Profile cover photo
Profile photo
अवनीश त्रिपाठी
23 followers
23 followers
About
अवनीश's posts

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment
गीतिका का ताना-बाना
OM NEERAV, LUCKNOW -------------------------------------           प्रस्तावना - ग़ज़ल एक काव्य विधा है जिसका
प्रयोग किसी भी भाषा में किया जा सकता है ! इसलिए ग़ज़ल विधा को उर्दू की सीमित
परिधि से बाहर निकालकर विस्तार देने के लिए हिंदी में ग़ज़ल लेखन को प्रोत्साहित...

Post has attachment

Post has attachment
विधाएं- गीतिका का तानाबाना
OM NEERAV · WEDNESDAY, AUGUST 20, 2014 प्रस्तावना - ग़ज़ल एक काव्य विधा है जिसका प्रयोग किसी भी भाषा में किया जा सकता है ! इसलिए ग़ज़ल विधा को उर्दू की सीमित परिधि से बाहर निकालकर विस्तार देने के लिए हिंदी में ग़ज़ल लेखन को प्रोत्साहित करना आवश्यक है l बहती सरिता...

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment
विधाएं (२) मात्राभार
OM NEERAV · WEDNESDAY, JUNE 12, 2013 विधाएं : मात्राभार ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~ छन्द बद्ध रचना के लिये मात्राभार की गणना का ज्ञान आवश्यक है , इसके निम्न लिखित नियम हैं :- (१) ह्रस्व स्वरों की मात्रा १ होती है जिसे लघु कहते हैं , जैसे - अ, इ, उ, ऋ (२)...

Post has attachment
विधा- 'मुक्तक' का तानाबाना
By  Om Neerav  on  Thursday, June 6, 2013 at 11:28am =========================================== मुक्तक क्या है ? ~~~~~~~~~~~ मुक्तक एक सामान मात्राभार और समान लय (या समान बहर) वाले चार पदों की रचना है जिसका पहला , दूसरा और चौथा पद तुकान्त तथा तीसरा पद अतुक...

Post has attachment
Wait while more posts are being loaded