Profile cover photo
Profile photo
Punya Darshan
About
Posts

Post has attachment
#Punyadarshan #ThillaiNatarajaTemple #NatarajaTemple #Chidambaram #Hindusanctuary #LordShiva #TamilNadu #SouthIndia #famoustemple #famoushindutemple #greattemple
Thillai Nataraja Temple, Chidambaram is a Hindu sanctuary devoted to Lord Shiva situated in the town of Chidambaram, East-Central Tamil Nadu, South India. The sanctuary is known as the premiere of all sanctuaries (Kovil) to Saivites and has impacted love, engineering, model, and execution craftsmanship for more than two millennia.
For more information visit our website: http://punyadarshan.com
Photo
Add a comment...

Post has attachment
#Punyadarshan
#ChennakesavaTemple, #VijayanarayanaTemple, #famoustemple, #hindutemple, #indiantemple, #famoushindutemple, #Karnataka, #India
The old sanctuaries of Karnataka's Hassan region are a compositional ponders. Furthermore, the town of Belur is home to one of the most fantastic cases of Hoysala engineering, the Chennakesava Temple (Also Chennakeshava).
For more information visit our website: http://punyadarshan.com
Photo
Add a comment...

Post has attachment
#punyadarshan, #RanganathaswamyTemple, #SriRanganathaswamyTempl,e #SriRanganathaswamy, #Temple, #Srirangam, #Tiruchirappalli, #TamilNadu, #Indiantemple, #famousindiantemple, #hindutemple, #india
The Ranganathaswamy Temple is a hallowed Hindu place of worship situated in Srirangam, Tiruchirapalli, in the South Indian province of Tamil Nadu. Arranged on a charming island in the River Cauvery, the sanctum is otherwise called Thiruvarangam and devoted to Lord Ranganatha, an Avatar of Lord Vishnu who is portrayed in a leaning back stance.
for more information please visit our website: http://punyadarshan.com/
Photo
Add a comment...

Post has attachment
#Punyadarshan #SabarimalaTemple #Sabarimala #Temple #PeriyarTigerReserve #WesternGhats #hindutemple #famousindiantemple #india #indianfamoustemple
Sabarimala Temple is an antiquated mountain sanctum situated in the Pathanamthitta locale in Kerala. This lovely sanctuary is arranged on the virgin Sabari Hills in a profound, thick timberland. A huge number of travelers visit this sanctuary consistently amid Mandalakalam (from November to mid-January) to look for favors from the kid god, Lord Ayyappa.
For more information visit our website: http://punyadarshan.com
Photo
Add a comment...

Post has attachment

Post has attachment
#punyadarshan, #sanchistupainformation, #sanchistupaimages, #featuresofsanchistupa, #sanchistupa, #MadhyaPradesh, #sanchistupahistory, #sanchistupafacts, #Stupas, #IndianHistory, #historyofIndia,
The gigantic Sanchi Stupa is a famous in the most censorial Buddhist land label reflecting pearl of Buddhist craftsmanship and building. Set in Sanchi Stupa Town, Madhya Pradesh, India, Stupa is the most prepared stone creation in India that was worked in the midst of the Mauryan period.
For More information visit our website: www.punyadarshan.com
Photo
Add a comment...

Post has attachment
#punyadarshan, #VitthalaTemple, #VitthalaTemplehampi, #VitthalaTemplephoto, #VitthalaTemplemusicalpillars, #vittalatempleinformation, #VitthalaTemplearchitecture, #vittalatempletiming
The Vittala Temple or Vitthala Temple in Hampi is an antiquated landmark that is outstanding for its remarkable engineering and unmatched craftsmanship. It is thought to be one of the biggest and the most celebrated structure in Hampi. Vitthala Temple is situated in the northeastern piece of Hampi, close to the banks of the Tungabhadra River.
For More information visit our website: www.punyadarshan.com
Photo
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
#Punyadarshan, #shrinathjitemplehistory, #shrinathjitempledarshan, #shrinathjitemplerajasthanphotos, #nathdwaratempleimages, #shrinathjitemple

श्रीनाथद्वारा शहर पुष्टिमार्गिय वैष्णव सम्प्रदाय का प्रधान पीठ है जहाँ भगवान श्रीनाथजी का विश्व प्रसिद्ध मंदिर स्थित है। प्रभु श्रीजी का प्राकट्य ब्रज के गोवर्धन पर्वत पर जतिपुरा गाँव के निकट हुआ था। महाप्रभु वल्लभाचार्य जी ने यहाँ जतिपुरा गाँव में मंदिर का निर्माण करा सेवा प्रारंभ की थी। भारत के मुगलकालीन शासक अकबर से लेकर औरंगजेब तक का इतिहास पुष्टि संप्रदाय के इतिहास के समानान्तर यात्रा करता रहा।सम्राट अकबर ने पुष्टि संप्रदाय की भावनाओंको स्वीकार किया था। मंदिर गुसाईं श्री विट्ठलनाथजी के समय सम्राट की बेगम बीबी ताज तो श्रीनाथजी की परम भक्त थी तथा तानसेन, बीरबल, टोडरमल तक पुष्टि भक्ति मार्ग के उपासक रहे थे। श्री नाथ जी का मंदिर काफी विशाल है | मंदिर में प्रवेश करने के लिए तीन दरवाजे है | मुख्य दरवाजा मोती महल कहलाता है | मोती महल सबसे सामने की तरफ बड़ा दरवाजा है जो चोपाटी की तरफ खुलता है | चोपाटी को नाथद्वारा की ह्रदय स्थली कहते है | चोपाटी से मोतीमहल दरवाजे को एक सुन्दर सा ढलान जोड़ता है | यह ढलान करीब 100 फीट का होगा | ढलान के बीच में एक तरफ पुस्तकालय हे जिसे साहित्य मंडल कहते है | यह शाम को 7 बजे के करीब खुलता है | ढलान के बाद एक बड़ा सा दरवाजा मोतोमहल दरवाजे के नाम से है | दरवाजे के अन्दर एक बड़ा सा चोक है जिसे मोती महल कहते है | मोती महल के बिच में एक फव्वारा लगा हुआ है | मोती महल पार कर एक संगमरमर की गली के द्वारा श्री लालन तह जाया जाता है | श्री लालन श्री नाथ जी का बाल स्वरूप है | वहा लालन के दर्शन किये जा सकते है | श्री लालन के बायीं तरफ श्री नाथ जी की बैठक एवं मुखिया जी इत्यादी की पुरानी तस्वीरे इत्यादि उस बैठक में लगी हुई देखि जा सकती है | एवं श्री लालन के बाद श्री नाथ जी के दर्शन के इन्तेजार के चोक में जाया जा सकता है | जो की नक्कार खाना दरवाजा से जुडा हुआ है |
श्री नाथ जी की बड़ी सुन्दर , मनमोहक काले रंग की संगमरमर की प्रतिमा है जिनके मुख के निचे ठोड़ी में एक बड़ा सा हिरा जड़ा हुआ है | श्री नाथ जी के प्रत्येक दर्शन का श्रृंगार अलग होता है | एवं प्रत्येक श्रंगार के लिए नए कपडे बनते है | इसके लिए नक्कार खाना दरवाजा के वहा दरजी खाना है जो कपडे सिलने का काम करता है | एवं इसी के निचे आदमियों के इन्तेजार करने का चौक है | ईस चौक में साइड में दूद इत्यादि लेकर कुछ लोग बेठे रहते है | जो कुछ शुल्क लेकर श्री नाथ जी को दूद इत्यादि देते है जो पास ही में श्री नाथ जी की सेवा के लिए जमा होता है | श्री नाथ जी के दर्शन कर किसका मन भाव विभोर नहीं होता है |

For More information visit our website: www.punyadarshan.com
Photo
Add a comment...

Post has attachment
Wait while more posts are being loaded