Profile cover photo
Profile photo
Rashmi Verma
81 followers -
ज़िन्दगी खत्म हुई तो फूलों का हार है.. ज़िन्दा बचे तो झेलने को काँटों का ताज है।
ज़िन्दगी खत्म हुई तो फूलों का हार है.. ज़िन्दा बचे तो झेलने को काँटों का ताज है।

81 followers
About
Posts

किताबों से दोस्ती क्या टूटी, हमने तो सच्ची बातें सीखनी छोड़ दीं।।
#रश्मि
Add a comment...

क़त्ल करने को क्या चाहिए?... बहुत सारी नफरत और एक बहाना। #रश्मि
Add a comment...

अलमारी से सूती साड़ियां निकल रही हैं
मांड लगाकर कड़क की जा रही हैं
फिर से भारतीय दिखने की तैयारी हो रही है
लगता है चुनाव की बयार चल पड़ी है। #रश्मि
Add a comment...

समुन्दर सी न ख़त्म होने वाली ज़िन्दगी..
उथल-पुथल मचाते लहरों से दिन।। #रश्मि
Add a comment...

जब बारिश नहीं, पानी नहीं.. तो कागज़ की कश्ती का क्या करें हम? #रश्मि
Add a comment...

काले पानी की सज़ा ही दे दो हमको ग़ालिब..
काला ही सही, कम से कम पानी तो होगा वहां।। #रश्मि
Add a comment...

जो ज़हर समाज से मिलता है, उसे घरवालों को ना पिलाये..
बल्कि घर के बाहर एक गड्ढा खोदकर, उसे वहीँ दफ़ना आएं। #rरश्मि
Add a comment...

Post has attachment
**
सय्याद ने बहुत कोशिश की, मेरे पंख कतरने की..   लेकिन मैंने भी हार ना मानी,  ज़िद्द करने ठान ली.. बेशक लंबा इंतज़ार किया,  जतन किये, नए पंख उगाये.. आज मैं आज़ाद हूँ,  खुले आसमान में भरी नई उड़ान.. अब किसी में हिम्मत नही,  जो कोई टोक दे,  ऊचाईयां छूने से रोक ले।
Add a comment...

राम मंदिर में रहें या टेंट में, राम ही रहेंगे
राजा बनते-बनते एक दिन वन चले गए
फिर भी अंत में राजा तो राम ही बने।।
#HappyRamNavmi
Add a comment...

हर इंसान की किस्मत एक दिन पलटती जरूर है..
इसी को सच मान, अपनी किस्मत के पलटने का इंतज़ार करते हम। #रश्मि
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded