Profile cover photo
Profile photo
Kamal Paneru
81 followers -
yesterday is always a different day
yesterday is always a different day

81 followers
About
Posts

Post has attachment
बसंत की एक शाम
आज अंतर्मन में द्वन्द युद्ध चल रहा है! सवालों और चिंताओं की जैसे लड़ी लग गयी हो! कहीं एक शायरी सुनी थी कभी की ना शब्-ए-रोज़ अच्छा है ना हाल अच्छा है, किसी ने कहा था ये साल अच्छा है! आज वही शायरी फिर फिर कानों में गूँज रही है! सुबह से सैकड़ों SMS आ चुके हैं बसं...
Add a comment...

Post has attachment
छोड़ के चले
हम बचपन नादान छोड़ के चले पिताजी का बनाया पुराना मकान छोड़ के चले लगा जब शौक जवानी में मुहब्बत का हम हर मेहमान छोड़ के चले रही आँखें उम्र दराज़ रास्तों में टिकी हुई गली दर गली उसका मकान छोड़ के चले किसी फ़कीर ने कहा था नेकी कर दरिया में डाल हम हर सलाह-ए-जान छोड़ क...
Add a comment...

Post has attachment

Post has attachment
You Will Always Be in My Dreams
To the one who can handle me at my worst and cheer me at best we got separated yesterday. She had tears in her eyes I had pain in my heart She told 'I love you so much' I thought 'nobody would love you as I' She told 'it seems you dont love me'. I closed my...
Add a comment...

Post has attachment
अफसाना
अठखेलियाँ करती हुई तुम्हारी यादों की बारिश की कुछ बूँदें सहसहा टकरा गयी मेरे अंतरमन के किवाड़ों से मैं एक पल पहले झूमती हुई सी बिखर गयी अगले पल में बुदबुदाते हुए होठों से फिर मैंने नाम लिया तुम्हारा और तुम्हारी तस्वीर को सीने से लगा बैठी अतीत की परछाइयों में...
Add a comment...

Post has attachment
Narajgi
suno us chai ke pyale ka kya karu main jo naraz ho kar chhat ki mundher par chhor gaye the tum yu bejuban ho kar ek tak mujhe dekhna aur mere dekh lene par najrein fer lena Naraj ho to keh do na tumhare aangan me lagi angoor ki bel humare ghar ki diwaro se ...
Add a comment...

Post has attachment
Why Should I Love You...??? Reviewed by Author Harsha Shastry
Thank you Harsha for criticizing it at best and giving an honest opinion. Thank you for such wonderful review
Add a comment...

Post has attachment
अलग सा ही एहसास
बालाजी मंदिर से आने के बाद से कुछ अलग सा ही एहसास हो रहा है ! ना जाने क्यों ऐसा लग रहा है हर दम कोई मेरे साथ चल रहा है! डर सा लग रहा है हर वक़्त ! एक बेचैनी सी है जो अंदर ही अंदर खाये जा रही है! कभी अचानक से डर  नींद भी खुल जा रही है रात में.  मन सा लग ही नह...
Add a comment...

Post has attachment
Blurb: Why Should I Love You...???
Have you ever wondered why your partner loves you? How would you feel if consort asks the reason to love you? What if there is no reason? Can you abreast the same? He was debonair engineer but she was small town lass. He had dangling joy but she was from co...
Add a comment...

Post has attachment
सोच
सुनो, तुम अक्सर मुझसे मिलने आया करो ना अच्छा लगता है मुझे तुम्हारे साथ वक़्त बिताना हाथों में हाथ ले कर सड़क किनारे छाँव में चलना तुम्हारा मुझे नज़र बचा कर देखना और एक छोटी सी बात को भी अपने ही ढंग में बयां करना अच्छा लगता है मुझे तुम्हारे साथ अठखेलियां करना त...
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded