Profile

Cover photo
Sangeeta Kundra
5 followers|6,342 views
AboutPostsPhotosVideos

Stream

Sangeeta Kundra

Shared publicly  - 
 
273इंतहा हो गई है मेरे प्यार की मगर, उसे खबर ही नहीं। खोए हुए हैं वह अपनी दुनिया में इस कदर,कि उसे खबर ही नहीं। हमें गम ने बेकरार है कर दिया , जलने लगा है अब ,गम का दिया । इधर भी देख अपनी ही धुन में खोने वाले , आंसू बुला रहे...
1
Add a comment...

Sangeeta Kundra

Shared publicly  - 
 
272भोली सूरत तेरी देखकर हम लुट गए, दिल को तेरे पहचान ही न पाए। सूरत को ही तेरी दिल में उतारा, दिल में क्या है यह जान ही ना पाए । खुद को बस तुझ में ही बसा दिया , तुम किस तरफ जा रहे हो जान ही ना पाए । ख़्वाब सजाते रहे तुम्हा...
1
Add a comment...

Sangeeta Kundra

Shared publicly  - 
 
59 कैसी दीवानगी है इन लोगों की जिन्हें जी कर ही चैन नहीं वह मर कर क्या खाक चैन पाएंगे खुद को तो बर्बाद करेंगे ही , दूसरों को भी गम में साथ अपने रुलायेंगे । नहीं किसी को जो तुम्हारी दीवानगी कबूल, तो क्या जबरन ही अपनी बात मनवाएं...
1
Add a comment...

Sangeeta Kundra

Shared publicly  - 
 
271काश तुम भी समझ पाते ही चूड़ियों की जुबान । कर देते अपना सब कुछ हिना पर कुर्बान । इज़हार जो कर रही हैं ये समझ पाते। तुम भी अपने दिल की बात बताते । चूड़ियों ने तो कह दिया सब कुछ ,जो दिल में था । काश तुम भी कर देते, अपनी मोहब्...
1
Add a comment...

Sangeeta Kundra

Shared publicly  - 
 
कलाई जो सजी तेरी, चूड़ियों से, मेरे सीने में एक झंकार हुई । कोई सुन मेरे कानों से गुजर गया , मेरी जिंदगी सुरों का संसार हुई । इन्हीं सुरों में खो गया मैं , दुनिया मेरी गुलजार हुई। झनकती हुई चूड़ियों ने कुछ कहा , जो इनकी झनक दि...
1
Add a comment...

Sangeeta Kundra

Shared publicly  - 
 
**
269कभी-कभी बेताबी क्यों बढ़ जाती है इस कदर,  कि दिल संभाले नहीं संभलता।  खुद को भी रहती नहीं हमें अपनी खबर,  दिल में किसी जालिम का प्यार है पलता । तड़पने में मुझे रहती नहीं कोई कसर , और तड़पाने वाले को इसका पता भी नहीं चलता।  तन्हाइयों से हमारी रहते वो रहते ...
 ·  Translate
269कभी-कभी बेताबी क्यों बढ़ जाती है इस कदर, कि दिल संभाले नहीं संभलता। खुद को भी रहती नहीं हमें अपनी खबर, दिल में किसी जालिम का प्यार है पलता । तड़पने में मुझे रहती नहीं कोई कसर , और तड़पाने वाले को इसका पता भी नहीं चलता। ...
1
Add a comment...

Sangeeta Kundra

Shared publicly  - 
 
**
273इंतहा हो गई है मेरे प्यार की मगर, उसे खबर ही नहीं।  खोए हुए हैं वह अपनी दुनिया में इस कदर,कि उसे खबर ही नहीं। हमें गम ने बेकरार है कर दिया , जलने लगा है  अब ,गम का दिया । इधर भी देख अपनी ही धुन में खोने वाले , आंसू बुला रहे हैं ये,तेरे लिए रोने वाले। दिल...
 ·  Translate
273इंतहा हो गई है मेरे प्यार की मगर, उसे खबर ही नहीं। खोए हुए हैं वह अपनी दुनिया में इस कदर,कि उसे खबर ही नहीं। हमें गम ने बेकरार है कर दिया , जलने लगा है अब ,गम का दिया । इधर भी देख अपनी ही धुन में खोने वाले , आंसू बुला रहे...
1
Add a comment...

Sangeeta Kundra

Shared publicly  - 
 
**
272भोली सूरत तेरी देखकर हम लुट गए,  दिल को तेरे पहचान ही न पाए।  सूरत को ही तेरी दिल में उतारा,  दिल में क्या है यह जान ही ना पाए । खुद को बस तुझ में ही बसा दिया , तुम किस तरफ जा रहे हो जान ही ना पाए । ख़्वाब सजाते रहे तुम्हारे ही बस , हमारी आंखों के सपने झ...
 ·  Translate
272भोली सूरत तेरी देखकर हम लुट गए, दिल को तेरे पहचान ही न पाए। सूरत को ही तेरी दिल में उतारा, दिल में क्या है यह जान ही ना पाए । खुद को बस तुझ में ही बसा दिया , तुम किस तरफ जा रहे हो जान ही ना पाए । ख़्वाब सजाते रहे तुम्हा...
1
Add a comment...

Sangeeta Kundra

Shared publicly  - 
 
दीवानगी
59 कैसी दीवानगी है इन लोगों की जिन्हें जी कर ही चैन नहीं वह मर कर क्या खाक चैन पाएंगे खुद को तो बर्बाद करेंगे ही , दूसरों को भी गम में साथ अपने रुलायेंगे । नहीं किसी को जो तुम्हारी दीवानगी कबूल, तो क्या जबरन ही अपनी बात मनवाएंगे । जो इस तरह बात बनाई गई हो ,...
 ·  Translate
59 कैसी दीवानगी है इन लोगों की जिन्हें जी कर ही चैन नहीं वह मर कर क्या खाक चैन पाएंगे खुद को तो बर्बाद करेंगे ही , दूसरों को भी गम में साथ अपने रुलायेंगे । नहीं किसी को जो तुम्हारी दीवानगी कबूल, तो क्या जबरन ही अपनी बात मनवाएं...
1
Add a comment...

Sangeeta Kundra

Shared publicly  - 
 
**
271काश तुम भी समझ पाते ही चूड़ियों की जुबान । कर देते अपना सब कुछ हिना पर कुर्बान । इज़हार जो कर रही हैं ये समझ पाते।  तुम भी अपने दिल की बात बताते । चूड़ियों ने तो कह दिया सब कुछ ,जो दिल में था । काश तुम भी कर देते, अपनी मोहब्बत का इज़हार । इनकी झंकार तो ना ...
 ·  Translate
271काश तुम भी समझ पाते ही चूड़ियों की जुबान । कर देते अपना सब कुछ हिना पर कुर्बान । इज़हार जो कर रही हैं ये समझ पाते। तुम भी अपने दिल की बात बताते । चूड़ियों ने तो कह दिया सब कुछ ,जो दिल में था । काश तुम भी कर देते, अपनी मोहब्...
1
Add a comment...

Sangeeta Kundra

Shared publicly  - 
 
270 चूड़ियां
कलाई जो सजी तेरी, चूड़ियों से,  मेरे सीने में एक झंकार हुई । कोई सुन मेरे कानों से गुजर गया , मेरी जिंदगी सुरों का संसार हुई । इन्हीं सुरों में खो गया मैं , दुनिया मेरी गुलजार हुई। झनकती हुई चूड़ियों ने कुछ कहा , जो इनकी झनक दिल के आर पार हुई । इकरार इन्होंन...
 ·  Translate
कलाई जो सजी तेरी, चूड़ियों से, मेरे सीने में एक झंकार हुई । कोई सुन मेरे कानों से गुजर गया , मेरी जिंदगी सुरों का संसार हुई । इन्हीं सुरों में खो गया मैं , दुनिया मेरी गुलजार हुई। झनकती हुई चूड़ियों ने कुछ कहा , जो इनकी झनक दि...
1
Add a comment...

Sangeeta Kundra

Shared publicly  - 
 
268रोज उठती है तमन्ना ,दवा देते हैं । तड़प उठा है दिल ,मना लेते हैं । कह ना पाए कभी तुम्हें हाल-ए-दिल , तभी तो रोज खुद को सजा देते हैं । बात तुमसे कभी हो ना पाई, यूं ही झूठे ख्वाब मुलाकात के, सजा लेते हैं । यूं तो दिल तुम बिन...
1
Add a comment...
Basic Information
Gender
Female
Links