Profile cover photo
Profile photo
Nidhi Tandon
110 followers
110 followers
About
Nidhi Tandon's posts

Post has attachment
चुनना
तुमने चुनी अपनी सुविधा अपनी पसंद को जिया किसी और के मुताबिक़ चलना किसी के जज़्बातों की कद्र करना कभी ये सीखा ही कहाँ  तुम तो फिर तुम हो न आखिर अपने लिए जीते हो अपने लिए ही जियोगे बाक़ी किसी की परवाह भला क्यों करोगे यह जानते बूझते मैंने ठानी है तुमसे कुछ कहना ब...

Post has attachment
मुल्तवी
मुल्तवी कर दिया है... तुमसे कुछ कहना कि पता है ,सुनोगे नहीं सुन जो लिया तो समझोगे नहीं और गर समझ लिया तो भी...मानोगे कतई नहीं तो कहने का फायदा नहीं छोड़ो न... जाने देते हैं सारी कही अनकही बातें छोटी छोटी सी या कहानी लंबी सी दरमियां बची... इक ज़िन्दगी अजनबी सी

Post has attachment
अवसाद
बहुत घने साये हैं उदासी के दिन रात सब हैं बासी से क़दम फिसलते जा रहे हैं अवसाद के इस अंधे कुएं की ओर रोकना चाह कर भी चलता नहीं इनपे ज़ोर अच्छा बुरा लगना सब बंद हो गया है ऊपर से सब चाक चौबंद हो गया है पर असलियत कुछ और है तुम्हारी सख़्त ज़रूरत का दौर है कोई आस बच...

Post has attachment
शिक्षक दिवस
वही कुछ सीख पाया है जिसने सीखना चाहा है माँ बाप यार दोस्तों ने कुछ न कुछ सिखाया है हर तजुर्बा खुद बेमिसाल जिसने जीना बताया है हर सबक सीख लेगा वो उस्ताद उसका सरमाया है हादसों औ ज़ख्मों तक ने तरबीयत* को अपनाया है *teaching सीखने सिखाने वालों को आज के दिन की मु...

Post has attachment
PhotoPhotoPhotoPhotoPhoto
9/1/15
7 Photos - View album

Post has attachment
ख़्वाब हो तुम
क्या था वो सुबह को तो याद नहीं रहता जो बस होता रहता है इक अच्छा सा एहसास कि जो देखा वो था ख़ास उस ख़्वाब सरीखे हो तुम ख़्वाब हो तुम वही बने रहना खूबसूरत  प्यास बने रहना ख़्वाबों का होना ज़रूरी है बताते हैं ये कितनी तमन्नायें अधूरी हैं काली रातों की नाउम्मीदी में...

Post has attachment
उम्मीद
तू मुझसे रूठा तेरा साथ छूटा  ज़िन्दगी वीरान ख़ुशी न मुस्कान कहीं से कोई ख़बर आती नहीं तुम तक कोई डगर जाती नहीं तेरे सिवा ... न कोई था न कोई और है कहूँ क्या.... नाउम्मीदी का एक दौर है तेरी बातें तेरी यादें  ढाँढस बंधाती हैं मेरी आस का चिराग़ दिन रात जलाती हैं  क...

Post has attachment
ध्यान से सुनना तुम
इसे फुसला लेना तुम यूँ ही बहक जाएगा बुद्धु है दिल मेरा इक इशारा करना तुम साथ तुम्हारे चल देगा है पागल मनचला आवाज़ जो दोगे तुम हर हाल चला आएगा कि ज़िद्दी बड़ा कोई इम्तिहाँ हो तैयार ये जब जैसे चाहे आज़माना मन मेरा ... सरफिरा कान नहीं देते हो मेरी किसी बात पे पर इ...

Post has attachment
सुनो न
यार सुनो न एक बात कहनी है वो जो अपने होठों पे तुमने मुस्कान पहनी है वो यूँ ही सजाये रखना मैंने, तेरे हिस्से के सारे आंसू मांग लिए हैं रब से एवज में दे दी हैं अपने हिस्से की सारी खुशियाँ और हंसी। शर्त सिर्फ इतनी सी दिन हो या रात हो कैसे भी हालात हों यूँ ही आ...

Post has attachment
यायावर
यायावर हूँ घुमक्कड़ी...काम मेरा बेमतलब इधर उधर भटकते रहना बिन काम के यहाँ वहाँ फिरते रहना तेरे दिल के सिवा न घर न मकाँ मेरा तुमसे छूटा तो फिर कहीं बंध न सका ज़िन्दगी में इक ठौर कभी रुक न सका भागता रहा हमेशा कहीं थम न सका कोई चीज़ कोई बंधन मुझे कस न सका प्यार ख...
Wait while more posts are being loaded