Profile cover photo
Profile photo
राकेश कौशिक
180 followers -
कभी कभी तो देख किसी को हृदयपुष्प खिल उठता| अनजाना अपना बनता फिर जान से प्यारा लगता|| कभी किसी की एक झलक से हर कोंपल कुमल्हाती| बन जाती नासूर और फिर रह रह कर तड़पाती|| मेरे साथ हुआ जैसा मेरी किस्मत का लेखा| आपको भी बतलाऊंगा मैंने कब क्या क्या देखा|
कभी कभी तो देख किसी को हृदयपुष्प खिल उठता| अनजाना अपना बनता फिर जान से प्यारा लगता|| कभी किसी की एक झलक से हर कोंपल कुमल्हाती| बन जाती नासूर और फिर रह रह कर तड़पाती|| मेरे साथ हुआ जैसा मेरी किस्मत का लेखा| आपको भी बतलाऊंगा मैंने कब क्या क्या देखा|

180 followers
About
Posts

Post is pinned.Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment
हिंदी दिवस 2016
हिंदी दिवस 2016
hradaypushp.blogspot.in
Add a comment...

Post has attachment
कविता पाठ
कविता पाठ
hradaypushp.blogspot.in
Add a comment...

Post has attachment
हिंदी दिवस 2001
हिंदी दिवस 2001
hradaypushp.blogspot.com
Add a comment...

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment
हिंदी दिवस, 1999
हिंदी दिवस, 1999
hradaypushp.blogspot.com
Add a comment...

Post has attachment
Wait while more posts are being loaded