Profile cover photo
Profile photo
rashmi savita
983 followers
983 followers
About
Posts

Post has attachment
.....................
मेरे शब्दों के अर्थ,
कभी मिले नहीं मुझे, 
और अब जो मिले,
वो बस हैं उनके
'विलोम शब्द'।
Add a comment...

Post has attachment
........................
गाँठ भर गहनों, 
मांग भर सिन्दूर ,
हाथ भर चूड़ियों, 
और कुछ
सुन्दर कपड़ों के बदले,
...........................
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
जानती हूँ,

वापस नहीं लौटता समय 
पर दिल, 
फिर भी चाहता है 
लौट जाना, 
.................
Add a comment...

Post has attachment
........
ये स्वाभाविक,
लेने-देने की रस्में हैं, 
होती ही हैं,
प्रीत अगर हो,
रीत नहीं फिर, 
कभी बांधती, 
ये बंधन फिर,
बंधते नहीं हैं, 
ले लेते हैं अंकपाश में, 
बड़े प्यार से,
...............
Add a comment...

Post has attachment
"इसे,ये मीठा शहद, और है तीखी मिर्ची"
ये पूरे की मांग नहीं है, न ही अधूरेपन की, खलिश है, न ही प्रार्थना, न ही विनय है, ये स्वाभाविक, लेने-देने की रस्में हैं,  होती ही हैं, प्रीत अगर हो, रीत नहीं फिर,  कभी बांधती,  ये बंधन फिर, बंधते नहीं हैं,  ले लेते हैं अंकपाश में,  बड़े प्यार से, मानोगे तो, ए...
Add a comment...

Post has attachment
" सपनों की क्या बात करें"
सपनों की क्या बात करें... जो मिला नियति से, उसको लें हथियार बना,  अवनति से, दो दो हाथ करें,  सपनों की क्या बात करें... जो चलते है तलवारों पर,  उनको असिधारों से क्या डर,  कर्मप्राँगण में आओ, ना रहो, हाथ पर हाथ धरे, सपनों की क्या बात करें...   विगतागत को साथ ...
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
"इतना क्या उदास होना"
इतना क्या  उदास होना; ये लम्बे रास्ते  हैं,  हैं मगर कुछ दूर तक ही,  उम्र को यूँ अज़ल तक ढोना नहीं है,  हर कुछ, तपे जो आग में, सोना नहीं है।   यूँ पूरी किसी की होती नहीं हैं तमन्नायें, इत्तिफ़ाक़न नहीं है ये ज़िन्दगी में  काश होना;  इतना क्या  उदास होना;  समझ क...
Add a comment...

Post has attachment
"इतना क्या उदास होना"
इतना क्या  उदास होना; ये लम्बे रास्ते  हैं,  हैं मगर कुछ दूर तक ही,  उम्र को यूँ अज़ल तक ढोना नहीं है,  हर कुछ, तपे जो आग में, सोना नहीं है।   यूँ पूरी किसी की होती नहीं हैं तमन्नायें, इत्तिफ़ाक़न नहीं है ये ज़िन्दगी में  काश होना;  इतना क्या  उदास होना;  समझ क...
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded