Profile cover photo
Profile photo
RD PRAJAPATI
92 followers -
www.travelwithrd.com
www.travelwithrd.com

92 followers
About
Communities and Collections
Posts

Post is pinned.Post has attachment
अंडमान का कार्यक्रम कैसे बनायें? (How to plan Andman Trip)
दोस्तों अब तक मैंने अंडमान के लगभग सारे मुख्य स्थानों के बारे अपना यात्रा वृतांत आपके साथ साझा कर दिया है। फिर भी संक्षिप्त रूप में एक और पोस्ट लिख रहा हूँ ताकि आपको भी अंडमान का कार्यक्रम बनाने में कुछ मदद मिल सके। अंडमान मुख्य भूमि से काफी दूर है, इसलिए ढ...

Post has attachment

Post has attachment
पूर्वोत्तर भारत: इनर लाइन परमिट कैसे प्राप्त करें? (How to Obtain Inner Line Permit for North East India)
यूँ तो अपने देश में एक नागरिक को किसी भी राज्य या भूभाग में बिना किसी रोक-टोक के स्वछन्द यात्रा करने की अनुमति संविधान के द्वारा प्राप्त है, फिर भी बहुत कम लोगों को इस बात की जानकारी है की देश के कुछ संवेदनशील इलाके ऐसे भी हैं जहाँ एक आम नागरिक को पहुँचने क...

Post has attachment

Post has attachment
RD PRAJAPATI commented on a post on Blogger.

Post has attachment

Post has attachment
मुकुटमणिपुर बांध (Mukutmanipur Dam: Second largest earthen dam of India)
नदियों पर बांधों का निर्माण तो वैसे बहुत सारे उद्देश्यों के लिए किया जाता है, फिर भी इनके पीछे औद्योगिक कारण ही प्रधान होते हैं। कुछ बांध तो इतने खास बन जाते हैं की अनायास ही इनसे कब पर्यटन जुड़ जाता है, पता नहीं चलता। भारत के सबसे बड़े बांधों में टिहरी, भाखड़...

Post has attachment

Post has attachment
हुंडरू जलप्रपात: झारखण्ड का गौरव (Hundru Waterfalls: The Pride of Jharkhand)
झारखण्ड एक पठारी राज्य है और अपने जलप्रपातों के लिए काफी प्रसिद्द है। सबसे अच्छी बात यह है की तीन मुख्य जल प्रपात दशमफॉल , जोन्हा और हुंडरू तो राजधानी रांची के आस-पास ही हैं, बाकि कुछ अन्य प्रपात भी रांची से सौ-डेढ़ सौ किमी के अंदर ही हैं। दशमफॉल   की यात्रा...

Post has attachment
चेरापूँजी की ओर: दुनिया के सर्वाधिक वर्षा वाले स्थानों में से एक (Cherapunjee: One of the wettest land on the Earth)
मेघालय! जिसका नाम सुनते ही बादलों का ख्याल आता है और चेरापूंजी का नाम सुनते ही बरसात का ख्याल आता है! एक समय यह दुनिया का सबसे अधिक वर्षा वाला स्थान था लेकिन पड़ोस के मसीनराम ने इसे दूसरे पायदान पर खिसका दिया है, फिर भी अभी तक चेरापूंजी ही अधिक प्रसिद्द है। ...
Wait while more posts are being loaded