while more posts are being loaded