Profile cover photo
Profile photo
डॉ. अपर्णा त्रिपाठी
1,510 followers -
पलाश
पलाश

1,510 followers
About
Posts

Post has attachment
अब न मानूंगी भगवान तुझे
बस भी करो अब देवी
कहना पहले समझो तो इंसान
मुझे दिखलाओ जरा साथी बनकर अब न मानूंगी भगवान
तुझे कदम कदम पर छलते चलते और पतिदेवता कहलाते
हो कभी जोर से कभी फुसलाकर अपने ही मन की करवाते
हो बहुत सुना है बहुत
सहा है अब घुटन से् है इंकार
मुझे दिखलाओ जरा साथी बनकर अब ...
Add a comment...

Post has attachment

Post has attachment
सोशल मीडिया में हमारी भूमिका
आज के समय में ऐसा
कोई भी वर्ग नही जो सोशल मीडिया से जुड़ा हुआ न हो, 6७ साल के बच्चे से लेकर ८0-८५ वर्ष
का वृद्ध भी आपको यहां मिल जायगा। ऐसा कोई भी विषय नही जिसकी चर्चा यहां न होती हो।
ऐसे समय में हमारी भूमिका भी अहम हो जाती है, हमारी एक लापरपाही, हमारी एक छो...
Add a comment...

Post has attachment

Post has attachment
न यूं ही कहो हम हैं सही
बुरा किसी को कहने से बुराइयां गर होती खत्म शायद ये दुनिया जन्नत से भी कही ज्यादा होती हसीं जानते हो आप भी यकी ये हमे भी है महज चर्चा बुराइयों का करने से जमीं जन्नत होगी नही कहते है हम भी कहते हो आप भी जमाना खराब हुआ जाता हर जमाने की है ये कही ठहरो जरा सोचो ...
Add a comment...

Post has attachment

Post has attachment
हिंदी प्रेम
खाना खाने के
बाद, बच्चे टी वी देखने में मस्त हो गये और पत्नी जी किचन का काम समेटने लगी। अवस्थी जी मोबाइल
ले कर बाहर लॉन में निकल आये। अवस्थी जी चार साल पहले ही बैंक में प्रोबेशनरी ऑफीसर के पद पर नियुक्त हुये थे। और करीब एक साल पहले आपका ट्रांसफर दिल्ली की ल...
Add a comment...

Post has attachment

Post has attachment
करती हूँ आहवाहन मै
करती हूँ आहवाहन मै,
बस पढे लिखे समझदारों से देखो जरा निकलकर दुनिया
फेसबुक की दीवारों से बूढ़ी माँ लाचार पिता
हर पल राह तुम्हारी तकते हैं धन दौलत की चमक नही,
तेरे चेहरे को तरसते है थोडा उनके साथ रहो,
निकल दिखावे के बाजारों से करती हूँ आहवाहन मै,
बस पढे लिखे स...
Add a comment...

Post has attachment
Wait while more posts are being loaded