Profile cover photo
Profile photo
Astrologer Ankush Kakkar
About
Posts

Post is pinned.Post has attachment
भगवान श्री कृष्ण के काले रंग की Black Hole Theory.....

आपने Black Hole के बारे में अवश्य सुना होगा। क्या है Black Hole और इसकी कार्य प्रणाली क्या है ? इसे जानना बेहद रुचिकर है। मरता हुआ तारा यानि एक ऐसा तारा जो अपनी आयु पूरी कर चुका हो, वह कृष्ण विवर के रूप में शनैः शनैः समाप्ति की ओर अग्रसर होता है। Black Hole धीरे-धीरे सिकुड़ता चला जाता है। किंतु यदि कोई भी Object Black Hole में प्रविष्ट होता है तो वह पूरे तरीके से गायब हो जाता है। यानि यदि प्रकाश भी Black Hole में प्रवेश करता है तो अपना अस्तित्व खो देता है। एक बार इस रहस्यमय संसार में प्रवेश करने के पश्चात कोई भी वस्तु, ध्वनि, प्रकाश आदि की पुनर्वापसी संभव नहीं है।

ठीक इसी प्रकार श्रीकृष्ण के काले (श्याम) वर्ण की आप व्याख्या समझ सकते हैं। यानि काले कृष्ण में निष्ठापूर्वक समर्पित व्यक्ति भवसागर से पार हो जाता है। उसे इहलोक और परलोक दोनों के विविध संस्कारों से मुक्ति मिल जाती है।

जब भी कोई श्रीकृष्ण नामस्मरण करता है, उसे सभी की मुश्किलों से छुटकारा मिल जाता है। यह क्रिया ठीक Black Hole में वस्तु प्रवेश की घटना के समान है। सभी ईश्वरीय अवतारों के शरीर के रंग प्रतीकात्मक रूप से श्याम हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि श्याम वर्ण एक व्यापक संदर्भ देता है, जिसमें शामिल कोई भी रंग अपना वज़ूद खोकर “श्याम” हो जाता है ठीक इसी प्रकार श्रीकृष्ण को समर्पित व्यक्ति सभी दुनिया की बाधाओं को पार करके मोक्ष प्राप्त कर लेता है।
Photo
Add a comment...

शुभ समय या महूर्त और उच्च स्थान पर यन्त्र बनाने चाहिए ! हर कार्य के लिए विभिन्न यन्त्र बनाए जाते है और हर यन्त्र को सिद्ध करने के लिए अलग अलग मंत्र और विधि विधान है-
1 यंत्र को हमेशा मंदिर या गोलक में रखना चाहिए !
2 Daily इनके आगे धुप या अगरबती जलाया करें !
3 जब भी आप हवन करवाए तो यन्त्र की प्राण प्रतिष्ठा भी जरूर करवाए !
4 हर पूर्णमाशी को यन्त्र को गंगा जल से जरूर साफ़ करें !
5 यन्त्र के नीचे वस्त्र जरूर बिछाए !
www.astrogroups.com
Astrologer Ankush kakkar
9888878965
Add a comment...

Post has attachment
ॐ का जाप करने से आपके अंदर सकारात्मकत ऊर्जा बढ़ती है और शारीरिक तोर पर भी आप स्वस्थ रहते हैं|



सुबह और रात को सोने से पहले 5 से 10 मिनट पहले ॐ का उच्चारण रोजाना करने से हम स्वस्थ रहते हैं और अगर किसी को किसी तरह का कोई भी रोग हो इस उच्चारण को करने से उसे जरूर लाभ मिलेगा|



ध्यान रखें ॐ का उच्चारण मुंह से बोलकर करे तो अधिक फायदा होगा जब ॐ का उच्चारण करने से गले में कंपन पैदा होती है तो सकारात्मकत उर्जा बढ़ती है जो कि हमारे शरीर को स्वस्थ रखती है|



ॐ का उच्चारण करने से सिर्फ हमें ही नहीं बल्कि जिस जगह पर हम ॐ का उच्चारण करेंगे उस जगह पर भी सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है अगर कोई ॐ का उच्चारण सुनता है तो उसे भी इसका शुभ फल प्राप्त होता है जिस जगह ॐ का उच्चारण किया जाए उस जगह पर किसी भी तरह का नजर दोष नहीं लगता|
Photo
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
बांस का पौधा क्यु घर में लगाना चाहिए और बांस के पौधे में ऐसी क्या खूबी है जो हमे कई परेशानियों को दूर करता है|

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में अगर किसी प्रकार का वास्तु दोष है तो घर के मुख्य द्वार पर बांस की दो बांसुरी लटका देनी चाहिए। इसके हिलने से जो उर्जा उत्पन्न होती है वह वास्तु दोष एवं नकारात्मक उर्जा से घर को मुक्त बनाती है।

Bedroom में Bed के ऊपर बीम का होना वास्तु के अनुसार बहुत ही अशुभ होता है। इससे मानसिक तनाव एवं दांपत्य जीवन में दूरियां बढ़ती है। इस दोष को दूर करने के लिए सबसे आसान तरीका यह है कि दो बांसुरी लेकर उसे बीम के दोनों तरफ लाल फीते से बांध दें। इसमें यह ध्यान रखना चाहिए कि बांसुरी की मुंह Bed की ओर रहे|

बचपन में भगवान श्री कृष्ण हमेशा अपने पास बांस की बांसुरी रखते थे। इसका कारण भी संभवतः यही था कि उन पर हमेशा आसुरी शक्तियों का भय बना रहता था। आसुरी शक्तियों को कमज़ोर करने एवं उन पर विजय पाने में बांसुरी द्वारा उत्पन्न सकारात्मक उर्जा से उन्हें मदद मिलती थी।

यदि आप अपनी जन्मपत्री के हिसाब से शुभ अशुभ योग के बारे में जानना चाहता है तो आप Phone पर भी समाधान ले सकते है या हमसे online सम्पर्क कर सकते है-
Phone 9888878965
www.astrogroups.com



Photo
Add a comment...

Post has attachment
गणेश जी की सिन्दूर वाली मूर्ति या Photo के वास्तु शास्त्र के हिसाब से अनेक फायदे है-
जीन घरो में रसोई घर दक्षिण पूर्व यानि आग्नेय कोण में नहीं हो तब वास्तुदोष को दूर करने के लिए रसोई के उत्तर पूर्व यानि ईशान कोण में सिंदूरी गणेश जी की Photo लवाये|
ध्यान रखे रसोई घर में Non-Veg बिलकुल न बनाये |
North Facing घर के तरफ गणेश जी को सिंदूर वाली मूर्ति लगाए तो वास्तु दोष दूर होता है |
जिनकी कुंडली में बुध अस्त हो या बुध नीच का बैठा हो उन्हें घर के मंदिर में सिन्दूर वाली गणेश जी की Photo लगानी चाहिए |
संतान बाधा मुक्ति के लिए भी सिंदूरी गणेश जी की मूर्ति घर के मंदिर में रखे और रोजाना पूजा करे |
जिन बचो का पढ़ाई में मन न लग रहा हो उनके room में सिंदूरी गणेश जी की मूर्ति जरूर लगाए|
यदि आप अपनी जन्म पत्री के हिसाब से शुभ और अशुभ योग या वास्तु दोष के बारे में जानना चाहते है तो आप Phone पर भी समाधान ले सकते है या हमसे Online संपर्क कर सकते है|
Ph. 9888878965
ASTROLOGER ANKUSH KAKKAR
Photo
Add a comment...

Post has attachment
आज हम बात करेंगे शनि की साढ़ेसाती जोकि वृश्चिक धनु और मकर राशि वालों पर इस समय चल रही हैं लोग शनि के नाम से या शनि की साढ़ेसाती जब सुनते हैं कि उनके ऊपर शनि का प्रकोप है या शनि भारी है तो वह डर जाते हैं|
पर ASTROLOGER ANKUSH KAKKAR का कहना है कि शनि एक ऐसा ग्रह है जो कभी किसी का बुर नहीं करता |
कई विद्वान, लोगों को डरा देते कि आप पर शनि का प्रकोप है यदि आप यह समाधान नहीं करेंगे तो आपके साथ बुरा होगा शनि की साढ़ेसाती से बचने के लिए भी कुछ विशेष उपाय होते हैं जो कि हम लोगों के लिए बहुत ही फलदायक रहते हैं| इनमे से कई बातें हैं जो शनि की साढ़ेसाती होने पर ध्यान में रखनी चाहिए जैसे की जब साढ़ेसाती चल रही है उस समय में Nonveg बिल्कुल भी नहीं खाये है और ना ही शनिवार के दिन काला कपड़ा पहनना चाहिए|
अपनी कुंडली में शनि की साढ़ेसाती के बारे में जानने के लिए प्रभावित है उन्हें जानने के लिए आपको अपनी कुंडली बनवाना अत्यधिक आवश्यक ताकि हम आपके उस पाप ग्रह का उपाए करे जिस ग्रह की वजह से हमारी कुंडली पर शनि का दोष लग रहा है इसके लिए अपनी कुंडली जरूर दिखाए ताकि हम शनि ग्रह से शुभ फल प्राप्त करे |
Photo
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
Get the compatibility report by the expert astrologers of astrogroups.com. Hindu/Vedic Astrology has an excellent and proven methods of horoscope matching based on nakshatras (Lunar Constellations), which is called Ashtakoot milan or simply guna milan. This kundli matching method assigns points for factors that influence marriage. More the points, more chances of success of the marriage. Though this method is not restricted to marriage only and can be used for compatibility analysis between boy and girl.
Our
Kundali Compatibility Match
Kundali Compatibility Match
astrogroups.blogspot.com
Add a comment...

Post has attachment
सामुद्रिक शास्त्र ज्योतिष शास्त्र की महत्वपूर्ण शाखा
है। सामुद्रिक शास्त्र के आधार पर विभिन्न अंगों की
सरंचना को देख आप किसी भी जातक के
विषय में जान सकते हैं। खूबसूरत होंठ किसी
भी अनाकर्षक चेहरे को आकर्षक बना देते हैं।
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded