Profile cover photo
Profile photo
anjuman prakashan
330 followers
330 followers
About
Posts

Post has attachment
OneEngine
OneEngine
enginethemes.com
Add a comment...

Post has attachment
OneEngine
OneEngine
enginethemes.com
Add a comment...

Post has attachment
ग़ज़ल के फ़लक पर - 2
|| "ग़ज़ल के फ़लक पर - 2" (साझा ग़ज़ल संकलन) के लिए प्रविष्टि आमंत्रित है || मित्रों, ग़ज़ल के फ़लक पर भाग १ के प्रकाशन के बाद श्री राणा प्रताप सिंह के संपादन में इसके दूसरे भाग के लिए ग़ज़लें आमंत्रित हैं इस संकलन में सम्मिलित होने के लिए निम्नलिखित नियम व शर्त हैं ...
Add a comment...

Post has attachment
**
नई पुस्तकें ...
Add a comment...

Post has attachment
जीवन की परछाईयाँ - मनोज कुमार मन
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
पुस्तक समीक्षा : उन्मेष, कवियित्री:मानोशी, समीक्षक:राणा प्रताप सिंह
इन्टरनेट जगत में सक्रिय कोई पाठक शायद ही टोरंटो, कनाडा निवासी मानोशी के नाम से अपरिचित हो| आपका काव्य संग्रह 'उन्मेष' हाल ही में अंजुमन प्रकाशन से प्रकाशित होकर आया है| संकलन में गीत, ग़ज़ल , मुक्तछंद, हाइकू, क्षणिकाएं तथा दोहा विधा में रचनाएँ है| गीत और ग़...
Add a comment...

Post has attachment
साहित्यिक अंजुमन में मानोशी का उन्मेष
    कविता सिर्फ भावाभिव्यक्ति नहीं होती बल्कि वह कवि की दृष्टि और अनुभूतियों से भी पाठक का परिचय कराती है। रचना में कवि का अस्तित्व तमाम बंधनों को तोड़कर बाहर प्रस्फुटित होता है। उसके द्वारा चुने गए शब्द उसके भावों को जीते हैं और उस चित्र को साक्षात पाठक के...
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded