Profile cover photo
Profile photo
rajni nikhilarif
340 followers
340 followers
About
Posts

Post has attachment
संगीत के सात स्वर और सात चक्र
जय सगुरुदेव /\ स्नेही स्वजन ! संगीत के सात स्वर और सात चक्र --- नोट :- इस  लेख केवल वहीं काम करें  जो कला संगीत में साक्षरता प्राप्त हो अन्यथा किसी अनुभवी कलाकारों के सानिधय में रियाज या प्रेक्टिस में हैं ,अन्यथा इसके विपरीत परिणाम आ सकते हैं----- संगीत से....
Add a comment...

Post has attachment
षट्कर्म और तंत्र प्रतीक
जय
सदगुरुदेव /\  स्नेही
स्वजन ! आवाहन....... आवाहन ........आवाहन ....... परिक्ष्याकारिणी
श्रीश्चिरं तिष्ठति| अर्थात
“जो कार्य की सत्यता, असत्यता को समझकर जानकर कार्य में प्रवृत्त होता है ऐसे
व्यक्ति में लक्ष्मी चिरकाल तक निवास करती है” अधिकांशतः
हम साधना या...
Add a comment...

Post has attachment
भोपाल सेमीनार 5-6-7फरवरी
 NPRU निखिल परा विग्यान शोध इकाई भोपाल द्वारा एक अद्भुत कार्य शाला का आयोजन आमन्त्रण जीवन में अनेक समस्याये हैं और इस भागदौड़ की जिंदगी में हमारे पास समय है ही नहीं कि कुछ अलग कर सकें. अनेक  संस्थाये हैं जो कोइ ध्यान कराते हैं कोइ योग तो कोइ कुछ और.  किन्तु...
Add a comment...

Post has attachment
श्री विद्या
जय गुरुदेव /\ स्नेही स्वजन!  श्री विद्या का मूल स्वरूप क्या है?  ये प्रश्न मैने अति अबोधता और अनजाने में गुरुदेव से पूछ लिया | अब डर भी लग  रहा था कि गुरुदेव कही नाराज ना हों जायें | किंतु इसके विपरीत उन्होने मुझे मुस्कुरते हुये देखा और कहा, कृति अब तेरा  क...
श्री विद्या
श्री विद्या
nikhil-alchemy2.blogspot.com
Add a comment...

Post has attachment
षट्कर्म और सेमीनार
(आवाहन)  गोक्षीधारधवल घनसुन्दर खं, 
चिन्तामणि चतुर्वेदमयं जनेशः | गंधप्रियं चिन्मघं चिर्जिवितं त्यं, नमामि निखिलेश्वर पाद निर्मिलम || तांत्रिक षट्कर्म— “ तन्यते
विस्तार्यते ज्ञानमनेन इति तन्त्रं " अर्थात जिसके  आधार पर ज्ञान का विस्तार किया जाता है उसे
तंत्...
Add a comment...

Post has attachment
MERA SAFAR
जय सदगुरुदेव स्नेहिल
स्वजन ! वो
समय आ गया है जब कि मै आरिफ जी  के
पदचिन्हों पर चलते हुए आपको तंत्र मंत्र साधना और ज्ञान के अनेक आयाम जहा से हम
लोग गुजरकर यहाँ तक पहुंचे और इस राह में अनेक साधक अनेक गुरु भाई बहिन अनेक
सन्यासी साधकों ने हमारा मार्गदर्शन किया ...
Add a comment...

Post has attachment
**
                                                                              NPRU   PUBLICATION:              (निखिल परा
विज्ञान शोध इकाई) NPRU के कार्य- ·         त्रैमासिक
पत्रिका (तंत्र कौमुदी) एवं पुस्तक का प्रकाशन ·         मन्त्र,
तंत्र व यंत्रों पर ...
Add a comment...

Post has attachment
महा शिवरात्री अनुष्ठान
महाशिवरात्रि
अनुष्ठान पाशुपतेय साधना     जो निर्गुण है,
निराकार हैं, निर्मल और शांत हैं जो समस्त जड़ चेतन में विद्यमान है ऐंसे आदि गुरु
महादेव को श्रद्धा सुमन अर्पित हैं---  महाशिव रात्रि शिव
का अति प्रिय दिवस है, और इस दिन यदि जो भी चाहे साधना के माध्यम स...
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded