Profile cover photo
Profile photo
ranjana bhatia
4,775 followers
4,775 followers
About
ranjana's posts

Post has attachment
भर्म की दहलीज
दोस्त ! तुमने ख़त तो लिखा था पर दुनिया की मार्फत डाला और दोस्त ! मोहब्बत का ख़त जो धरती के माप का होता है जो अम्बर के माप का होता है वह दुनिया वालों से पकड़ कर एक कौम जितना क़तर डाला कौम के नाप का कर डाला और फिर शहर में चर्चा हुई वह तेरा ख़त जो मेरे नाम था ल...

Post has attachment

Post has attachment
इश्क़ की इंतहा
आज की बात अमृता के अपने लफ्जों में ..क्यूंकि मैं इसको पढ़ कर कितनी देर तक खामोश बैठी    रह जाती हूँ ..कुछ कहने को बोलने को दिल नही चाहता है बस यही ख्याल कि रब्बा यह "इश्क की वो इन्तहा है "जो खुदा से मिला देती है .. कोरा कागज . पच्चीस और छब्बीस अक्तूबर की रात...

Post has attachment

Post has attachment
इश्क की दरगाह भी तू ...
यह सारी कायनात तू ..

Post has attachment
इश्क की दरगाह भी तू ... यह सारी कायनात तू ..
नागमणि में कभी कभी कुछ लेखकों की आपस में बातचीत छपती थी इस कॉलम का नाम "गुफ्तगू "था ...कई बार अमृता भी इस बात चीत में शरीक होती थी आज उसी कॉलम के कुछ हिस्से यहाँ पढ़िए ... हम सभी हुए न हुए जन्म की पीड़ा झेल कर भी मरते हैं ,और अजन्मा होने की हसरत ले कर भी ..लग...

Post has attachment
यादो का ताजमहल
तेरी कुछ यादे हैं ख़ुश्बू है और कुछ ख़ाली ख़त है पास मेरे जिन्हे मैं आज भी  अपनी तन्हाई में पढ़ लिया करती हूँ सज़ा है इस दिल में कोई तेरी ही यादो का ताजमहल आज भी उसके साए को याद करके तुझे नज़र भर के प्यार कर लेती हूँ !!

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment
उम्र के खत(अमृता प्रीतम)
अमृता प्रीतम के इन खतों को जब जब पढ़ा है लिखा है इन शब्दों ने उन दिलों को छुआ है जो जानते हैं कि असल में प्रेम के अर्थ क्या है ।हर बार इन खतों को पढ़ती हूँ और नए अर्थ पाती हूँ फिर आप सब के साथ सांझा कर देती हूँ । हर पढने वाले को यह लिखे लफ्ज़ अपने दिल की आवाज़ ...
Wait while more posts are being loaded