Profile cover photo
Profile photo
Amar Nath
11 followers
11 followers
About
Posts

Post has attachment
**
यही हमारा धर्म ग्रंथ है। यही हमारा है अभिमान। इसकी इज्जत करना हमको। यही आधुनिक है विग्यान। सत्ता और सामंती व्यवस्था। की नजरों में खटक रहा यह, भारत का संविधान। संकट उनका यही ग्रंथ है, जिसमें समता भरी महान। -डॉ लाल रत्नाकर 
Add a comment...

Post has attachment
सपने नहीं झांसा है !
वह सपने दिखाकर आया था ? जो नहीं बन पाए मेरे अपने। वह सौदागर था सपने बेच लिया ? हम गरीबों को फिर से लूट लिया। हमें क्या पता था कि इसके सपने ! सपने नहीं झांसा है !  और जो इसका पेशा है। वह पेशेवर था कर गया पेशा ? जमा पूंजी को भी लूट लिया । कितनी कितनी तरकीबें ...
Add a comment...

Post has attachment
**
हमारे बुढ़ापे का सहारा तुमने तोड़ दिया हमें छोड़ दिया तुम्हारी बोलियां तुम्हारी गोलियां मेरे काम की नहीं रही। ठगहारे तुम्हारा स्वभाव नहीं बदला हमारी दुनिया बदल गई पहले गरीब की थी अब बे सहारे की हो गई। चलो आओ ? हम तुम्हारा इंतजार कर रहे हैं अबकी तुम्हारा हिस...
Add a comment...

Post has attachment
सातवें आसमान से !
मैं किसको किसको समझाऊं ! किसको किसको दर्द बताऊं । दर्द नहीं यह सच है हमारा ? किसको यह बात बताऊं । पागल कुत्ते सा भोंक रहा है। जिसको हमने दूध पिलाया। और मौके बेमौके सहलाया। सातवें आसमान से ! उसको चाँद भी हमने ! तोड़ तोड़कर ले आया ? -डॉ लाल रत्नाकर 
Add a comment...

Post has attachment
स्वाभिमान
स्वाभिमान सम्मान नहीं तो ! जीवन का मतलब ही क्या है। जीवन ही यदि नहीं स्वतंत्रत तो ! उसका गौरव गान कहां है ! रोज-रोज का सहते सहते। मानव का मनमाना व्यवहार। करता है अपमान रोज ही। जाति धर्म और राष्ट्र के नाम। दलदल में जो फंसा हुआ है। वह कैसे हो सकता महान। लगने ...
स्वाभिमान
स्वाभिमान
kavita-ratnakar.blogspot.com
Add a comment...

Post has attachment
घातक हो हथियार ?
मेरा मॉडल, तेरा मॉडल  कहते हो हमसे अच्छा है । चलो मान लेते हैं ? पर तू झांको मन में ! अपने जीत हार से परे ! व्यापार और दुराचार में ! राजनीती का क्या सरोकार ? शासन तंत्र को तहस नहश कर ! क्या कहते हो तेरा मॉडल ? सबसे अच्छा है ! नहीं शिकारी वक़्त नहीं है ? अभी ...
घातक हो हथियार ?
घातक हो हथियार ?
kavita-ratnakar.blogspot.com
Add a comment...

Post has attachment
माडल क्या होता है ।
मॉडल क्या होता है ?  समझ में नहीं आता ? समझने के लिये सबने ! राजनिती में एक माडल ! चुना था गुजरात माडल ! गुजरात के लिये वह माडल ! 2002 में वह खास बना था ! जब वहॉ इसका प्रयोग हुआ ! तब दिल्ली में उसी कंपनी ने ! रिजक्ट करने के बाद चुना था ! उस कंम्पनी का सी ए ...
Add a comment...

Post has attachment
आर्थिक आरक्षण कहाँ से आ गया है।
आर्थिक आरक्षण कहाँ से आ  गया है।  तुम्हारी मानसिकता को क्या हो गया है।  संविधान की वास्तविक मंशा से विज्ञ हो ? नहीं तुम आर्थिक आधार ही जानते हो ! क्योंकि तुम्हारा व्यवसाय आर्थिक ही है ! तुमने आर्थिक सत्ता की जड़ रखी है ! पूँजीपतिओं के गुलाम आज़ाद तो हो ! हम त...
Add a comment...

Post has attachment
वर्ष 2019 और हम !
नये वर्ष के  चहल पहल में  शामिल हैं हम सब  जो गाफ़िल हैं नये साल में ! सत्ता से बाहर हैं सत्ता के भीतर हैं मगर देश और राज्य से नित नित वादा करते हैं ठगते ही रहते हैं । हम समय काल से लूट के माल से तौबा तौबा करते हैं वह उनको यह उनको शातिर कहते हैं । डा.लाल रत...
वर्ष 2019 और हम !
वर्ष 2019 और हम !
kavita-ratnakar.blogspot.com
Add a comment...

Post has attachment
हमें कुछ कहना है
हमें कुछ कहना है ! मगर ऐसा कुछ नहीं कहना ! जिसमें लेश मात्र भी सच न हो ? मुझे कुछ कहना है ! मगर मुँह से कुछ नहीं कहना है ! मुझे कुछ कहना है ! अपने इन चित्रों के माध्यम से ! मेरा मानना है , अपनी रचनाओं के माध्यम से ! सच कहना है ! एसा सच जो ! हर वह व्यक्ति सम...
हमें कुछ कहना है
हमें कुछ कहना है
kavita-ratnakar.blogspot.com
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded