Profile

Cover photo
shikha kaushik
372 followers|394,423 views
AboutPostsPhotosYouTube

Stream

shikha kaushik

Shared publicly  - 
 
खोखली उदारवादिता -लघु कथा
   गौतम उदारतावादी स्वर में बोला -''लिव-इन कोई गलत व्यवस्था नहीं...आखिर कब तक वही पुराने..घिसे-पिटे सिस्टम पर समाज चलता रहेगा ..विवाह ....इससे भी क्या होता है ? गले में पट्टा डाल दिया बीवी के नाम का और मियां जी घूम रहे है इधर-उधर मुंह मारते हुए .'' सुरेश अस...
 ·  Translate
   गौतम उदारतावादी स्वर में बोला -''लिव-इन कोई गलत व्यवस्था नहीं...आखिर कब तक वही पुराने..घिसे-पिटे सिस्टम पर समाज चलता रहेगा ..विवाह ....इससे भी क्या होता है ? गले में पट्टा डाल दिया बीवी के नाम का और मियां जी घूम रहे है इधर...
1
Add a comment...

shikha kaushik

Shared publicly  - 
 
किसान रैली ने हिला दी मोदी सरकार 
 ·  Translate
Rahul Gandhi, Sonia Gandhi and Manmohan Singh at the kisan rally पिछले लोकसभा चुनाव [मई २०१४] में बीजेपी के हाथों भारी पराजय की चोट खाई कॉंग्रेस पार्टी १९ अप्रैल २०१५ को दिल्ली में हुई ''किसान -खेतिहर मजदूर रैली '' में पहली...
2
Add a comment...

shikha kaushik

Shared publicly  - 
 
''जागरूक महिलाएं !''
भावना को सब्ज़ी मंडी से लौटते  हुए अचानक अपनी सहेली अनु मिल गयी .इधर-उधर की बातों के बाद दोनों की बातों के केंद्र में दोनों के बच्चे आ गए .भावना मुंह बनाते हुए बोली - क्या बताऊँ ! मेरा बेटा आठ साल का है और फेसबुक पर दिन-रात पता नहीं अपनी गर्ल-फ्रेंड  से क्य...
 ·  Translate
4
Add a comment...

shikha kaushik

Shared publicly  - 
 
''कॉलेज जाना है या शादी ब्याह में !''
  ''माँ मैं कौन सी पोशाक पहनूं ?'' चिया ने चहकते हुए माँ से पूछा तो माँ ने उदासीन भाव से कहा -'' कुछ भी जो शालीन हो वो पहन लो . चिया ने आर्टिफिशल ज्वेलरी दिखाते हुए माँ से पूछा -'' माँ ये माला का सैट कैसा लगेगा मुझ पर ? माँ ने उड़ती-उड़ती नज़र चिया की ज्वेल...
 ·  Translate
  ''माँ मैं कौन सी पोशाक पहनूं ?'' चिया ने चहकते हुए माँ से पूछा तो माँ ने उदासीन भाव से कहा -'' कुछ भी जो शालीन हो वो पहन लो . चिया ने आर्टिफिशल ज्वेलरी दिखाते हुए माँ से पूछा -'' माँ ये माला का सैट कैसा लगेगा मुझ पर ? माँ ने...
2
Add a comment...

shikha kaushik

Shared publicly  - 
 
भगवान की गलती !
सिया ने माँ से पूछा -'' मैं कालेज की फ्रेंड्स के साथ बाहर कैम्प में चली जाऊं माँ दो दिन के लिए ?'' माँ बोली -'' पिता जी से पूछो ? ''  सिया रसोईघर से कमरे में आई और पिता जी से पूछा कैम्प में जाने के लिए तो वे भड़क कर बोले -'' अरे  सिया की माँ ! तुम्हारी अक्ल...
 ·  Translate
सिया ने माँ से पूछा -'' मैं कालेज की फ्रेंड्स के साथ बाहर कैम्प में चली जाऊं माँ दो दिन के लिए ?'' माँ बोली -'' पिता जी से पूछो ? ''  सिया रसोईघर से कमरे में आई और पिता जी से पूछा कैम्प में जाने के लिए तो वे भड़क कर बोले -'' ...
2
Add a comment...

shikha kaushik

Shared publicly  - 
 
''कफ़न बांध सिर निकली औरत !''
हाय बड़ा कोहराम मचा है दुनिया भर की गलियों में , कफ़न बांध सिर निकली औरत दुनिया भर की गलियों में ! *********************************************************** घूंघट को दो फाड़ किया चूल्हे में उसे जला डाला , मर्दों को दी खुली चुनौती ना कोई गड़बड़झाला , फौल...
 ·  Translate
2
Add a comment...
Have her in circles
372 people
Janis Jaunpetrovics's profile photo
vinet agarwalla's profile photo
Ankur Bhatnagar's profile photo
Kamlendra Singh Srinet's profile photo
Manoj Tiwari's profile photo
Dr. Mahesh Desai's profile photo
guri malhotra's profile photo
KARAN SINGH Atri's profile photo
RAKESH KUMAR VERMA GURGAON's profile photo

shikha kaushik

Shared publicly  - 
 
मेरे वज़ूद से टकराने की कोशिश कर लो !
मिटा सको तो मिटाने  की तुम कोशिश कर लो ! मेरे वज़ूद से टकराने की कोशिश कर लो ! .............................................................. मैं नहीं ताश के पत्तों का कोई शीशमहल , गिरा सको तो गिराने की भी कोशिश कर लो ! ........................................
 ·  Translate
5
मान्धाता प्रताप सिंह's profile photo
Add a comment...

shikha kaushik

Shared publicly  - 
 
''रिक्शावाले का प्यार !''
  रविता सीमा से मिलने उसके घर पहुंची तो सीमा की ख़ुशी का ठिकाना न रहा . एक दुसरे का हाल-चाल पूछते पूछते रविता बोली - '' पता है सीमा मैं जिस रिक्शा से आई हूँ उसका चालक बहुत ही रोमांटिक है .एक से एक रोमांटिक सॉन्ग गाता है . आई एम इम्प्रेस्ड !'' इस पर दोनों ठह...
 ·  Translate
  रविता सीमा से मिलने उसके घर पहुंची तो सीमा की ख़ुशी का ठिकाना न रहा . एक दुसरे का हाल-चाल पूछते पूछते रविता बोली - '' पता है सीमा मैं जिस रिक्शा से आई हूँ उसका चालक बहुत ही रोमांटिक है .एक से एक रोमांटिक सॉन्ग गाता है . आई ...
4
Add a comment...

shikha kaushik

Shared publicly  - 
 
''जागरूक महिलाएं !''
  भावना को सब्ज़ी मंडी से लौटते  हुए अचानक अपनी सहेली अनु मिल गयी .इधर-उधर की बातों के बाद दोनों की बातों के केंद्र में दोनों के बच्चे आ गए .भावना मुंह बनाते हुए बोली - क्या बताऊँ ! मेरा बेटा आठ साल का है और फेसबुक पर दिन-रात पता नहीं अपनी गर्ल-फ्रेंड  से क...
 ·  Translate
  भावना को सब्ज़ी मंडी से लौटते  हुए अचानक अपनी सहेली अनु मिल गयी .इधर-उधर की बातों के बाद दोनों की बातों के केंद्र में दोनों के बच्चे आ गए .भावना मुंह बनाते हुए बोली - क्या बताऊँ ! मेरा बेटा आठ साल का है और फेसबुक पर दिन-रात...
2
Add a comment...

shikha kaushik

Shared publicly  - 
 
''कॉलेज जाना है या शादी ब्याह में !''
  ''माँ मैं कौन सी पोशाक पहनूं ?'' चिया ने चहकते हुए माँ से पूछा तो माँ ने उदासीन भाव से कहा -'' कुछ भी जो शालीन हो वो पहन लो . चिया ने आर्टिफिशल ज्वेलरी दिखाते हुए माँ से पूछा -'' माँ ये माला का सैट कैसा लगेगा मुझ पर ? माँ ने उड़ती-उड़ती नज़र चिया की ज्वेल...
 ·  Translate
  ''माँ मैं कौन सी पोशाक पहनूं ?'' चिया ने चहकते हुए माँ से पूछा तो माँ ने उदासीन भाव से कहा -'' कुछ भी जो शालीन हो वो पहन लो . चिया ने आर्टिफिशल ज्वेलरी दिखाते हुए माँ से पूछा -'' माँ ये माला का सैट कैसा लगेगा मुझ पर ? माँ ने...
2
Add a comment...

shikha kaushik

Shared publicly  - 
 
''और फूल बिखर गया ''
''और फूल बिखर गया '' उस कँटीले जंगल में वो अल्हड़ सी कली निर्भीक होकर मंद-मंद आती समीर के साथ झूल लेती और जब हंसती तो उसके चटकने की मधुर ध्वनि से हर काँटा ललचाई नज़रों से उसे देखने लगता .वो खुद को पत्तों में छिपा लेना चाहती पर कहाँ छिप पाती !! फिर वो कली खिलक...
 ·  Translate
''और फूल बिखर गया '' उस कँटीले जंगल में वो अल्हड़ सी कली निर्भीक होकर मंद-मंद आती समीर के साथ झूल लेती और जब हंसती तो उसके चटकने की मधुर ध्वनि से हर काँटा ललचाई नज़रों से उसे देखने लगता .वो खुद को पत्तों में छिपा लेना चाहती पर...
2
Add a comment...