Profile

Cover photo
golok behari rai
171,189 views
AboutPostsPhotosVideos+1's

Stream

golok behari rai

Shared publicly  - 
 
Pakistan's Baloch Insurgency: History, Conflict Drivers, and Regional Implications
1
Add a comment...

golok behari rai

Shared publicly  - 
1
Afzal Er's profile photo
 
 I fully agree
Add a comment...

golok behari rai

Shared publicly  - 
 
खानदानी लुटेरे

खानदानी शाही दवाखाने किसी के लिए नयी चीज नहीं हैं ,..जो शाही हैं वो खानदानी होते ही हैं ,..उनके दादा नाना से लेकर आने वाली औलादों तक सब नए नुस्खे ईजाद करते रहते हैं ,..दवाई से मरीज मरते रहें इनको कोई फर्क नहीं पड़ता ,..जब तक पुराने मरीज निपटते है तब तक नयी बीमारिया पैदा कर उसके शर्तिया ईलाज का दावा ठोक देते हैं ,..जनता फिरसे लाइन में लग जाती है …………………………………………………………………………………………… इस शाही खानदान की तारीफ ठीक से करने योग्य तो नहीं हूँ ,….फिर भी कोशिश करता हूँ !!!………..फूट डालकर गद्दी बचाए रखने की कला इस खानदान को अंग्रेज ठीक से सिखा गए थे ,.. .इस खानदानी दवाखाने का संस्थापक जब गुलाब का फूल थामे अंग्रेजन के कमरे से निकला तो बच्चों ने देख लिया और शोर मचा दिया ,..अंग्रेजन चालू थी ..तुरंत बच्चों को समझा दिया, ये तो चाचा हैं,..तब से बच्चा किसी का भी हो चाचा वही है ,..इसी चाचे ने पता नहीं अंग्रेजों से क्या समझौता किया कि देश की जनता महान स्वतंत्रता सेनानी सुभाष चन्द्र बोस तक को भूल गयी ,….सत्ता हंस्तान्तरण के समय दिल्ली की गद्दी पर बैठने की ऐसी धुन चढ़ी कि, हिन्दुस्तान के टुकडे हो गए लेकिन बन्दे को कोई फर्क नहीं पड़ा ,….कश्मीर की बात आई तो चाचे ने लौहपुरुष को पीछे करते हुए कहा ,…”वहां का मौसम ठंडा होता है ..मुझे वहां आशिकी का बहुत अनुभव है…वहां का ईलाज मैं करूंगा !! ,..” .नतीजा. नासूर सबके सामने है ,.. फिर इन्होने पंचशील नामक दवा का आविष्कार किया ,…उसका नतीजा आज का हिन्दुस्तान भूल गया ,…देश के हजारों वीर जवान शहीद हो गए ,.जमीन छिन गयी ,.. चाचा जी ने दिल्ली में दो आंसू टपका दिए और देशभक्ति साबित कर दी ,..किसी की मजाल नहीं हुई जो उंगली उठाये !………….काबिल चेले चपाटों को आगे बढ़ा चाचा ने अपनी राह निष्कंटक बना ली ,….. कालांतर में उनकी बेटी ने दवाखाना संभाला ,..जितने भी खानदान विरोधी थे सबको निपटा दिया …जहाँ तक नजर उठाओ दरबार में सिर्फ गुलाम चमचे ही नजर आते थे,…वैसे नजर उठाने की हिम्मत ही किसकी थी ,..इन्होने गरीब मार दवाई का भी आविष्कार किया ,..बहुत कामयाब नुस्खा निकला ,…कोई गरीब नेता बचा ही नहीं !,….दुर्गा बनने का ऐसा भूत सवार हुआ कि मुक्तिवाहिनी बना दी ,..फिरसे हजारों वीर जवान शहीद हुए,.. माताओं बहनों के आंसुओं की नीलामी इन्होने शिमला में की ,.जहाँ बिना अपना कश्मीर लिए सबकुछ दान दे दिया ,..जो बीमारी ख़त्म हो सकती थी ,..इस शाही खानदान ने उसे नासूर बना कर ही दम लिया !!! ………एक बार कुछ लोगों ने विरोध में आवाज बुलंद की ….उसको निर्दयता से दबा दिया ,..कहा इमरजेंसी है …तगड़ा ईलाज करना होगा !,………पंजाब में बीमारी के विषाणु फैलाये फिर ईलाज इतना कड़वा किया कि अभी तक पूरा दर्द नहीं मिट सका !!…….इनके एक वारिस बेचारे जहाज उड़ाते उड़ाते नीचे गिर गए…….दुःख तो हुआ होगा ,.लेकिन बुद्धिमता से काम लेते हुए इतना भी नहीं पता लगाया कि उसमें आग क्यों नहीं लगी ?……शायद उनको अंदाजा रहा होगा कि पेट्रोल होता तो आग लगती !!…… इनके बाद इनके बेटे ने गद्दी संभाली ,….बीमार जनता ने हाथों हाथ लिया ,…साफगोई से देश को बताया कि ..” जो हम देते हैं उसका चार आना ही तुमको मिलता है !! “…बाद में हिसाबी चमचों ने समझाया होगा भैया पचास पैसा फिरसे अपने ही घर वापस आता है ,..उसके बाद यह बात इनके मुह से दुबारा कभी नहीं निकली ,..मस्त होकर दवाखाना चलाते रहे ,..खजाना भरता रहा ,….संभालने के लिए स्विस बैंक थे ही ….. इनके बाद इनकी विदेशी बेगम ने दवाखाना संभाला ,….गद्दी पर बैठने ही वाली थी कि महामहिम ने नागरिकता का सवाल पूछ लिया ,….कोई और रास्ता न देख इन्होने चरण पादुका सबसे ज्यादा वफादार मोहन लाल को थमा दी और खुद त्याग की देवी बन गयी ,…मोहन की गद्दी के बराबर एक नयी गद्दी बना राजमाता नयी बीमारियाँ और उनकी दवाएं ईजाद करने लगी……साथ साथ मूर्ख युवराज को आगे बढ़ाने लगी ,…कुछ शातिर लोगों को उसकी ट्रेनिंग का जिम्मा दिया गया ,……अब पूरा देश इस शाही खानदान द्वारा पैदा कि गयी बीमारीओं कि चपेट में है ,….वैसे तो मोहन लाचार है,. उसको कुछ पता ही नहीं ,……लेकिन जब विदेशी फायदे की बात आती है तो शायद उसको दो-चार चम्मच शेरनी का दूध पिला दिया जाता है ,…थोड़ी ताकत आ जाती है ..जैसे-तैसे एक दहाड़ तो निकल ही जाती है .. अब मूरख युवराज पूरा शातिर बन चूका है ,..समझ गया है कि जब चमचे चाट कर साफ़ कर देते हैं तो धोना क्यों ?….जहाँ उसके दवाखाने बंद हो गए , वहीँ जाकर विधवा विलाप करता है ,..नए नए तरीके सीखे हैं ,..उसे अपनी समझदारी से ज्यादा मरीजों की मूर्खता पर यकीन है ,…..मरीज कहेगा कि खांसी आ रही है तो वो जुलाब की गोली देने को कहता है ,….मरीज खांसने से पहले सौ बार सोचेगा ,…खांसे भी तो अन्दर ही अन्दर ,…जोर लगाया तो फिसलने का डर होगा ,..और ये जानता है कि डर बड़ी चीज है ,….अब इसने एक नयी बीमारी ईजाद की है ,..हिन्दू आतंकी नामक खयाली वायरस का खौफ दिखाकर फिरसे अपनी दवाई मुहमांगी कीमत पर बेचने को तैयार है ,..इसके कई फायदे हैं ,..एक तो इस वायरस के डर से बचे खुचे हिन्दू ईसाई बन जायेंगे दूसरा शाही दवाखाने का खजाना किसी के हाथ नहीं आएगा बल्कि दिन दूनी रात चौगुनी बढेगा ,…… तो मेरे खानदानी मूर्ख देशवासिओं ,..आओ हम अपनी सभी लाइलाज बीमारीओं और चारों तरफ से खतरनाक तरीके से घिरते देश की आन बान और शान की चिंता छोड़ इस गाँधी के कंधे में अपना कन्धा मिलाते रहें ,…..क्योंकि …..अब राज करेगा शातिर गाँधी … वन्देमातरम.... कुछ शब्द नेहरू के लिए - मोदी जी के निजी जीवन पर उंगली उठाने वालों ....कभी पता किया है कि यह जद्दनबाई कौन थी ..? उस जद्दनबाई का मकान नंबर ७७ मीरगंज इलाहाबाद से क्या सम्बन्ध था जिसे मोतीलाल नेहरू चलाते थे उस जद्दनबाई का वी पी सिंह नर्गिस और सुरैया से क्या सम्बन्ध था ..?? क्या वही जद्दनबाई वी पी सिंह की माँ नहीं थी जिसके तीन निकाह हुए थे..?? पहला निकाह नरोत्तमदास खत्री से जो बाद में मियां बन गया जिसे लोग बच्ची बाबू कहते थे दूसरा निकाह उस्ताद मीर खान से जिससे फिल्म एक्टर अनवर हुसैन पैदा हुए तीसरा निकाह उत्तमचंद मोहनचंद से जिसे लोग मोहन बाबू कहते थे जो मियां बन गए जिसका नाम अब्दुल रशीद हो गया वही अब्दुल रशीद जिसने आर्य समाज के स्वामी श्रद्धानन्द जी को छुरा घोंप कर मार डाला था . बनारस की एक कोठेवाली दलीपाबाई पंडित मोतीलाल नेहरू की वैसीवाली पत्नी थीं. दलीपाबाई की पुत्री जद्दनबाई दुनिया की पहली महिला संगीतकार-गायिका थीं जिन्होंने फिल्मों में संगीत दिया. जद्दनबाई नें कई शादियां की होंगी लेकिन उनका पहला प्यार उत्तमचन्द मोहनचंद्जी थे जो कि एक डॉक्टर थे और जद्दनबाई से शादी करके अब्दुल रशीद बन गये थे. इसी शादी से जो तीन बच्चे हुए उनमें सबसे बडी का नाम उन्होंने फ़ातिमा ए.रशीद रखा. यही फातिमा आगे चलकर नरगिस नाम से मशहूर हुईं और थोडा और आगे जाने पर कॉंग्रेस सांसद स्वर्गीय सुनील दत्त की पत्नी बनीं थोडा और आगे जाने पर संजय दत्त की मां बनीं. मोती लाल नेहरु के परिवार को? मोती लाल नेहरु के एक पत्नी और चार अन्य अवेध्य पत्नियाँ थीं. ====================================== (१) श्रीमती स्वरुप कुमारी बक्शी (विवाहिता पत्नी )- से दो संतानें थीं श्रीमती कृष्णा w/o श्री जय सुख लाल हाथी (पूर्व राज्यपाल ). श्रीमती विजय लक्ष्मी पंडित w/o श्री आर.एस.पंडित (पूर्व. राजदूत रूस ) २) रहमान बाई - जिसका बचपन का नाम थुस्सू था ..जो कश्मीर से लाई गयी .. से श्री जवाहरलाल नेहरु - श्रीमती इंदिरा गाँधी -जिसका नाम मेमुना बेगम था श्रीमती इंदिरा गाँधी -जिसका नाम मेमुना बेगम से तीन पुत्र पहला राजीव गांधी... जिसे फिरोज खान उर्फ़ फिरोज घेन्दी ..गाँधी नहीं घेन्दी से पैदा हुआ मानते हैं दूसरा संजीव .. जो मुहम्मद युनुस से तीसरा आदिल शहरयार .. जिसे भोपाल गैस दुर्घटना के बाद एंडरसन के बदले अमेरिका की जेल से छुडवाया गया (३) श्रीमती मंजरी से श्री मेहरअली सोख्ता (प्रसिद्द आर्य समाजी नेता ) (४) ईरान की वेश्या से मो.अली जिन्ना जिसे पाकिस्तान मिला (५ )घर की नौकरानी (रसोइया ) से शेख अब्दुल्ला (कश्मीर के मुख्यमंत्री) अंग्रेजों ने इस भारत नाम के हिन्दू देश को तीन मुस्लिम देशों में बंट दिया .. तीनों का उर्दू नाम रख दिया .. ट्रांसफर ऑफ पवार एग्रीमेंट के द्वार झूठी आजादी दे दी .. साभार जॉन मथाईकी आत्मकथा से ( जवाहरलालनेहरु के व्यक्तिगत सचिव ).


 ·  Translate
1
Add a comment...

golok behari rai

Shared publicly  - 
 
खानदानी लुटेरे
खानदानी लुटेरे खानदानी शाही दवाखाने किसी के लिए नयी चीज नहीं हैं ,..जो शाही हैं वो खानदानी होते ही हैं ,..उनके दादा नाना से लेकर आने वाली औलादों तक सब नए नुस्खे ईजाद करते रहते हैं ,..दवाई से मरीज मरते रहें इनको कोई फर्क नहीं पड़ता ,..जब तक पुराने मरीज निपटत...
 ·  Translate
1
Add a comment...

golok behari rai

Shared publicly  - 
 
In odisha-Deportation issues for Illegal Bangladeshi Immigrants
In odisha-Deportation issues for Illegal Bangladeshi Immigrants Gadaharishpur Panchayat is a stunningly green and beautiful patch of land on the periphery of coastal Erasama Block of Jagatsinghpur District populated by Bengali-speaking Muslims, accused of b...
1
Add a comment...

golok behari rai

Shared publicly  - 
 
Pakistan's Baloch Insurgency: History, Conflict Drivers, and Regional Implications
Pakistan's Baloch Insurgency: History, Conflict Drivers, and Regional Implications By Mickey Kupecz The Baloch people are a unique ethno-linguistic group spread between Afghanistan, Iran, and Pakistan. Throughout history they have been the victims of margin...
The Baloch people are a unique ethno-linguistic group spread between Afghanistan, Iran, and Pakistan. Throughout history they have been the victims of marginalization within their respective countries. This analysis begins by detailing the low-level insurgency the Pakistani Baloch have fought ...
1
Add a comment...

golok behari rai

Shared publicly  - 
 
Glastonbury 2015: China issues fierce warning to organisers about booking Dalai Lama
Glastonbury 2015: China issues fierce warning to organisers about booking Dalai Lama China is against countries offering the Tibetan Buddhist monk a platform for what it believes to be his 'anti-China splittist activities' By JESS DENHAM China is not happy ...
1
Add a comment...

golok behari rai

Shared publicly  - 
 
Janata Couldn’t Have Won Without RSS
Janata Couldn’t Have Won Without RSS Surajit Dasgupta swrajyamag.com On the Emergency Day, we present an untold story of India’s pacifist, media-shy right wing organisation in the backdrop of Indira Gandhi’s despotism. I have been sympathetic to the Rashtri...
1
Add a comment...

golok behari rai

Shared publicly  - 
 
स्वतंत्र भारत के खानदानी लुटेरे
 ·  Translate
1
Add a comment...

golok behari rai

Shared publicly  - 
 
मुस्लिम राष्ट्रिय मंच, झारखंड
प्रदेश पदाधिकारी बैठक,
राँची,4 मार्च 2015
 ·  Translate
1
Afzal Er's profile photo
 
This is only MRM making efforts to bring all Rashtriya Muslims togethor.
Add a comment...
People
In their circles
4,843 people
Contact Information
Home
Phone
+91-94310-95469
Mobile
+917870839120, +917545886644
Email
Address
khanna bhawan, chandralok chauk, muzaffarpur, bihar, India
Links
Contributor to
golok behari rai's +1's are the things they like, agree with, or want to recommend.
Female dentist 'guilty' of treating male patient executed by Islamic Sta...
jamboodweepsecurity.blogspot.com

Female dentist 'guilty' of treating male patient executed by Islamic State. The brutalityunleashed by the Islamic State has reached new heig

Quaid-e-Azam Was an Ismaili Shia, a Kafir; Is Pakistan His Property; It ...
newageislam.com

Quaid-e-Azam Was an Ismaili Shia, a Kafir; Is Pakistan His Property; It Is Our Homeland And We Want to Implement Shariah of Allah in Our Hom

NA passes resolution requesting govt to protect holy sites of religious ...
tribune.com.pk

Resolu­tion urges govern­ment to deploy specia­l securi­ty person­nel at these sites.

Assam Government mulls arming Bangladeshi immigrants in Bodo areas
www.hindujagruti.org

The Congress Government in Assam is reportedly mulling to arm Bangldeshi immigrants in Bodo areas with licensed guns and asked for applicati

The rise of extremist Buddhism in Sri Lanka
www.newkerala.com

By Christine Nayagam : Suddenly, a group of monks, with heads clean shaven and wearing saffron & red robes, emerge out of nowhere on a dark

भारतीय बाजार पर चीनी का आक्रामक आक्रमण-गौतम चैधरी
matribhoomigautam.blogspot.com

चीन का बाजार भारत के गिरेवान तक पहुंच गया है। चीन के आक्रामक अंदाज ने न केवल भारत को चारो ओर से घेर रहा है, अपितु देश के उद्योग को भी नकारात

Rediffmail NG
market.android.com

To enjoy seamless experience of Rediffmail NG across your Android mobile, tablet and PC, download the official Rediffmail NG application her

Yahoo! 電子信箱
market.android.com

備註: 知道有些使用者在讀信時遇到問題。解決此問題的方法是前往﹕設定 > 關於 Yahoo! 電子信箱 > 清除快取記憶體。清除本機快取記憶體後便可看見您的信件。對此不便,請見諒。隨時隨地讀取信件 •點一下即可存取您的收件匣•有新信時,可隨時收到通知•可用連續捲動動作快速讀取收件

भारत वर्ष | Jamboodweep Security
jamboodweepsecurity.blogspot.com

इतिहास साक्षी है , जब विदेशी शक्तियों ने अटोमन साम्राज्य पर आक्रमण कर उसका इतना टुकड़ा कर दिया कि आज इराक है , तुर्की है या एनी छोटे बड़े दे

आर्यावर्त | Jamboodweep Security
jamboodweepsecurity.blogspot.com

आर्यावर्त समाज निर्माण के प्रारंभ से ही जो ब्यक्तियों का समूह समुन्नत हुआ , जो पृथ्वी के जम्बूद्वीप के भारत वर्ष क्षेत्र में निवास करता था ,

स्वतंत्र तिब्बत आन्दोलन -एक नयी राह,एक नया आयाम
jamboodweepsecurity.blogspot.com

17 अक्टूबर 2011 को 20 वर्षीय तेजिन वान्ग्मो नामक भिक्षु पूर्वोत्तर तिब्बत के Mamae आश्रम,Ngaba में फ्री-तिब्बत का नारा देते हुए खुद को अग्नि

Home | Gujarat Tourism
www.gujarattourism.com

Dear Traveller, On behalf of everyone in Gujarat we extend towards you our very warm welcome. The main intention behind creating this websit

आर्यावर्त
abcdsecurity.blogspot.com

आर्यावर्त समाज निर्माण के प्रारंभ से ही जो ब्यक्तियों का समूह समुन्नत हुआ , जो पृथ्वी के जम्बूद्वीप के भारत वर्ष क्षेत्र में निवास करता था ,

जम्बूद्वीप
abcdsecurity.blogspot.com

प्राप्त करे , वर्तमान की सारी कटुताओं को सुलझाकर विस्मृत कर ले ! एक नई एकता , दृढ़ता, शांति व संकल्प के साथ एक नए वातावरण में एक नए युग का ,

पाकिस्तान से ......Converted Hindu girls choose to live with husbands-SC
abcdsecurity.blogspot.com

From Pakistan.. It is no wonder that the same is true of Pakistan and Islam ==================================== Converted Hindu girls choos

Send Free International SMS to India, Singapore and More
techpp.com

SMS portals that allow you to send Free SMS via GPRS or Internet are very popular. 160by2 was one of the pioneers in this field from India.

"Jamboodweep " --- "जम्बूद्वीप": जम्बूद्वीप का मानचित्र विष्णु पुराण ...
abcdsecurity.blogspot.com

संसार में जब से भी इतिहास लिखने की शुरुवात हुई , तब से आज तक में लिखे गए सभी इतिहासों में दुनिया की सबसे ही है ! सृष्टि निर्माण के प्रारंभ स