Profile cover photo
Profile photo
Irshad Ahmad
17 followers -
Owner of Islam is The Best
Owner of Islam is The Best

17 followers
About
Communities and Collections
Posts

Post has attachment
मुस्लिम दुनिया में क़त्ले आम होगा
     जब यहूदी सलेबियों के साथ मिल कर मस्जिदे अक़सा को शहीद कर देंगे और
अरब हुक्मरान आँखों पर पट्टी बांधे और कान में रुई ठूंसे हाथ पर हाथ धरे बैठे
रहेंगे तो फिलिस्तीनी मुसलमानों और अरब अवाम का खून खौल उठेगा | वह बतौरे एहतिजाज
उठ खड़े होंगे | पूरे मश्रीके वुस्त...

Post has attachment
दज्जाल के खुरुज़ से पहले के वाकियात
हज़रत नाफेअ बिन उतबा रजि०
से रिवायत है कि फ़रमाया रसूलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने “तुम जज़ीरा अरब में
जिहाद करोगे अल्लाह ताआला उसमें तुम्हें फ़तेह फ़रमायेगा, फिर तुम अहले फारस से जंग
करोगे उन पर भी अल्लाह तुम्हें फ़तेह फ़रमायेगा फिर तुम रूम (यूरोप और अमरीका)...

Post has attachment
स्मार्ट फोन शैतान से राब्ता का अहम ज़रिया
       आज हम देखते हैं कि लोगों में नये-नये फंक्शन वाले स्मार्ट फोन
खरीदने की हिरस बढ़ रही है, बाज़ अफ़राद की आमदनी तो पांच हज़ार रूपये होती है लेकिन
वह दस बारा हज़ार रूपये वाला स्मार्ट फ़ोन रखने को वक़ार की निशानी ( Status Symbol) समझते हैं |
इन्टरनेट के ज़रिये शै...

Post has attachment
फिलिस्तीन पर कब्ज़ा क्यों ?
        मगरीबी अक़वाम ने तुर्कों को कमज़ोर करके और खिलाफ़ते उस्मानिया को
मिटा कर सबसे पहले फिलिस्तीन पर कब्ज़ा किया और उसे सहयुनियों ( Zionists) के सुपुर्द कर
दिया | उसके बाद सीरिया पर कब्ज़ा करके उसे लेबनान और सीरिया में तक़सीम करके वहां
मुसलमानों को कमज़ोर किया ...

Post has attachment
यहूद की सियाह-कारियाँ
कौमे यहूद ने
अपने 33 अम्बिया का क़त्ल किया है | यह कौम इब्तिदा से इंसानियत का दर्स देने वालों
के ख़िलाफ़ रही है | उन्होंने अपने निजात दहन्दा मूसा अलैहि० को बे-इन्तिहा परेशान
किया | उनकी नाफ़रमानियों से परेशान हो कर मूसा अलैहि० ने कई मर्तबा बद्दुआ दी |
इसी तरह उ...

Post has attachment
बनू तमीम दारी का जहाज़ कहाँ पहुंचा ?
अगर आप मशिरके वुस्ता के
नुकशे पर नज़र डालें तो शाम के जानिब बहरे रूम ( Mediterraneam
Sea) है और यहां सैकड़ों छोटे-बड़े जज़ाइर हैं उनमें
सिसली और मालटा जैसे बड़े जज़ीर्रों पर मुसलमानों ने उमवी दौर में क़ब्ज़ा कर लिया था
और सायपरस उन्नीसवीं सदी के अवाखिर तक तुरकों के...

Post has attachment
बाईबिल में दज्जाल का जिक्र और मौजूदा हालात :
   बाईबिल में दज्जाल को एन्टी क्राइस्ट (ईसा का दुश्मन) कहा गया है जो
दुनिया में हर तरफ़ बदी फैलायेगा | वह नेकियों को खतम करने वाला और दुनिया का अम्न
व अमान बरबाद करने वाला होगा |    बाईबिल की जिन ईसाई उल्मा ने तफसीर लिखी है उनका दावा है कि वह तमाम
इंसानों पर...

Post has attachment

Post has attachment
फिर दज्जाल कौन है
        दज्जाल का लफ्ज़ अरबों के इस कौल “द्जल्ल बईर” से माखूज़ है | यह जब बोला जाता है जिस वक्त ऊंट को तारकोल से रंग दिया जाता है | लिहाज़ा दज्जाल इस लिए कहा जाता है क्योंकि वह हक़ को बातिल से ढाँप देगा और अपने झूट फ़रेब और शातिराना चालों की वजह से अपने कुफ़्र को...

Post has attachment
आखिर बातिल का सरखील कौन है ?
          सामी मजाहिब (यहूदियत, ईसाइयत और इस्लाम) के मानने वालों का अक़ीदा है की बातिल कुव्वतों का सरखील इबलीस (शैतान) है | वह इन्सान का सबसे बड़ा दुश्मन है क्योंकि हज़रत आदम अलैहि० को सजदा न करने की पादाश में अल्लाह ता-आला ने लानत का तौक उसके गले में डाल कर ज...
Wait while more posts are being loaded