Profile cover photo
Profile photo
Shipra Trivedi
4 followers -
http://www.vibhuandme.com/
http://www.vibhuandme.com/

4 followers
About
Posts

Post has attachment
उठो पिया अब डेटा खोलो..चाय रेडी है, फट से ले लो.. रात भर के अपडेट पड़े है..सारे फ्रेंड लाइन में ही खड़े है.. कुल्ला मंजन होता रहेगा.. पर ये लाइक, ट्वीट कब तक वेट करेगा.. सोशल मीडिया है अनमोल.. बाकी सब का डब्बा गोल.. क्या आपके यहाँ भी यही हाल है? सुबह हुई…
Add a comment...

Post has attachment
उठो पिया अब डेटा खोलो..चाय रेडी है, फट से ले लो.. रात भर के अपडेट पड़े है..सारे फ्रेंड लाइन में ही खड़े है.. कुल्ला मंजन होता रहेगा.. पर ये लाइक, ट्वीट कब तक वेट करेगा.. सोशल मीडिया है अनमोल.. बाकी सब का डब्बा गोल.. क्या आपके यहाँ भी यही हाल है? सुबह हुई…
Add a comment...

Post has attachment
आज एक लेख पढ़ा और पढ़ कर लगा हम दिन-ब-दिन अपने स्वार्थ के आगे मानवता और दूसरों को नज़रअंदाज़ करने लगे हैं. लेख के बारे में भी बताऊंगी पर पहले दिल्ली के प्रदूषण पर बात कर ले. मैं अब दिल्ली में नहीं रहती, इसी साल दिल्ली से किसी दूसरे शहर आ गई परिवार के साथ. ……
Add a comment...

Post has attachment
आप भी दिवाली की तैयारियों में व्यस्त है? करवाचौथ के बाद से ही दिवाली के आने की ख़ुशी से मन अपने आप खुश रहने लगता है. दिवाली के आने की आहट हम सब को रोमांचित कर देती है. सब अपने स्तर पर तैयारी करते हैं कि इस बार दिवाली कैसे अच्छे से मनाई जाए. घर की ……
Add a comment...

Post has attachment
अरे याद है ना.. हर साल की तरह वो प्यार का त्यौहार फिर से आ गया.. अच्छा तो आप कंफ्यूज हो गई कि ये वैलेंटाइन डे तो कब का जा चुका अब किस प्यार के त्यौहार कि बात करने लगी मैं.. बताती हूँ बताती हूँ.. अपनी हिन्दू सभ्यता में भी एक प्यार का त्यौहार होता ……
Add a comment...

Post has attachment
आपको सबसे पहले एक मज़ेदार बात बताती हूँ. पश्चिम रेलवे के आंकड़ों के मुताबिक बीते वित्तीय वर्ष के दौरान ट्रेन में यात्रा करने वाले मुसाफिरों ने १.९५ लाख तौलिए, ८१७३६ चादरें, ५०३८ तकिए , ५५५७३  तकियो के कवर और ७०४३ कम्बल चुराए. तौलियों का तो मै मान लेती हूँ…
Add a comment...

Post has attachment
कभी आपने अपने छोटे बच्चो को अपने हिन्दू देवी-देवताओ की कहानियाँ सुनाई है? छोटे से मेरा मतलब है ३-४ साल के बस. मैंने जब भी अपने बेटे को ऐसी कोई भी कहानी सुनाई, मुझे ऐसे सवाल जवाबो से गुजरना पड़ा कि पसीने छूट गए.. पिछले साल गणपति उत्सव के आस पास सब जगह…
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
मुझे आज भी याद है जब मैंने अपनी माँ से पूछा था की हम राखी का त्यौहार क्यों मानते है, उन्होंने मुझे एक कहानी सुनाई थी. माँ ने बताया था की महाभारत काल में पांडव अपने इंद्रप्रस्थ राज्य में उत्सव माना रहे थे उनके हितकारी भगवान श्री कृष्णा भी वहाँ मौजूद थे.…
Add a comment...

Post has attachment
आजादी ऐसा शब्द है जो हमे एक अजीब सी ख़ुशी देता है, है ना? आजाद, मुक्त और एकदम स्वच्छंद..जो मन करे वो करना, जैसे मन करें रहना.. बस अपनी मर्ज़ी के मालिक..आजादी के साथ हमे आने वाला समय भी बेहतर नज़र आता है, अपना परिवार और खुशहाल दिखता है और जिंदगी आसान जान पड़ती…
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded