Profile cover photo
Profile photo
pankaj sharma
96 followers
96 followers
About
pankaj's posts

Post has attachment
Would you buy a new car with broken/missing bonnet as this is not a functional part?

But IFB thinks its right to sell dameged products

Post has attachment
चुनौती
कभी लुडकता सिर के बल और कभी घुटनो पर रेंगता, बार-2 गिरता तो  मां  मुझे उठती, मेरे आँसू पोंछ मुझे गले लगती, मेरी छोटी-2 उंगलियाँ पकड़ मुझे साहस दिलाती| गिरने का डर नहीं चलने का चाहत थी, फिर दौड़-2 कर मेने घर में आफ़त ला दी| होड़ थी आगे बढ़ने की, क्लास में अव...

Post has attachment
बदलते जामाने के बदलते दस्तूर
दिलों के जुड़ने के दस्तूर बदल गये बदते जमाने में दिल मिलने तरीके बदल गये कहाँ होता था हाले दिल का बयान नज़रोन से वो इज़हारे बयान अब ज़ुबान से नही apps से होते है पहले दिल मिलते थे बाज़ारो में मेलों में झुकती उठती नज़रें थे पैमाने आशिकी के दो शब्दो में लब थर...

Post has attachment
पल
जुदा-2 है राहें, मंज़िलें बदलती रहती
है अकसर, कभी एक चाकलेट की है
आरज़ू, कभी है इंतज़ार सैलरी
बढ़ने का, हर पल है जदोजहद, किसी चाहत को पाने
की, किसी प्यास को बुझाने
की, कोशिशें भरपूर है, पर कुछ पल अक़सर, चुनौती देते है, अपनी खुशी और अपनों
की खुशी, दो हाल बन ...

Post has attachment
पल
जुदा-2 है राहें, मंज़िलें बदलती रहती
है अकसर, कभी एक चाकलेट की है
आरज़ू, कभी है इंतज़ार सैलरी
बढ़ने का, हर पल है जदोजहद, किसी चाहत को पाने
की, किसी प्यास को बुझाने
की, कोशिशें भरपूर है, पर कुछ पल अक़सर, चुनौती देते है, अपनी खुशी और अपनों
की खुशी, दो हाल बन ...

Post has attachment
चिठ्ठी
असमंजस में हूँ आज बड़े दिनो बाद एक खत आया है नाम पता तो मेरा ही है पर जिसके लिए यह खत है वो अब नहीं रहता यहाँ पर कुछ 5 साल पहले एक पीपल के पेड़ के नीचे वो किसी का इंतज़ार करता रहा कई पहर नहीं लौटा फिर कभी वो अगर यह चिठ्ठी 5 साल पहले आ गयी होती तो एक   हस्ती...
Wait while more posts are being loaded