Profile cover photo
Profile photo
Shaily Chaturvedi
53 followers
53 followers
About
Posts

Post has attachment

Post has attachment
हथेली का सूर्य
हथेलियाँ फैलाये , गंगाजल हाथ में लिए ,  आचमन करते हुए ,  उगता सूरज हाथों में ,  प्रतिबिंबित होते देखा ,  मेरे हाथ में ही प्रकाश है , हाथ से उगेगा सूर्य ,  ह्रदय तक जाएगा ,  पूरे तन में रश्मियाँ फैलेंगी ,  कभी हो सकता है ,  ताप ज़यादा तेज हो जाये ,  उस समय त...

Post has attachment
क्या कहें , क्या नहीं ....
कुछ कहा भी नहीं और कुछ सुना भी नहीं , ख्वाब देखा भी नहीं , ख्याल कुछ बुना भी नहीं। इश्क़  लहर है, एक सिम्त कहाँ  बहती है , डूब के देखा है, ये आग का दरिया भी नहीं। तैरते बहते रहे और कभी उबरे डूबे , इतना मुश्किल भी नहीं और ये आसां भी नहीं। दिल को हैरां  किया ...

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment
दुनिया को गलत कहते रहते हैं हम सब. अपने गिरेबान में झांका तो देखा मैं भी कुछ ख़ास नहीं :(

Post has attachment
दुनिया को गलत कहते रहते हैं हम सब. अपने गिरेबान में झांका तो देखा मैं भी कुछ ख़ास नहीं :(

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment
Wait while more posts are being loaded