Profile cover photo
Profile photo
Spoken- English-Class-In-Bhilai
10 followers -
Spoken-English-Institute-in-bhilai-Raj-Spoken-English-mo-9755599980
Spoken-English-Institute-in-bhilai-Raj-Spoken-English-mo-9755599980

10 followers
About
Posts

Post is pinned.Post has attachment
RAJ Spoken English BHILAI Sector 2 Mo -9755599980 ,English Advance,English Grammar, IELTS, TOFEL, ACCENT TRAINING
Add a comment...

Post has shared content
नदी जब निकलती है,
कोई नक्‍शा पास नहीं होता कि "सागर" कहां है

बिना नक्‍शे के सागर तक पहुंच जाती है।
ऐसा नहीँ है कि नदी कुछ नहीँ करती है।
उसको "सागर" तक पहुंचने के लिए लगातार "बहना" अर्थात "कर्म" करना पड़ता है।

इसलिए "कर्म" करते रहिये,
नक्शा तो भगवान् पहले ही बनाकर बैठे है ।
हमको तो सिर्फ "बहना" ही है ।।


सुप्रभात मित्रों
नदी जब निकलती है,
कोई नक्‍शा पास नहीं होता कि "सागर" कहां है

बिना नक्‍शे के सागर तक पहुंच जाती है।
ऐसा नहीँ है कि नदी कुछ नहीँ करती है।
उसको "सागर" तक पहुंचने के लिए लगातार "बहना" अर्थात "कर्म" करना पड़ता है।

इसलिए "कर्म" करते रहिये,
नक्शा तो भगवान् पहले ही बनाकर बैठे है ।
हमको तो सिर्फ "बहना" ही है ।।


सुप्रभात मित्रों

www.englishinbhilai.com

Post has shared content
नदी जब निकलती है,
कोई नक्‍शा पास नहीं होता कि "सागर" कहां है

बिना नक्‍शे के सागर तक पहुंच जाती है।
ऐसा नहीँ है कि नदी कुछ नहीँ करती है।
उसको "सागर" तक पहुंचने के लिए लगातार "बहना" अर्थात "कर्म" करना पड़ता है।

इसलिए "कर्म" करते रहिये,
नक्शा तो भगवान् पहले ही बनाकर बैठे है ।
हमको तो सिर्फ "बहना" ही है ।।


सुप्रभात मित्रों
नदी जब निकलती है,
कोई नक्‍शा पास नहीं होता कि "सागर" कहां है

बिना नक्‍शे के सागर तक पहुंच जाती है।
ऐसा नहीँ है कि नदी कुछ नहीँ करती है।
उसको "सागर" तक पहुंचने के लिए लगातार "बहना" अर्थात "कर्म" करना पड़ता है।

इसलिए "कर्म" करते रहिये,
नक्शा तो भगवान् पहले ही बनाकर बैठे है ।
हमको तो सिर्फ "बहना" ही है ।।


सुप्रभात मित्रों

www.englishinbhilai.com

Post has attachment
नदी जब निकलती है,
कोई नक्‍शा पास नहीं होता कि "सागर" कहां है

बिना नक्‍शे के सागर तक पहुंच जाती है।
ऐसा नहीँ है कि नदी कुछ नहीँ करती है।
उसको "सागर" तक पहुंचने के लिए लगातार "बहना" अर्थात "कर्म" करना पड़ता है।

इसलिए "कर्म" करते रहिये,
नक्शा तो भगवान् पहले ही बनाकर बैठे है ।
हमको तो सिर्फ "बहना" ही है ।।


सुप्रभात मित्रों

www.englishinbhilai.com
Add a comment...

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
Spoken-english-class-in-bhilai-
Raj-Spoken-English-mo-9755599980
Add a comment...

Post has attachment
Spoken-English-class-in-Bhilai
RAJ Spoken English mo 9755599980
Add a comment...

Post has attachment
Wait while more posts are being loaded