Profile cover photo
Profile photo
Vishwajeet Sapan
60 followers
60 followers
About
Vishwajeet's posts

Post has attachment

Post has attachment
महाभारत की लोककथा - भाग 8
‘‘घमण्डी कौआ’’  ============  महाभारत की कथा में तैंतीसवीं कड़ी में प्रस्तुत आठवीं लोककथा - ‘‘घमण्डी कौआ’’   यह कहानी एक कौआ और हंस की है। वह कौआ दूसरों के जूठन पर पलता हुआ, बहुत घमण्डी हो गया था। जब उसने हंस को देखा, तो उसे बहुत ईर्ष्या हुई और उसने हंस को उ...

Post has attachment
महाभारत की लोककथा - भाग 7
"करम गति टारै नाहीं टरै" ==================   महाभारत की कथा में इकतीसवीं कड़ी में प्रस्तुत छठी लोककथा - ‘‘करम गति टारै नाहीं टरै’’  यह कहानी गौतमी नामक एक वृद्धा की है, जिसके इकलौते पुत्र की मृत्यु सर्प के काटने से हो जाती है। एक बहेलिया ने उस सर्प को पकड़ ल...

Post has attachment

Post has attachment
महाभारत की लोककथा - भाग 6
दृढ़ निश्चय ही दिलाती है सफलता ======================== महाभारत की कथा में इकतीसवीं कड़ी में प्रस्तुत छठी लोककथा - ‘‘दृढ़ निश्चय ही दिलाती है सफलता’’ एक इंसान के इकलौते पुत्र की मृत्यु हो जाती है। वह शव लेकर श्मशान जाता है। सियार और गिद्ध अपने-अपने प्रयोजन से ...

Post has attachment

Post has attachment
महाभारत की लोककथा - भाग 5
‘‘गुरु की आज्ञा का पालन धर्म समान है’’ ======================================  महाभारत की कथा में तीसवीं कड़ी में प्रस्तुत पाँचवीं लोककथा - ‘‘गुरु की आज्ञा का पालन धर्म समान है’’। तक्षशिला में आयोद धौम्य नामक एक ऋषि थे। उनके गुरुकुल में उनके कई शिष्य गुरुकुल...

Post has attachment

Post has attachment
महाभारत की लोककथा - भाग 4
मनुष्य को दीमक की तरह खा जाता है ‘अहंकार’ ---------------------------------------------------------- महाभारत की कथा की उनतीसवीं कड़ी में यह कहानी प्रस्तुत है।  यह कहानी देव एवं दानवों के मध्य न केवल युद्ध का है, बल्कि इसमें यह भी बताया गया है कि अहंकारी चाहे...

Post has attachment
Wait while more posts are being loaded