Profile cover photo
Profile photo
R.S RAGHAW
14 followers -
To became the first choice wealth advisors for medium high net worth individuals.
To became the first choice wealth advisors for medium high net worth individuals.

14 followers
About
Posts

Post has attachment

यदि आपकी संतान, जीवनसाथी या माता-पिता आप पर व आपकी आय पर निर्भर है तो आपको अपना जीवन बीमा कराना अति आवश्यक है ।
यह जानकारी आपको नही थी तब तक तो ठीक था पर अब जब यह हो गयी है तो अपना पर्याप्त बीमा लेने मैं अधिक देरी न करे।
आज ही संपर्क करे रूपेन्द्र सिंह राघव @ 9990412212
Photo
Add a comment...

Post has attachment
Have an Awesome Weekand Guyz..😊
Photo
Add a comment...

Post has attachment
Retirement is not the end of the road. It is the beginning of the open highway.
Presenting Lic Jeevan Moksha.. The Super Retirement Plan
More Details Call us @ 9990412212.
Photo
Add a comment...

Post has attachment
Tips & Quotes for July 11
Photo
Add a comment...

Post has attachment
Tips & Quotes for July 5
Photo
Add a comment...

Post has attachment
Thanks for being with us.
Photo
Add a comment...

Post has attachment
नाराजगी वहाँ मत रखिएगा
मेरे दोस्त...!
जहाँ आपको ही बताना पड़े
आप नाराज हैं ...!!!
Photo
Add a comment...

Post has attachment
👌👌👌👌 *जीवन बीमा*👌👌👌👌
कुछ तथ्य- आश्चर्यजनक लेकिन विचारनीय

✅जीवन बीमा अभिकर्ता को देखकर लोगो को प्रायः सुरक्षा के स्थान पर भय की अनुभूति*होती है, लेकिन किसी के *निधन के बाद अभिकर्ता की उपस्तिथि बड़ा सुकून देती है l

✅ हम अपनी पुत्री का विवाह एक अनजान ब्यक्ति से करने का जोखिम उठाते हैं लेकिन ऐसे जानकर ब्यक्ति, जो परिवार की आर्थिक सुरक्षा की सही सलाह देता है उसमे काफी तर्क-वितर्क और सोच विचार करते हैं l

✅मंदिर के बाहर हम अपने जूतों की सुरक्षा के लिए Rs.5 खर्च कर सकते हैं, लेकिन परिवार की सुरक्षा के लिए रोजाना Rs.50 की बचत बेकार का खर्च लगता है l

✅हम उन तथाकथित बाबाओं के Majik पर आँख बंद करके भरोसा करते हैं लेकिन Logic के साथ सही सलाह देने वाले अभिकर्ता पर संदेह करते हैं l

✅हमे सरकारी कर्मचारियों को सेवा निवृति पर मिलने वाली एकमुश्त राशि और निधन पर मिलने वाली बीमा राशि से ईर्ष्या होती है लेकिन अपने स्वयं के लिए पेंशन का बंदोबस्त या परिवार के लिए बीमा सुरक्षा के लिए बचत करने में कंजूसी करते हैं l

✅जब हमारी मृत्यु होती है तो हमारी आय हमारे लिए अंतिम होती है लेकिन परिवार के लिए नहीं l संघर्ष के साथ उन्हें आगे कई साल जिन्दा रहना है l

✅हम अपने मोबाइल का बैलेंस चेक कर सकते हैं, अपने बैंक का बैलेंस चैक कर सकते है लेकिन अपने Life का बैलेंस कोई चैक नहीं कर सकता Life का यह बैलेंस किसी का भी और कभी भी समाप्त हो सकता है, इसलिए अपने परिवार की आर्थिक सुरक्षा को जीवन बीमा से रिचार्ज अवश्य कराएं l

✅बिजली की अनवरत सप्लाई और रोशनी के लिए आप इन्वर्टर खरीदते हैं, आप अपने परिवार की रौशनी हैं, आपकी जीवन बीमा पालिसी आर्थिक जरूरतों का इन्वर्टर है जो आपके न रहने पर अनवरत रोशनी का प्रबंध करता है l

✅अग्निशमन वाहन अलार्म बजाते हुए आता है लेकिन *मृत्यु का वाहन बिना अलार्म बजाये आ सकता है*l

✅हम अपने मोबाइल जिसकी कीमत लगभग Rs.10000 होती है उसकी सुरक्षा के लिए स्क्रीन गार्ड खरीदते हैं लेकिन परिवार की आर्थिक सुरक्षा के लिए अपना जीवन बीमा लेने का निर्णय भविष्य के लिए टाल देते हैं जिसकी वैल्यू 10 करोड़ से भी अधिक है l

✅हमारे रहने के लिए 1BHK मकान (एक बेडरूम, हॉल, किचन) पर्याप्त होता है लेकिन घर बनाते समय प्रयास करते हैं कि घर के प्रत्येक सदस्य के लिए एक कमरा अवश्य हो, घर की मजबूती पर भी इतना ध्यान रहता है कि हमारे बाद तीन पीढ़ियों तक भी मकान का कुछ नहीं बिगड़े, लेकिन हमारे न रहने पर परिवार के जीवन-यापन की चिंता से हमे उतना सरोकार नहीं l

✅ब्यक्ति अपनी आय में से अपने ऊपर लगभग 20℅ ही खर्च करता है शेष 80℅ उसका परिवार (पत्नी, बच्चे, माता पिता) निर्भर होते हैं l ब्यक्ति के न रहने पर आय का 20℅ तो उसकी मृत्यु के साथ ही समाप्त हो जाता है लेकिन परिवार के लिए अभी तक मिल रहे आय के 80℅ का बंदोबस्त कौन करेगा ???
➖समाज के लोग
➖करीबी दोस्त
➖नजदीकी रिश्तेदार
➖ या इनमे से कोई नहीं
जीवन बीमा इसी की प्रतिपूर्ति सुनिश्चित करता हैl

जीवन बीमा जिम्मेदारी है-बोझ नही।
अधिक जानकारी के लिये सम्पर्क करे
रूपेन्द्र सिंह राघव
भारतीय जीवन बीमा निगम
बीमा सलाहकार
9990412212
www.8rumoneysolutions.com
Photo
Add a comment...

Post has attachment
मैंने तो घरवालों से साफ कह दिया है
4 जून को अगर किसी ने टीवी 🖥 के रिमोट को हाथ लगाया 😡तो समझो बाहुबली की तलवार 🗡को हाथ लगाया।
#IndiavsPakistan
Photo
Add a comment...

Post has attachment
बहू ने सास को दिया मोबाइल,

आखिर क्यों हुई मेहरबान..

नए जमाने की बहू ने
सास को उनके जन्मदिन पर गिफ्ट में मोबाइल लाकर दिया

और वो भी स्मार्ट फ़ोन

बहु ने अपने सारे काम काज छोडक़र

सास की सहेलियों और सारे परिचितों के नंबर सेव कर दिये ।

सोने पे सुहागा

फिर उसमें व्हाट्सएप्प भी डाउनलोड कर दिया ।

भजन और गाने भी लोड कर दिये

अब सुनिये इस मेहनत का
फायदा जो हुआ:

अब सासु मां का ध्यान घर
में कम
मोबाइल पर ज्यादा रहता है

अब वो बेटा बहू की बातें सुनने
की जगह,
मोबाइल की घंटी पर कन्सनट्रेट करती हैं..

अपने बोलने की सारी एनर्जी
मोबाइल पर गंवा देती हैं ।

व्हाट्सएप्प नें तो उसकी सारी ताक़त अपने पास खींच ली है ।

और बहू क्या कर रही है
ये तक भुला देती हैं..

इधर-उधर बातें करने में घंटो
बिता देती है,

फिर दिन भर सासू माँ और उनका व्हाट्सएप्प
उसी में लीन हो जाती है ।
पढ़ती है मुस्कुराती है ।

रात को भजन और गानें

इधर बहू किचन में

मनचाहा बनाकर कब खा लेती
है
सासु मां अब इस बात पर
ध्यान कम देती है..

इससे पहले वो दिन रात
बहू-बहू चिल्लाती थी,

बहू की जमकर
परेड हो जाती थी।

कभी चाय,
कभी हलवा
कभी दूध
कभी पानी

अब खत्म हुई
बहू की सारी परेशानी।

सास के हाथ में बहू ने
जबसे ये फुलतरु थमाया है,

बहू ने गजब का चैन पाया है।

आजकल सास मोबाइल के
साथ स्टाइल मारती है

और

बहू को करमजली कहने
वाली सास
अब बहु को बेटा-बेटा कहकर
पुकारती है..!!

साइड इफेक्ट जो हुआ:

बस उनका मोबाइल
रीचार्ज जल्दी-जल्दी
करवाना पड़ता है

और
फोन डिस्चार्ज हो जाए,
तो चार्जिंग पर लगाना होता है।

लेकिन कुछ पाने के लिए कुछ
खोना तो पड़ता है..

वो कहते हैं न :-

अगर इससे प्यार बढ़ता है,
तो ये दाग अच्छे हैं..!!

इसलिए सास से परेशान
बहुओं

आइए ये टिप्स अपनाइए..
ओर अजमाईये

अपनी
-अपनी सासों को मोबाइल
गिफ्ट दीजिए
और सास की रोज़ रोज़ की
चकर-चकर से मुक्ति लीजिए

~ रिजल्ट ~
बहू खुश और सास भी खुश।😊😊

सार: हम बीमे वाले हे साहब , परिवार तोड़ने की नही , परिवार जोड़ने की बात करते हे
क्यों की यही तो हे जो जिंदगी के साथ भी ओर जिंदगी के बाद भी !
दिल छुआ हो तो दोस्तो के साथ शेयर ज़रूर कीजिये ओर परिवार को बेस्ट गिफ्ट देने का ज़रूर विचार करे।
धन्यवाद !
रूपेन्द्र सिंह राघव
भारतीय जीवन बीमा निगम
बीमा सलाहकार
9990412212

जन हित मैं जारी
.
.
.
😊😊😊
Photo
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded