Profile cover photo
Profile photo
Pushpendra Gangwar
About
Posts

Post has attachment

Post has attachment
द्रवित कर दिया जी आपने.. निःशब्द
Add a comment...

Post has attachment
रोते तो हैं आज भी हम दर्द से मगर
माँ के सलीके सी नज़र उतरता नहीं ।


गलतियां होती हैं मगर क्या है कायदा
मेरे पिता सा कोई मुझे डाँटता नहीं ।
Add a comment...

Post has attachment
रोते तो हैं आज भी हम दर्द से मगर
माँ के सलीके सी नज़र उतरता नहीं ।
गलतियां होती हैं मगर क्या है कायदा
मेरे पिता सा कोई मुझे डाँटता नहीं ।
Add a comment...

Post has attachment
ये जीना क्या जीना है ये भी कोई जीना है
हर पल सांसे गिनना है हर सांस में आंसू पीना है
ये भी कोई जीना है।
Add a comment...

Post has attachment
Pushpendra Gangwar commented on a post on Blogger.
बहुत ही सुन्दर पंक्तियाँ.. आभार
"निराशा"
"निराशा"
kumar651.blogspot.in
Add a comment...

Post has attachment
भरी है दुपहरी बहे जा रहे हैं
न जाने कहाँ को चले जा रहे हैं ।
चले जा रहे हैं ।

खड़े पीठ करके भले उस तरफ हों
मगर मंजिलों को तके जा रहे हैं।
चले जा रहे हैं ।
Add a comment...

Post has attachment
कृपया मेरी नयी रचना अवश्य पढ़े एवम अपना बहुमूल्य पृत्युत्तर भी प्रदान करने का कष्ट करें ॥
Add a comment...

Post has attachment
Please visit my latest Gazal on below link.
Add a comment...

Post has attachment

कृपया हमारी नयी कविता पोस्ट पर पधारिये...

जीवन क्या है ओस की बूँदें
बूंदों जैसी रंग बिरंगी...

http://yaaden.in/%E0%A4%9C%E0%A5%80%E0%A4%B5%E0%A4%A8-%E0%A4%95%E0%A5%8D%E0%A4%AF%E0%A4%BE-%E0%A4%B9%E0%A5%88/
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded