Profile cover photo
Profile photo
Shah Nawaz
2,451 followers
2,451 followers
About
Posts

Post has attachment
ऐसे नाज़ुक वक़्त में हालात को मत छेड़िए - अदम गोंडवी
आज के मौजूं पर अदम गोंडवी साहब की कुछ मेरी पसंदीदा ग़ज़लें: आँख पर पट्टी रहे और अक़्ल पर ताला रहे अपने शाहे-वक़्त का यूँ मर्तबा आला रहे तालिबे शोहरत हैं कैसे भी मिले मिलती रहे आए दिन अख़बार में प्रतिभूति घोटाला रहे एक जनसेवक को दुनिया में अदम क्या चाहिए चार छ...
Add a comment...

देश को नफ़रत की गिरफ्त में ले जाने का काम केवल सांप्रदायिक राजनीति ने ही नहीं बल्कि छद्म धर्मनिरपेक्षता ने भी किया है, इन दलों ने धर्मनिरपेक्षता के दिखावे की आड़ में साम्प्रदायिकता को मज़बूत किया है। वोह धर्मनिरपेक्षता से डराकर लोगों को बेवक़ूफ़ बनाते हैं और यह साम्प्रदायिकता से... दोनों इस आड़ में करप्शन में डूबे हुए हैं, लोगों को शिक्षित करने, मज़बूत बनाने, बराबर अधिकार देने जैसा काम कोई नहीं करता।
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
Commenting is disabled for this post.

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
व्यवस्था परिवर्तन के लिए सतत मेहनत की ज़रूरत है
"लोकतंत्र कमज़ोर है, वोट खरीदे जाते है, बूथ कैप्चर किये जाते है, मतगणना मे धांधली करवाई जाती है, विधायक और सांसद खरीदे जाते है, पूंजीवादी व्यवस्था है, भ्रष्टाचार फैला हुआ है, व्यवस्था को हरगिज़ नहीं बदला जा सकता है" इत्यादि-इत्यादि.... यह सब लोकतंत्र के विरोध...
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded