Profile cover photo
Profile photo
Manish Gautam
58 followers -
!!*!! जीयो और जीने दो !!*!!
!!*!! जीयो और जीने दो !!*!!

58 followers
About
Posts

Post has attachment
हिंदू मुस्लिम एकता का प्रतीक मुस्लिम बहुल देश अफगानिस्तान में अटल जी का भाषण

Post has attachment
भूतपूर्व प्रधानमंत्री माननीय अटल बिहारी वाजपेई जी द्वारा अफगानिस्तान में हुआ , हिंदू मुस्लिम एकता को जोड़ने वाला भाषण अवश्य सुनिए ।
शुभ संध्या वंदन नमन नमन नमन

Post has attachment

Post has shared content
हम आईना हैं, आईना ही रहेंगे,
फ़िक्र वो करें.

जिनकी शक्लो में कुछ
और
दिल में कुछ और है ....
सुप्रभात मित्रों -
आने वाला 'पल' और 'कल' मंगलमयी हो ...
Photo

Post has attachment
हम आईना हैं, आईना ही रहेंगे,
फ़िक्र वो करें.

जिनकी शक्लो में कुछ
और
दिल में कुछ और है ....
सुप्रभात मित्रों -
आने वाला 'पल' और 'कल' मंगलमयी हो ...
Photo
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has shared content
नीव का पत्थर "मजदूर"
~~~~~Ω¤Ω~~~~~~
मेहनतकश मजदूर हूँ मैं
मै मग़रूर नहीं मजबूर नहीं ।
जीवन मेरा है सिधा-साधा
शान ए शौकत की फुरसत नहीं
आदत मेरी बस मेहनत करना
धूप-छाँव की परवाह ही नहीं
कभी दबता कभी दबाया गया
पर दम अबतक निकला ही नहीं
तराशे सैकड़ों पत्थरों को मैने पर
निजी जीवन कोई सुन्दरता नहीं
दुनिया में है कई जातियाँ धर्म पर
मेरा तो बस कर्म ही है जाति धर्म नहीं
सदियों से रहा हूँ मै नीवं का पत्थर
मै हूँ कर्मकार प्रर्दशन मेरा कर्म नहीं
--> मनीष गौतम 'मनु'
दिनांक 01/05/2017
मजदूर दिवस पर कर्मठ मजदूर भाईयों का आभार ॥ आपके सुखद जीवन की शुभ कामनाओं के साथ ॥
मजदूर है तो कल है ।
वर्ना ट्रबल ही ट्रबल है ॥
Photo

Post has attachment
नीव का पत्थर "मजदूर"
~~~~~Ω¤Ω~~~~~~
मेहनतकश मजदूर हूँ मैं
मै मग़रूर नहीं मजबूर नहीं ।
जीवन मेरा है सिधा-साधा
शान ए शौकत की फुरसत नहीं
आदत मेरी बस मेहनत करना
धूप-छाँव की परवाह ही नहीं
कभी दबता कभी दबाया गया
पर दम अबतक निकला ही नहीं
तराशे सैकड़ों पत्थरों को मैने पर
निजी जीवन कोई सुन्दरता नहीं
दुनिया में है कई जातियाँ धर्म पर
मेरा तो बस कर्म ही है जाति धर्म नहीं
सदियों से रहा हूँ मै नीवं का पत्थर
मै हूँ कर्मकार प्रर्दशन मेरा कर्म नहीं
--> मनीष गौतम 'मनु'
दिनांक 01/05/2017
मजदूर दिवस पर कर्मठ मजदूर भाईयों का आभार ॥ आपके सुखद जीवन की शुभ कामनाओं के साथ ॥
मजदूर है तो कल है ।
वर्ना ट्रबल ही ट्रबल है ॥
Photo

नीव का पत्थर "मजदूर"
मेहनतकश मजदूर हूँ मैं
मै मग़रूर नहीं मजबूर नहीं ।
जीवन मेरा है सिधा-साधा
शान ए शौकत की फुरसत नहीं
आदत मेरी बस मेहनत करना
धूप-छाँव की परवाह ही नहीं
कभी दबता कभी दबाया गया
पर दम अबतक निकला ही नहीं
तराशे सैकड़ों पत्थरों को मैने पर
निजी जीवन कोई सुन्दरता नहीं
दुनिया में है कई जातियाँ धर्म पर
मेरा तो बस कर्म ही है जाति धर्म नहीं
सदियों से रहा हूँ मै नीवं का पत्थर
मै हूँ कर्मकार प्रर्दशन मेरा कर्म नहीं
------> मनीष गौतम 'मनु'
दिनांक 01/05/2017
मजदूर दिवस पर कर्मठ मजदूर भाईयों का आभार ॥ आपके सुखद जीवन की शुभ कामनाओं के साथ ॥
मजदूर है तो कल है ।
वर्ना ट्रबल ही ट्रबल है ॥
Wait while more posts are being loaded