Profile cover photo
Profile photo
Azaad Bharat Official
108 followers
108 followers
About
Azaad Bharat's posts

Post has attachment
वरिष्ठ नेता बीजेपी ड़ॉ.सुब्रमण्यम स्वामी ने बीबीसी से बात करते हुए कहा कि भारत के स्वतंत्रता संग्राम के दौरान महात्मा गाँधी ने कहा था कि अगर हमारे पास सत्ता आएगी तो मैं गोरक्षा के लिए काम करते हुए गोहत्या पर प्रतिबंध लगा दूँगा ।

🚩 #महात्मा_गाँधी ने साफ कहा था कि उनके लिए गाय का कल्याण अपनी आजादी से भी प्रिय है।

Post has attachment
तमिलनाडु में भारी सूखे की मार और कर्ज के बोझ के तले दबे करीब 100 किसान दिल्ली में जंतर मंतर पर 38 दिनों से आंदोलन कर रहे हैं, इसमें #महिलाएं भी शामिल हैं। और सरकार का ध्यान आकर्षित करने के लिये प्रदर्शनकारी विरोध प्रदर्शन के अलग-अलग तरीके अपना रहे हैं । विरोध प्रदर्शन करते रहे तमिलनाडु के किसानों का धैर्य शायद अब जवाब दे चुका है।

🚩सबसे पहले किसानों ने नर खोपड़ियों के साथ प्रदर्शन किया। उनके दावे के अनुसार, ये खोपड़ियाँ #आत्महत्या करने वाले किसानों की हैं ।

🚩किसानों का दावा है कि पिछले साल तमिलनाडु में कर्ज के बोझ तले दबे 400 किसानों ने #आत्महत्याएँ की ।

Post has attachment
🚩राजस्थान में जिस बालू में पापड़ सेक कर खाते है वहाँ पर हमारे जवान देश की सुरक्षा में लगे रहते हैं आज केवल राजनीति के कारण उनको न अच्छा भोजन #मुहैया करवाया जा रहा है और न ही लड़ने के लिए अच्छी साधन-सामग्री दी जा रही है और बड़ी बात तो यह है कि दुश्मन के सामने आने पर भी बिना ऑडर के गोली भी नही चला सकते भले उनकी जान भी चली जाए ।

🚩अफसर उनको #गुलाम बनाकर रखते हैं घर का काम करवाना, बच्चे की देखभाल करवाना, कुत्ते को घुमाना आदि काम करवाया जाता है ।

🚩चीन के बॉडर पर जवानों का हाल सुनकर रोंगटे खड़े हो जायेंगे ।

🚩उत्तराखंड के रिमखिम और लपथल वो इलाके हैं जहां पहुंचने के लिए सड़क मार्ग नहीं है। यहां हेलीकॉप्टर से ही आवा-जाही हो सकती है। भारत-चीन सीमा से लगते इस इलाके में अभी तक टीवी के कैमरे नहीं पहुंच सके थे । फिर भी हमारे देश के जाबांज जवान किसी भी #चुनौती का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए मुस्तैद हैं।

🚩रिमखिम/लपथल से बाराहोती सिर्फ 2 किलोमीटर की दूरी पर मौजूद है । बाड़ाहोती #भारत-चीन सीमा पर मौजूद विवादित क्षेत्र है। यहां बीते 10 साल में चीन 60 से 70 बार घुसपैठ कर चुका है। इस क्षेत्र में इन दिनों भी #तापमान माइनस में है। बाड़ाहोती मे 80 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में चारागाह फैला है। यहां चीन अपने चरवाहे भेजकर क्षेत्र पर दावा जताने की कोशिश करता रहता है।

Post has attachment
🚩क्या मस्जिदों पर दिन में पांच बार बजने वाले भोंपू देश के अधिनियमों से भी श्रेष्ठ हैं ?


🚩मुम्बई के उच्च #न्यायालय ने ध्वनिप्रदूषण करनेवाले अवैध भोंपूओं के विरोध में स्पष्ट आदेश देने के पश्चात भी विश्व में श्रेष्ठ कहलाने वाली मुंबई की #पुलिस यंत्रणा ने किसी भी मस्जिद पर प्रसारित किए जानेवाले अवैध भोंपूओं पर कार्रवाई नहीं की है ।


🚩इस संदर्भ में सूचना अधिकार के अंतर्गत प्रश्न पूछने के पश्चात कुर्ला, #मुंबई पुलिस अधिकारियों ने 28 जनवरी 2017 को इस अर्जी का लिखित स्वरूप में उत्तर दिया है। उसमें यह प्रस्तुत किया गया है कि, ‘कायदा-सुव्यवस्था का प्रश्न निर्माण होने की संभावना होने के कारण (अवैध भोंपूओं पर)कार्रवाई नहीं की गई है !’ इस का अर्थ यह होता है कि, क्या न्यायालय के आदेश देने के पश्चात भी अवैध #भोंपूओं पर कार्यवाई करने से पुलिस डरती हैं ? 


🚩वर्ष के 365 दिन #ध्वनिप्रदूषण करने वाले मस्जिदों के भोंपूओं की ओर अनदेखा करने वाली यही पुलिस गणेशोत्सव तथा नवरात्रोत्सव में हिन्दुओं के त्यौहारों के समय लाठी के बल पर हिन्दुओं पर त्वरित याचिका प्रविष्ट करती है।


🚩क्या पुलिस को यह बात स्वीकार है कि, मा. उच्च न्यायालय का आदेश तथा भारत के अधिनियम की अपेक्षा #मस्जिदों पर से बजनेवाले अवैध भोंपू अधिक श्रेष्ठ है ? अतः ‘मस्जिदों पर भोंपूओं द्वारा प्रसारित की जाने वाली तथा जनता की नींद उड़ाने वाली ‘अजान’ एक #गुंडागर्दी ही है’ ।


🚩यह सुविख्यात प्रसिध्द #गायक #सोनू_निगम द्वारा व्यक्त की गई भावना वास्तविक ही है । देश के करोड़ो #हिन्दू नागरिकों की सहनशीलता का अंत शासन अधिक समय तक न देखे’, ऐसी प्रतिक्रिया हिन्दू जनजागृति समिति द्वारा प्रसारित किए गए प्रसिद्ध पत्रक में कही गई है।


🚩प्रसिद्ध पत्रक में हिन्दू जनजागृति समिति ने यह आवाहन किया है कि, ‘ #तीन तलाक’ के संदर्भ में इस्लाम की स्थापना से शरीयत में होने के कारण उसमें परिवर्तन करने के लिए विरोध करनेवाले मुल्ला मौलावीं को सरकार यह प्रश्न पूछें कि, यदि #इस्लाम की स्थापना के समय ये भोंपुं अस्तित्व में ही नहीं थे, तो उसका आग्रह क्यों किया जाता है ? #मुल्लाओं के मतानुसार इस्लाम यदि अन्य धर्मों के प्रति संवेदना व्यक्त करनेवाला पंथ है, तो देश के अधिनियम की ओर अनदेखा कर रुग्ण, वृद्ध तथा सर्वसाधारण जनता को कष्ट देनेवाले भोंपुओं द्वारा अजान किस लिए दी जाती है ? इससे पूर्व सत्ता में होने वाले कांग्रेस सरकार ने मस्जिदों पर भोंपुओं द्वारा अजान प्रसारित करने के लिए अनुमती देकर यह समस्या का निर्माण किया है !


🚩अब देश में तथा राज्य मे शासन परिवर्तित हुआ है। अतः नए #भाजपा सरकार ने इस लांगूलचालन पर प्रतिबंध डालना चाहिए। यदि चीन की साम्यवादी सरकार इस संदर्भ में कडी भूमिका अपनाती है, तो भाजपा सरकार ने भी अवैध रूप से की जानेवाली यह गुंडागर्दी को प्रतिबंधित करना चाहिए !’ स्त्रोत : दैनिक सनातन प्रभात


🚩आपको बता दे कि चीन ने पहले मस्जिदों पर से #लाऊड_स्पीकर हटा दिया गया था बाद में नमाज पढ़ने और रोजा रखने पर प्रतिबंध लगाया।  अब #दाढ़ी रखने और महिलाओँ के नकाब पहनने पर प्रतिबंध लगा दिया है। यह नियम न मानने वालो पर देशद्रोह का केस चलाया जाता है ।


🚩बता दे की मुस्लिम बाहुल देश इसरायल में लाऊड स्पीकर पर बेन लग रही है और यहाँ #न्यायालय के आदेश होने के बाद भी सरकार रोक नही लगा रही है?


🚩हिंदुओं के लिये तुरन्त कार्यवाही करने वाली #सरकार मुसलमानों द्वारा रास्ते में नमाज पढ़ने पर कई इलाकों में ट्रैफिक जाम होने की समस्या से आम जनता की परेशानी को देखते हुए भी उस पर रोक नही लगा रही, बड़ा आश्चर्य है ।


🚩आपको बता दें कि फ्रांस के #पेरिस में #ISI के हमले के बाद फ्रांस में कई मस्जिदों को ताला लगा दिया था और कई मस्जिदों तोड़ दी गई थी ।


🚩इन मस्जिदों में #धार्मिक विचारों के प्रचार के नाम पर कट्टरवादी(देश विरोधी)#शिक्षा दी जाती है। कई मस्जिदों पर छापे के दौरान जेहादी #दस्तावेज बरामद किए गए है। जेहादी प्रचार सामग्री मिली ।


🚩फ़्रांस ने तो समझ लिया कि देश को तोड़ने के लिये विदेशी फण्ड से चलने वाली मस्जिदों में आतंकवादी बनने की ट्रेंनिग दी जाती है और देश विरोधी बातें सिखाई जाती है । 


🚩#देश में #हिंदुओं पर #मुस्लिमों के बढ़ते आतंक की हालत देखकर #भारत_सरकार को फ्रांस चीन, इजरायल से सीख लेनी चाहिए और मुस्लिमों की बढ़ती संख्या पर नियंत्रण करना चाहिये ।


🚩आज लव जिहाद के लिए विदेश से पैसा आता है और #ISIS में जो मुस्लिम #युवक- #युवतियाँ भर्ती होने जाते है उस पर रोक लगनी चाहिए । 


🚩देश को बाहरी #आतंकवादियो से इतना खतरा नही जितना इन जिहादियों से है इसलिए सरकार को जाँच करवानी चाहिए कि विदेशी फंड से जितनी भी मस्जिदें चल रही है उसमें जो देश विरोधी बातें सिखाई जाती है ऐसे  मदरसों और मस्जिदों को बंद कर देना चाहिए जिससे देश सुरक्षित रहें और सुख शांति बनी रहें ।


🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻


🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk


🔺Facebook : https://goo.gl/immrEZ


🔺 Twitter : https://goo.gl/he8Dib


🔺 Instagram : https://goo.gl/PWhd2m


🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX


🔺Blogger : https://goo.gl/N4iSfr


🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG


🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ


   🚩🇮🇳🚩 आज़ाद भारत🚩🇮🇳🚩



Photo

Post has attachment
हिंदूवादी सरकार आने के बाद भी हिन्दुत्वनिष्ठों पर बरस रहा है कहर


उत्तर प्रदेश गाजियाबाद में रविवार को हनुमान छठी पर पुलिस द्वारा शोभायात्रा न निकालने देने पर हिन्दूवादी नेता पिंकी चौधरी अपने कार्यालय पहुंच गए थे । जहां पुलिस ने जाकर बेरहमी से हिन्दू रक्षा दल कार्यकर्ताओ पर #लाठीचार्ज किया एवं उनके वाहनों को क्रेन से उठा लिया और गिरफ्तार कर जेल भेज दिया ।

Post has attachment
🚩उत्तरप्रदेश समेत अलग-अलग राज्यों में अवैध #बूचड़खानों के विरुद्ध मुहिम शुरू किए जाने के बीच आरटीआई से पता चला है कि, देश में केवल 1707 बूचड़खाने खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम 2006 के तहत #पंजीकृत हैं।

🚩सबसे ज्यादा पंजीकृत बूचड़खाने वाले राज्यों में क्रमश: तमिलनाडु, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र शीर्ष तीन स्थानों पर हैं, जबकि अरुणाचल प्रदेश और चंडीगढ़ समेत आठ राज्यों में एक भी बूचड़खाना पंजीकृत नहीं है। 

Post has attachment
🚩44 महीनों से बिना सबूत जेल में बन्द संत आसारामजी बापू, लेकिन देश-विदेश में फैले उनके अनुयायियों ने उनका अवतरण दिवस बड़ी धूम-धाम से मनाया ।

🚩किसी का जन्म दिवस होता है तो हम केक काटते हैं । मोमबत्ती जलाते हैं, बड़ी बड़ी पार्टियां करते हैं । लेकिन संत आसारामजी बापू के अनुयायियों ने उनका अवतरण दिन कुछ अनोखे ही अंदाज में मनाया ।

🚩आइये जाने कि कैसे मनाते हैं संत आसारामजी बापू के अनुयायी उनका अवतरण दिवस...

Post has attachment
🚩संत आशारामजी बापू का बचपन का नाम आसुमल था । बापू का जन्म #अखंड भारत के सिंध प्रांत के बेराणी #गाँव में चैत्र कृष्ण षष्ठी विक्रम संवत् १९९४ (1 मई 1937) के दिन हुआ था । उनकी माता #महँगीबा व पिताजी #थाऊमल नगरसेठ थे ।

🚩बालक #आसुमल को देखते ही उनके कुलगुरु ने #भविष्यवाणी की थी कि "आगे चलकर यह बालक एक महान संत बनेगा, लोगों का उद्धार करेगा ।"

🚩संत आसारामजी बापू का #बाल्यकाल संघर्षों की एक लंबी कहानी है। 1947 में भारत-पाकिस्तान विभाजन के कारण अथाह सम्पत्ति को छोड़कर बालक आसुमल #परिवार सहित अहमदाबाद आ बसे। उनके पिताजी द्वारा लकड़ी और कोयले का व्यवसाय आरम्भ करने से आर्थिक परिस्थिति में सुधार होने लगा । तत्पश्चात् शक्कर का व्यवसाय भी आरम्भ हो गया ।

🚩माता-पिता के अतिरिक्त बालक आसुमल के परिवार में एक बड़े भाई तथा दो छोटी बहनें थी। 

Post has attachment

🚩मेनका गांधी ने कहा कि बॉलिवुड में महिलाओं से जुड़े अशोभनीय दृश्यों के कारण देश में हिंसा की घटनाएं बढ़ी हैं और महिलाओं के साथ छेड़छाडी होती है ।

🚩मेनका ने कहा, ‘फिल्मों में रोमांस की शुरुआत छेड़छाड़ से होती है।लगभग सभी फिल्मों में छेड़छाड़ को बढ़ावा दिया जाता है। फिल्मों में रोमांस की शुरुआत ही छेड़छाड़ के साथ शुरू होती है। लड़का और उसके दोस्त लड़की के इर्द-गिर्द घूमते हैं। उसके साथ आते-जाते हैं, उन्हें गाली देते हैं, वह उसे छूता है और आखिरकार लड़की उसके प्यार में पड़ जाती है। उन्होंने कहा कि इन सारी चीजों को करने के लिए पुरुष फिल्में देखकर प्रेरणा लेते हैं। मेनका गांधी ने फिल्मकारों और विज्ञान बनाने वालों से अपील की कि वे महिलाओं की अच्छी छवि को दिखाएं। 

Post has attachment
🚩छात्र ने कहा - बाइबिल नहीं वन्दे मातरम् गाऊँगा .. बस फिर क्या था !!
उसकी जिंदगी और कैरियर दोनों हो गए तबाह !!

🚩ये कृत्य बहुत पहले से चल रहा था । उसे सब जानते थे । कानून मंत्रालय भी और शिक्षा मंत्रालय भी। सब आँख मूँद कर देख रहे थे पर इसका विरोध करने की हिम्मत नहीं की । जब एक छात्र ने हिम्मत की तो उसकी जिंदगी और कैरियर को कर डाला बर्बाद ।

🚩मामला इलाहाबाद के नैनी क्षेत्र स्थित शियाट्स कालेज का है। वहां बहुत पुराना नियम है कि वहां प्रार्थना हमेशा बाइबिल की करवाई जाती है। काफी लम्बे समय से ये सब वहां चलता आ रहा है ।कभी किसी ने इसके खिलाफ आवाज नहीं उठाई, भले ही वो किसी धर्म,पंथ या मजहब से रहे हो , वो चुपचाप बाइबिल गाते रहे । अचानक कुछ लोगों को बदले परिवेश और माहौल में ये कार्य थोड़ा उचित नहीं लगा।उन्होंने सोचा कि एक वर्ग भर को सम्बोधित करने वाली बाइबिल के बजाय यहाँ सम्पूर्ण भारत को सम्बोधित करता हुआ वन्दे मातरम् का गान होना चाहिए और इसी आशा और उम्मीद के साथ एक PHD छात्र अभय ने कालेज प्रबंधन को प्रार्थना पत्र दे दिया । 
Wait while more posts are being loaded