Profile cover photo
Profile photo
Bharat Tiwari (भरत तिवारी)
507 followers -
I Exist Cause I Love :: A Learner; art director, designer, love photography and writing in हिंदी #फैज़ाबादी OSR....
I Exist Cause I Love :: A Learner; art director, designer, love photography and writing in हिंदी #फैज़ाबादी OSR....

507 followers
About
Bharat's interests
Bharat's posts

Post has attachment
Har Har Modi !!! #3yearsofModiGovt @sadhavi #SadhaviKhosla #हर_हर_मोदी
Har Har Modi Jai Jai Modi Sadhavi Khosla #हर_हर_मोदी !!! (हिंदी में पढ़ें)    Three years ago, the people of India selected Narendra Modi as their Prime Minister, and that has changed the country entirely, at last. Today, as we see it, India has been ‘Transf...

Post has attachment
#हर_हर_मोदी !!! #3yearsofModiGovt @sadhavi #SadhaviKhosla
व्यंग्य हर हर मोदी! ... साध्वी खोसला मोदी सरकार की कृपा से आज देश के युवा के पास रोजगार के अनंत अवसर हैं । हाल यह है कि वह ब्लू कॉलर नौकरियां जो पहले आईआईटी आईआईएम पढ़े लिखे लोगों को मिलती थीं, वह नौकरियां आज एक साधारण इंस्टीट्यूट से ग्रैजुएट छात्र को भी मि...

Post has attachment
वो जला रहे हैं ये गुलिस्तां | #भरत_तिवारी Vo jala rahe hain ye gulistan
वो जला रहे हैं ये गुलिस्तां — भरत तिवारी वो जला रहे हैं ये गुलिस्तां हो बुझाने वालों तुम कहाँ यहाँ आग घर तक पहुँच रही जो तुम अब भी यों ही खड़े रहे जलता हुआ घर देखते तो घर कहाँ से लाओगे जल जायेगा जब सब यहाँ न रहेगा तब जब ये जहाँ वो रहेंगे क्या तब भी यहाँ जो ज...

Post has attachment
After Trump’s term, the constitution would be redrafted — Patrick French | #ZEEJLFatBL
An Unsuitable Boy Karan Johar in conversation with Rachel Dwyer Photo: StuartArmitt ZEE JAIPUR LITERATURE FESTIVAL A SELL OUT SUCCESS AT THE BRITISH LIBRARY The culturally curious flocked to the British Library to attend sessions on a huge range of topics i...

Post has attachment
कहानी: सन्नाटे की गंध - रूपा सिंह
बेड़ियाँ तोड़े बिना आगे जा पाना असंभव है ... हिंदी साहित्य की यही रुढ़ीवादी बेड़ियां पाठक को अन्य भाषाओँ के साहित्य की तरफ मुड़ने को 'मजबूर' करती रहती हैं... किन्तु बीच-बीच में इन बंधनों को तोड़ कर आगे आने वाले लोगों ने उम्मीद बरक़रार रखी है... ''कृष्णा सोबती'' ज...

Post has attachment
परेश रावल "ख़ूनी-वक्तव्य" — ऋचा पांडे का ख़त #PareshRawal
अरुंधती रॉय को सेना की जीप में बाँधो बजाय पत्थरबाज के ! — परेश रावल असहिष्णु परेश रावलजी , यह छोटा-सा पत्र आप से इस्तीफे की दरकार के लिए है। आप लोकतंत्र की जिस सीट पर बैठे हैं — उसके लायक नहीं हैं। अरुंधती रॉय पर आपका बयान न केवल महिला विरोधी है बल्कि लोकतं...

Post has attachment
साहित्य अकादमी ज़िन्दाबाद! — कृष्णा सोबती #KrishnaSobti
उम्र भर लेखन करने के बाद हम लेखकों को दारूखोरा  गाली कतई सहन नहीं है — कृष्णा सोबती व्यंग्य हिंदुस्तान की राजधानी दिल्ली ज़िन्दाबाद! फिरोजशाह रोड ज़िन्दाबाद! साहित्य अकादमी ज़िन्दाबाद! जिन्होंने अकादमी का डिजाईन बनवाया — वह रहमान साहिब ज़िन्दाबाद! मगर अकादमी क्...

Post has attachment
जंगलराज? #अब _शहर_ही_जंगल_है ! #AbhisarSharmaBlog
किस बात का जंगलराज? कैसा भीड़तंत्र? सब सही चल रहा है। All is well!  — अभिसार शर्मा 7 लोग मार दिए गए । बीजेपी-शासित झारखंड में। शक के आधार पर। व्हाट्सएप पर एक अफवाह के आधार पर। आरोप था बच्चा चोरी का। बच्चे चोरी ही नही हुए और 7 घरों के चिराग तुमने बुझा दिए! रो...

Post has attachment
मोदीजी के #3साल_शासनकाल पर साध्वी खोसला का बधाई पत्र #SadhaviKhosla
An Open Letter to ‘Our’ Prime Minister, Narendra Modi Sadhavi Khosla डिअर प्राइम मिनिस्टर मोदीजी, सबसे पहले देश पर 3 साल से शासन करने के लिए बधाई। मैं आपको बताना चाहूंगी कि मैं उन 32 प्रतिशत मतदाताओं में से एक थी, जिसने आपके अच्छे दिन लाने के वादे पर विश्वा...

Post has attachment
हिंदी कहानी : उदय प्रकाश — तिरिछ | uday prakash poetry and stories
उदय प्रकाश की कहानी  तिरिछ  तिरिछ में उदय प्रकाश अपने नायक से कहलवाते है “ लेकिन मैं यह जानता हूँ, मुझे अच्छी तरह से महसूस होता है कि उनके दिमाग में घर लौट आने और शहर से बाहर निकल जाने की बात—एक स्थाई, बार-बार कहीं अँधेरे से उभरनेवाली, भले ही बहुत क्षीण और ...
Wait while more posts are being loaded