Profile

Cover photo
Dr.Raghunath Misra 'Sahaj'
Worked at Advocate and personality development consultant.
Attended R.N.Tagore higher secondary school,BHIND(M.P.)
Lives in KOTA(RAJASTHAN)
629 followers|60,007 views
AboutPostsPhotosVideos

Stream

Dr.Raghunath Misra 'Sahaj'

commented on a post on Blogger.
Shared publicly  - 
 
डॉ.साधना प्रधान जी की समीक्षा का स्वागत करते हुए गर्वान्वित महसूस कर रहा हूँ.मुझे इसलिए भी गर्व है की आदरणीय दादा ओम नीरव जी द्वारा सम्पादित, इस अद्भुत शोध ग्रन्थ , ''गीतिकलोक' के सुल्तानपुर में संपन्न लोकार्पण समारोह का मैं साक्षी हूँ. डॉ. साधना प्रधान की विषद-शोधपरक-गंभीर समीक्षा अति सराहनीय और समीक्षकर्मियों के लिए सीख है.
समीक्षक को सादर बधाई.
-डॉ.रघुनाथ मिश्र 'सहज '
 ·  Translate
गीतिकालोक- गीतिका विधा एवं गीतिका संकलन ( शिल्प विधान सहित ) लेखक एवं सम्पादक-ओम नीरव प्रकाशक-पारस प्रकाशन-एन-81, नवीन शाहदरा, दिल्ली-110032 पृष्ठ--280 पेपरबैक मूल्य-300 रुपये । Dr. Sadhana Pra...
1
Add a comment...
 
मकर संक्रांति- गुरुपर्व -लोहरी की शुभ कमाना
मकर संक्रांति -गुरुपर्व - लोढ़ी की समस्त देशवासियों को हार्दिक बधाई. गुड -तिल के लड्डू मिलें, खाएं -बाँटें प्रेम. पर्वों का सन्देश हैं, चलें न गंदे गेम . सद्भावी , डॉ.रघुनाथ मिश्र 'सहज
 ·  Translate
1
Add a comment...
 
डॉ.रघुनाथ मिश्र 'सहज' के व्यक्तित्व - कृतित्व पर केन्द्रित 'सहज' विशेषांक में गोपाल क्रिसन भट्ट 'आकुल के दो कुण्डलिया छंद
’सहज’ सहज हैं सहज से, कह देते हैं बात। धारा-प्रवाह सहज से, कहने में निष्‍णात। कहने में निष्‍णात, विषय कोई सा भी हो। कहते हैं बेबाक, सदन कोई सा भी हो। कविपुंगव ने काव्‍य, रचे वे ‘सहज’ सहज हैं। मेरे हैं प्रिय दोस्‍त, बिलाशक ‘सहज’ सहज हैं। 2- सागर सा व्‍यक्तित...
 ·  Translate
4
Add a comment...
 
मुक्त छंद कविता
मरण तयशुदा मालूम सबको क्यूँ घबराएँ मरने से. जो होना है हो के रहेगा कुछ न बदलना डरने से. कर्म सिर्फ हाथों में है कर लें बेहतर से बेहतर जो पाएंगे -जब पाएंगे पाएंगे बस करने से. करें सार्थक छोड़ें आलस होनापन बस बन्ने से. -डॉ.रघुनाथ मिश्र 'सहज
 ·  Translate
1
Add a comment...
 
साहित्यमंडल , श्री नाथद्वारा में अखिल दो दिवसीय भारतीय साहित्योत्सव ५-६ जनवरी २०१६
साहित्यमंडल, नाथद्वारा में, अखिल भारतीय कवि सम्मेलन में, अध्यक्षीय उत्बोधन देते और काव्यपाठ करते- डॉ.रघुनाथ मिश्र 'सहज' 5/01/16. -डॉ.रघुनाथमिश्र 'सहज
 ·  Translate
1
Add a comment...
Have him in circles
629 people
Govind Kumar's profile photo
chandan bhati's profile photo
PBCHATURVEDI प्रसन्नवदन चतुर्वेदी's profile photo
Arimardan Mishra's profile photo
Rupendra Singh's profile photo
madar Singh's profile photo
KANHIYA LAL GUPTA 'SALIL''s profile photo
Mrsnikki babe's profile photo
Nadjamuddin NAsII's profile photo
 
साहित्यमंडल, श्री नाथद्वारा में ५-६ जनवरी १६ को दो दिवसीय साहित्योत्सव
सहित्यमंडल, श्री नाथद्वारा में ५-६ जनवरी२०१६ को संपन्न, दो दिवसीय अखिल भारतीय साहित्योत्सव, जो दो साहित्य मनीषियों -श्री भारतेंदु बाबू हरिश्चंद (५ को) एवं सहित्यमंडल के संस्थापक श्री भगवती प्रसाद देवपुरा (६को) की पुन्यस्मृति को समर्पित था, में दोनों दिन विच...
 ·  Translate
सहित्यमंडल, श्री नाथद्वारा में ५-६ जनवरी२०१६ को संपन्न, दो दिवसीय अखिल भारतीय साहित्योत्सव, जो दो साहित्य मनीषियों -श्री भारतेंदु बाबू हरिश्चंद (५ को) एवं सहित्यमंडल के संस्थापक श्री भगवती प्रसाद देवपुरा (६को) की पुन्यस्मृति ...
1
Add a comment...
 
डॉ.रघुनाथ मिश्र 'सहज' पर केन्द्रित शेशाम्रित के 'सहज' विशेषांक में 'आकुल' की प्रस्तुति
’सहज’ सहज हैं सहज से, कह देते हैं बात। धारा-प्रवाह सहज से, कहने में निष्‍णात। कहने में निष्‍णात, विषय कोई सा भी हो। कहते हैं बेबाक, सदन कोई सा भी हो। कविपुंगव ने काव्‍य, रचे वे ‘सहज’ सहज हैं। मेरे हैं प्रिय दोस्‍त, बिलाशक ‘सहज’ सहज हैं। 2- सागर सा व्‍यक्तित...
 ·  Translate
1
Add a comment...
 
**
कुछ भी बनने से पहले सम्पूर्ण इंसान बनना जरूरी है. आध्यात्मिकता में अथवा भौतिक जगत में कितनी ही उन्नति क्यों न कर लें, लेकिन एक समग्र इंसान बने बिना, हमारी हर पहुँच अर्थहीन है.जिसे हम सुख समझते हैं और इंसानियत भूल, उसी में डूब जाते हैं, अंधे हो जाते हैं शेष ...
 ·  Translate
1
Add a comment...
 
सन्देश -विवेकानंद जयंती पर दिनांक १२/०१/१६
आइए स्वामी विवेकानन्द की 154 वीं जयन्ती पर,देश-दुनिया को उनकी महान देन -शिक्छाओं को श्रद्धा से याद करते हुए आज के दिन की शुरुआत करें। कुल 30 वर्षों के जीवन ्काल में स्वामी जी हमें हजारों वर्षों के बराबर दे गए . -डा०रघुनाथ मिश्र 'सहज' -
 ·  Translate
1
Add a comment...
People
Have him in circles
629 people
Govind Kumar's profile photo
chandan bhati's profile photo
PBCHATURVEDI प्रसन्नवदन चतुर्वेदी's profile photo
Arimardan Mishra's profile photo
Rupendra Singh's profile photo
madar Singh's profile photo
KANHIYA LAL GUPTA 'SALIL''s profile photo
Mrsnikki babe's profile photo
Nadjamuddin NAsII's profile photo
Work
Occupation
ADVOCATE AND PERSONALITY DEVELOPMENT CONSULTANT
Employment
  • Advocate and personality development consultant.
    address motivational seminars -interactive sessions-counselling for students-faculties-admins in schools/ colleges (technical/non technical)/corporate sectors.
Places
Map of the places this user has livedMap of the places this user has livedMap of the places this user has lived
Currently
KOTA(RAJASTHAN)
Story
Tagline
name: raghunath misra, advocate and personality development advisor.I am a poet, writer, author dramatist, literary and cultural critic, honourary literary editor and publisher.
Education
  • R.N.Tagore higher secondary school,BHIND(M.P.)
    1966
    bhadawar vidyamandir inter college 1969 RBS college, AGRA-agra university,AGRA 1970 1973 THE UNIVERSITY OF RAJASTHAN JAIPUR
Basic Information
Gender
Male