Profile cover photo
Profile photo
Prem Lata
26 followers
26 followers
About
Prem's posts

Post has attachment

Post has attachment
**
ग़ज़ल सुख़न पे ज़हन का इजारा नहीं है बहुत दिन हुए कुछ भी सोचा नहीं है ये यादें ,ये आहें, ये ख़्वाबों की दुनिया ... इस आलम में दिल मेरा तन्हा नहीं है है उसकी भी पलकें थकी सी,बुझी सी जगा के मुझे ख़ुद भी सोया नहीं है मोहब्बत में रुसवा हुए इस क़दर हम किसी तौर अब ख़ौफ़-ए...

Post has attachment
**
jab Pakistan mein senkdoN school ke bachhoN ko aatank ka shikar bnaaya tab yeh ghazal kahio thee ghazal दुःख दर्द के धुएं में अटा है जहान आज इंसानियत की चींख़ से फटते हैं कान आज DUKH DARD KE DHUYEN MEIN ATA HAI JAHAAN AAJ ... INSAANIYAT KI CHEENKH SE FAT-TE ...

Post has attachment

Post has attachment
**
ग़ज़ल Vo apna waada-e-ulphat nibaha dete to kya hota ... shghufta fool si soorat dikha dete to kya hota वो अपना वादा-ए-उल्फ़त निभा देते तो क्या होता शगुफ़्ता फूल सी सूरत दिखा देते तो क्या होता chhipayi har khataa meri bahut unki inaayat hai, vo hans kar taal ja...

Post has attachment

Post has attachment
**
ग़ज़ल ABR-E-NAISAn SI TUMAHARI ZINDGI KHAANA-E-VEERAn HMAARI ZINDGI अब्र-ए-नैसां सी तुम्हारी ज़िंदगी ... खाना-ए- वीरां हमारी ज़िंदगी PREM KO PYAARI TUMHARI ZINDGI ISHQ SE AARI HMAARI ZINDGI प्रेम को प्यारी तुम्हारी ज़िंदगी इश्क़ से आरी हमारी ज़िंदगी ZINDGI SE ZIND...

Post has attachment

Post has attachment
**
GHAZAL है कैसा यह रिश्तों का सब ताना बाना कहाँ इतना आसान रस्में निभाना? hai kaisa yeh rishto”n ka sab taana baana ... kahaa’N itna aasaa’N rasme nibhana मेरे हौसले पे खुदा भी है हैरान बनाया है खुद बिजलियों में ठिकाना mere hausle pe khuda bhi hai hairaan ...

Post has attachment
Wait while more posts are being loaded