Profile cover photo
Profile photo
Naveen Joshi
134 followers
134 followers
About
Posts

Post has attachment
हमने एक रात ‘100’ नम्बर पर फोन किया. हम चकित और खुश हुए जब फौरन शिकायत दर्ज की गयी. एसएमएस आया कि कौन-सी गाड़ी हमारी शिकायत पर कार्रवाई करने निकली है. तभी उस गाड़ी से फोन आ गया. आश्वासन दिया कि अभी डीजे बंद कराते हैं. शिकायत करने के चौदह मिनट बाद डीजे का शोर थम गया. हमने बड़ी राहत के साथ पुलिस को ट्वीटर पर ‘थैंक-यू’ कहा, मगर...
Add a comment...

Post has attachment
बाजी तीन तलाक की है. चालें चली जा रही हैं. महिलाओं का वास्तविक हित बहस के केंद्र से बाहर है. तलाक-ए-बिद्दत जुल्म है. वह बंद होना चाहिए लेकिन क्या प्रस्तावित कानून इसका सही और सर्वोत्तम उपाय है? इसके दुष्परिणाम क्या-क्या हो सकते हैं? राजनीति की बिसात में जरूरी सवाल खो गये हैं.
Add a comment...

Post has attachment
सोनभद्र में भाजपा के कुछ नेता अवैध खनन में लगे हैं. श्यामजी उनकी शिकायत मुख्यमंत्री से करना चाहता था. वह लखनऊ आया. उसके साथ हुआ क्या?
Add a comment...

Post has attachment
उत्तर प्रदेश के मदरसों के लिए पिछले वर्ष एक पोर्टल बनाकर रजिस्ट्रेशन अनिवार्य करने तथा स्वतंत्रता दिवस पर ध्वजारोहण एवं राष्ट्रगान की वीडियोग्राफी करने के फरमान के बाद नये साल में योगी सरकार ने उनकी विशेष धार्मिक छुट्टियों पर कैंची चला दी है. यही नहीं, रक्षाबंधन, महानवमी, दशहरा और दीवाली जैसे पर्वों पर मदरसों में अवकाश घोषित कर दिया है.
Add a comment...

Post has attachment
पिछले कुछ समय से हिंदू-धर्म बहुत नाजुक और कमजोर हो गया है. उसे बात-बात में खतरा हो जाता है. हजारों साल से तरह-तरह के आक्रमण झेल कर भी जो धर्म सुरक्षित और व्यापक है, वह मुहब्बत से, ‘बीफ’ वगैरह से खतरे में पड़ जा रहा है. इसलिए हिंदू धर्म के स्वयं रक्षक बड़ी संख्या में पैदा हो गये हैं. गाली-गलौज, लाठी-डण्डे, चाकू-गोली-बम से धर्म-रक्षा हो रही है.
Add a comment...

Post has attachment
विपक्षी दलों की एकता की नयी चर्चा गुजरात चुनाव नतीजों के बाद छिड़ी है. इन नतीजों ने साबित किया कि भाजपा अजेय नहीं है. नतीजों के तत्काल बाद विरोधी दलों की प्रतिक्रियाओं से उनकी एकता की चाहत सामने आने लगी है.
Add a comment...

Post has attachment
पहले हम मदारी के हाथों बंदरों का नाच देख कर खुश होते थे. अब हमें नचाने की बारी बंदरों की है शायद.
Add a comment...

Post has attachment
यूपी के उप-लोकायुक्त ने 2008 में तीन लोगों को गबन का दोषी पाया और सरकार से उन्हें दण्ड देने को कहा. 2017 में बीते गुरुवार को वर्तमान सरकार के पंचायती राज मंत्री ने विधान सभा को बताते हैं कि फैजाबाद मण्डल के उप-निदेशक से जांच कराई गई तो उस मामले में गबन की शिकायत सही नहीं पाई गयी. तो, उप-लोकायुक्त की जांच का क्या मतलब?
Add a comment...

Post has attachment
"टुकड़े-टुकड़े हो बिखर चुकी मर्यादा/उसको दोनों ही पक्षॉं ने तोड़ा है/ पाण्डव ने कम, कौरव ने कुछ ज्यादा/ यह रक्तपार अब कब समाप्त होना है"
Add a comment...

Post has attachment
Wait while more posts are being loaded