Profile cover photo
Profile photo
Uttam Pradesh
8 followers
8 followers
About
Posts

पुलिस वाले खुद ही गाड़ी उल्टी दिशा में लेकर जा रहे हैं।
ट्रैफिक रूल्स फॉलो न करने और हूटर व लाल बत्ती लगाकर रौब गांठने वाले शाहजहांपुर के समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष और बीएसपी के एक विधायक की ट्रैफिक पुलिस के सामने एक नहीं चली। अल्का तिराहे पर तैनात टीएसआई ने शाहजहांपुर के जिलाध्यक्ष की गाड़ी में लगे दोनों हूटर निकलवा दिए और लाल बत्ती भी हटवा दी। यही नहीं ट्रैफिक पुलिस ने उनकी गाड़ी का चालान भी कर दिया। वहीं हजरतगंज चौराहे पर बीएसपी के एक विधायक की गाड़ी से भी टीएसआई ने हूटर उतरवा दिया।

शाहजहांपुर के जिलाध्यक्ष तनवीर अहमद बुधवार को स्कॉर्पियो से लखनऊ आए थे। हजरतगंज में अल्का तिराहे के पास रेड सिग्नल होने के बावजूद उन्होंने गाड़ी आगे बढ़ाकर जेब्रा लाइन के आगे खड़ी कर दी। टीएसआई मो. कासिम ने उन्हें रोका तो वह आग बबूला हो गए और फोन निकालकर एएसपी व एसएसपी से बात कर टीएसआई को उसके खिलाफ कार्रवाई कराने की धमकी देने लगे, लेकिन टीएसआई ने उनकी एक न सुनी और स्कॉर्पियो में लगे दोनों हूटर व लालबत्ती उतरवा ली। जेब्रा लाइन क्रॉस करने पर उनकी गाड़ी का चालान भी कर दिया गया। उधर, हजरतगंज चौराहे पर चेकिंग के दौरान टीएसआई अनिल यादव ने बीएसपी के एक विधायक की गाड़ी में लगा हूटर निकलवा दिया। इस पर उन्होंने कोई तीखी प्रतिक्रिया भी नहीं की और गाड़ी लेकर चले गए। वह अपने पिता को लेकर कहीं जा रहे थे। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि सपा नेता ने कार्रवाई के दौरान वहां मौजूद सीओ ट्रैफिक अवनीश मिश्रा को वर्दी उतरवाने की भी धमकी दी।
अमीनाबाद में रॉन्ग साइड जाती पुलिस की गाड़ी।•वरिष्ठ संवाददाता, लखनऊ 

हजरतगंज के बाद अमीनाबाद में भी वन-वे का फार्म्यूला हिट साबित हो रहा। अमीनाबाद में पांच रूट वन-वे किए जाने से बुधवार को किसी भी रूट पर जाम नहीं लगा। ट्रैफिक पुलिस के निर्देशों का पालन कर लोग वन-वे को फॉलो करते नजर आए, लेकिन पुलिस की जीपें शॉर्ट कट के चक्कर में उल्टी दिशा में दौड़ीं। उधर, सिविल चौराहे से डीएसओ तक वन-वे किए जाने से ट्रैफिक कंट्रोल रहा, लेकिन इसकी वजह से राजभवन के सामने कई बार जाम की स्थिति उत्पन्न हुई। हालांकि पुलिसकर्मियों ने जल्द ही जाम हटवा दिया।

अमीनाबाद में नजीराबाद चौराहे से कैसरबाग अशोक लाट, गुईन रोड चौराहे से नतीराबाद चौराहा, नाज सिनेमा ख्यालीगंज से नजराबाद चौराहा, पोस्ट ऑफिस तिराहे से अमीनाबाद चौराहा और अमीनाबाद छतरीवाला चौराहे से हनुमान मंदिर तिराहे को जाने वाले रास्तों को वन-वे किया गया है। बुधवार को ज्यादातर रूट पर ट्रैफिक सामान्य रहा। कैसरबाग के अशोक लाट चौराहे पर जाम लगने की वजह से नजीराबाद और गुईन रोड पर जाम की स्थिति नजर आई। इसके अलावा बाकी सभी रूट पर सामान्य रूप से गाड़ियों की आवाजाही रही। अमीनाबाद के छतरी वाले चौराहे से अमीनाबाद कोतवाली की ओर वन-वे किए जाने के बावजूद पुलिस की गाड़ियां इसी रास्ते से फर्राटा भरती नजर आईं। यह देख वहां से गुजर रहे कुछ राहगीरों ने पुलिस पर तंज भी कसा कि खुद ही नियम बनाते हैं और खुद ही तोड़ते भी हैं। पब्लिक तो सही जा रही है, लेकिन पुलिस वाले खुद ही गाड़ी उल्टी दिशा में लेकर जा रहे हैं।
पुलिस ही तोड़ रही वन-वे रूल
वन-वे किए गए सभी रूट पर सामान्य रहा यातायात NBT
Add a comment...

Post has attachment
THOUGHT OF THE DAY ‪#‎UTTAMPRADESH‬
Photo
Add a comment...

PG students of IET to help as teachers.
Postgraduate students of the Institute of Engineering and Technology and Government College of Architecture will be roped in to assist juniors in their studies and project work. The two institutions are constituent colleges of APJ Abdul Kalam Technical University .
“The academic council on the university on Tuesday decided that PG students after completing their course will be appointed as teacher assistants and will be given scholarships. The practice is common in IITs. We are starting in the two said constituent colleges on a pilot basis. Later, we will make a similar mechanism for other institutes under the university,'' said vice-chancellor Vinay Pathak.
The meeting also decided to award medals to toppers of each autonomous colleges affiliated to AKTU.So far, the medal list released by the university included private colleges. Four government-aided autonomous colleges were not included because they followed their own system. TOI
Add a comment...

Post has attachment
पॉलीथिन पर प्रतिबंध 
कल से होगी सीलिंग, विरोध में डीएम को फैक्ट्री की चाबियां देंगे व्यवसायी
राजधानी के बाजारों में पॉलीथिन पर प्रतिबंध को सख्ती से लागू करवाने के लिए मंगलवार को प्रस्तावित बैठक टल गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन की तैयारियों में व्यस्तता के कारण जिला प्रशासन को बैठक स्थगित करनी पड़ी। जिलाधिकारी राजशेखर ने बताया कि प्रधानमंत्री का दौरा खत्म होने के बाद शहर के बाजारों में हर जगह पॉलीथिन पर प्रतिबंध को सख्ती से लागू किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इससे पहले 21 जनवरी को नगर निगम अपने स्तर पर कार्रवाई करता रहेगा। पीएम का दौरा खतम होने के बाद प्रदूषण बोर्ड, जिला उद्योग केंद्र और पुलिस अधिकारियों की बैठक प्रस्तावित है, इसमें प्रतिबंध को लागू करने की रणनीति तैयार की जाएगी। उन्होंने कहा कि 22 जनवरी के बाद सख्त अभियान चलाया जाएगा।
पीएम के दौरे के बाद शुरू होगी सख्ती
पॉलीबैग्स पर बैन शुरू होने से दो दिन पहले मंगलवार को राजधानी की 63 पॉलीबैग्स फैक्ट्रियों में काम बंद हो गया। प्लॉस्टिक प्रॉडक्ट्स असोसिएशन की बैठक में फैसले के बाद फैक्ट्री मालिकों ने अपनी यूनिटों में ताला लगा दिया। इस बैठक में व्यापारियों ने सरकार पर रोजीरोटी छीनने का भी आरोप लगाया। इसके विरोध में वे 21 जनवरी को फैक्ट्री की चाबियां डीएम को सौपेंगे।
राजधानी में 72 पॉलीबैग्स फैक्ट्रियां हैं। यहां रोजाना 200 टन पॉलीबैग्स बनाए जाते थे, लेकिन 22 दिसंबर को शासन पॉलीबैग पर प्रतिबंध का गजट जारी होने के बाद फैक्ट्रियों में उत्पादन कम हो गया था। देवा रोड स्थित श्रुति इंटरप्राइजेज चलाने वाले राजीव श्रीवास्तव के मुताबिक, उनकी फैक्ट्री में रोजाना 300 किलो तक कैरीबैग बनते थे, लेकिन वहां पिछले सप्ताह से ही काम बंद है। देवा रोड पर ही स्थित देवेश पॉलिमर चलाने वाले सुनील पोद्दार की फैक्ट्री तो 15 दिन से बंद है। उनकी फैक्ट्री में फिलहाल 20 टन का स्टॉक है। ओम प्लास्टिक के नाम से नादरगंज में यूनिट चलाने वाले मनोज बाजपेई के मुताबिक, उनकी यूनिट में भी 300 किलो तक पॉलीबैग्स का उत्पादन होता था, लेकिन सरकार के फैसले के कारण फैक्ट्री बंद कर रहे हैं।
शहर में गुरुवार से पॉलीबैग्स की सीलिंग होगी। प्रमुख सचिव फॉरेस्ट ऐंड एनवायरमेंट संजीव सरन ने संबंधित विभागों और कारोबारियों संग हुई बैठक में इस बारे में बताया। विभाग के सचिव एससी यादव के मुताबिक, डिस्ट्रिक्ट एनवायरमेंट कमिटी को गाइडलाइंस जारी कर दी गई हैं। हर जिले में डीएम कमिटी का इंचार्ज होगा। इसमें नगर निगम, पल्यूशन कंट्रोल बोर्ड, पुलिस और फॉरेस्ट सहित कई विभागों के अफसर होंगे।
पॉलीबैग की 63 फैक्ट्रियां बंद
देवा रोड स्थित देवेश पॉलिमर 15 दिन से बंद है। यहां 20 टन का स्टॉक है।
इंजीनियरिंग ऐंड टेक्नॉलजी के प्लास्टिक टेक्नॉलजिस्ट एके खरे के मुताबिक, कैरीबैग्स को रिसाइकिल इन्हें प्लास्टिक दाने में बदला जा सकेगा। बेहतर प्लास्टिक से टब, कुर्सी, टेबल, मग, बोतल और डिब्बे सहित दूसरे प्रॉडक्ट बनाए जा सकते हैं। कई बार रिसाइकिल प्लास्टिक से तिरपाल बनाया जा सकता है। इसका इस्तेमाल सड़क बनाने में भी हो सकता है। झारखंड और महाराष्ट्र में प्लास्टिक से बनी सड़के काफी टिकाऊ साबित हो रही हैं। 
एक्ट के निर्देशों के तहत सभी जिलों के डीएम को पॉलीबैग्स की जब्ती के दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। सीलिंग के बाद अदालत जो भी निर्देश देगी, उसके अनुरूप काम होगा। - NBT
Uttam Pradesh
Uttam Pradesh
facebook.com
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
Volunteers of UTTAM PRADESH during walkathon  organised by Transport Department Lucknow on 16 January 2016. #UttamPradesh
Photo
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

वाहन चलाने के नियमों को सीखने के बाद अब बच्चे अपने माता पिता व रिश्तेदारों को सड़क सुरक्षा जीवन रक्षा के उपाय बताएंगे। इस बात की शपथ परिवहन मंत्री ने बच्चों को दिलाई। बुधवार को सीएमएम गोमतीनगर में परिवहन विभाग की ओर से आयोजित 27 वें सड़क सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे बच्चों ने कहा कि वाहन चलाने के नियम जाने बगैर सड़क सुरक्षा जीवन रक्षा का नारा संभव नहीं है।परिवहन मंत्री यासर शाह ने कहा कि बच्चे के माध्यम से यातायात नियमों की जानकारी आम जनता तक आसानी से पहुंचायी जा सकती है। ऐसे कार्यक्रम बार-बार किए जाने की जरूरत है। कार्यक्रम में प्रमुख सचिव परिवहन अरविंद देव सिंह, परिवहन आयुक्त के रविंद्र नायक, उप परिवहन आयुक्त अरविंद पांडेय, आरटीओ सगीर अहमद अंसारी, आरटीओ (प्रवर्तन) लक्ष्मीकांत मिश्र, एआरटीओ प्रशासन रितु सिंह सहित कई कर्मचारी मौजूद थे। स्कूल के आसपास टीचर तैनात होंगे: स्कूल के 100 मीटर के दायरे में बच्चों की सुरक्षा के लिए नोडल टीचर तैनात किए जाएंगे। परिहवन आयुक्त के रविंद्र नायक ने कहा कि हर वर्ष स्कूल के 100 मीटर के दायरे में तकरीबन 1200 स्कूली छात्र-छात्रएं सड़क दुर्घटनाओं की चपेट में आ रहे है। इनकी रोकथाम के लिए जिलाधिकारी के साथ बैठक कर स्कूल के पास टीचर तैनात करने की तैयारी है। बच्चों ने यातायात नियमों का किया प्रदर्शन, मिला इनाम: एक दर्जन स्कूली बच्चों ने यातायात नियमों के बारे में जानकारी देते हुए चिन्हों का प्रदर्शन किया। इन बच्चों को परिवहन मंत्री ने पुरस्कार दिए। सेंट पॉल स्कूल के जिन बच्चों ने प्रदर्शन किया उनमें सूर्याश लाल, दिव्यांश सिंह, आदित्य सिन्हा, अनमोल बेरी, अजिर्त चक्रवती, अंशुमान पांडेय, वैभव तिवारी, जसवर दास, सिद्धांत चंद्रा, कार्तिक भार्गव, मानव सेठ, साश्वत, विश्ववर्धन सिंह व इजरा शामिल थे।
Add a comment...

ट्रैफिक मैनेजमेंट के गुण सीखेंगे पुलिसकर्मी
ट्रैफिक इवैलुएशन व पुलिसकर्मियों की ट्रेनिंग को अत्याधुनिक बनाने के लिए यह व्यवस्था की जा रही है। ट्रेनिंग के लिए ट्रैफिक सेल बनकर तैयार है। सेलेबस भी तैयार कर लिया है। जल्द ही इसे लागू कर पुलिसकर्मियों को पुलिसिंग, और ट्रैफिक मैनेजमेंट की कम्पलीट ट्रेनिंग दी जाएगी।
- सुलखान सिंह, डीजी ट्रेनिंग
जुलूस व धरना प्रदर्शन के लिए अलग चैप्टर
पाठ्यक्रम में जुलूस और धरना प्रदर्शन के दौरान रूट डायवर्जन और ट्रैफिक कंट्रोल के लिए बेहतर मैनेजमेंट को लेकर सेलेबस में अलग से चैप्टर रखा गया है। इसमें कितनी भीड़ होने पर क्या समस्या हो सकती है। उससे निपटने के लिए उपाय और रणनीति को लेकर भी कई महत्वपूर्ण बिंदु सुझाए गए हैं। चैप्टर पढ़ाने के बाद जुलूसों और प्रदर्शनों की विडियो दिखाकर भी पुलिसकर्मियों को यह बताया जाएगा कि वह किन हालातों में कैसी व्यवस्था करें।• सीतापुर एपीटीसी में ट्रेनिंग के लिए तैयार हो रहा ट्रैफिक सेल• एडीजी एपीटीसी की अध्यक्षता में कमिटी तैयार कर रही सिलेबस
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded