Profile cover photo
Profile photo
Mohan Siddharth
44 followers -
This is Me!
This is Me!

44 followers
About
Mohan Siddharth's posts

Post has attachment

Post has attachment
आखिरकार
आमद की आहट सुनाई देने लगी है, सर्द जाड़ों की बर्फ कुछ पिघलने लगी है, वगरना इस ही गुमान में जिए जा रहे थे, न होगा कुछ, सब तर्क किये जा रहे थे, जैसे बुना गया था वो तिलिस्मी ग़ालीचा, बयाबान सा दिल मेरा आज बना है बाग़ीचा, फितरत के सिलसिले भला सँभलते हैं कहाँ, इस ह...

Post has attachment
Wait while more posts are being loaded