Profile cover photo
Profile photo
alsvetcare.com
6 followers
6 followers
About
Posts

Post has attachment
लामिनिटिस बीमारी की रोकथाम कैसे करे?
• नरम फर्श प्रदान करें।
• संतुलित फ़ीड प्रदान करें जिसमें पर्याप्त चारा भी शामिल है।
• लगातार २-४ दिन खुरों को ५% तांबा सल्फेट से नेहलाये।
• ६ महीने में कम से कम एक बार खुर ट्रिमिंग कीजिये।
• बैठने के लिए पर्याप्त जगह उपलब्ध कीजिये।
• किसी भी चोट और लामिनिटिस के संकेत के लिए नियमित रूप से खुरों की जाँच करें।
#dairyfarming #dairybusiness #cow #cattle #disease #healthtips #vetcare #veterinary
Photo

Post has attachment
पशुओं का परिवहन करते समय यह सावधानी रखे।
#dairyfarmer #dairyfarming #cattle #cow #healthtips #animal #vetcare
Image Courtesy: dailynews.lk
Photo

Post has attachment
भैंस की नस्ल: नागपुरी
प्रजनन पथ: महाराष्ट्र के अकोला, अमरावती, यवतमाल, वर्धा और नागपुर जिलेमें
दिखावट: काला रंग और चेहरे, पैर और पूंछ पे काले और सफेद दाग
शरीर का आकार: मध्यम
सींग: सींग लंबी, सपाट और घुमावदार होते हैं, गर्दन के प्रत्येक तरफ से पीछे की ओर झुकाव
दूध उत्पादन: औसतम १०३९ किलोग्राम दूध, जिसमे लगभग ७.० – ८.८% फैट

#dairybuffalo #dairybusiness #dairyfarmer #veterinary #vetcare #knowledge
Photo

Post has attachment
जानिए पिस्सू को जानवरों से कैसे दूर रखे!
#cattle #dairycow #dairyfarmer #dairybusiness #vetcare
Photo

Post has attachment
हुकवर्म इन्फेक्शन के लक्षण
#hookworm #dairycow #animalhealth #dairybusiness #dairyfarmer #vetcare
Photo

Post has attachment
नए जन्मे हुए बछड़े अच्छी तरह से देखभाल कीजिये। #cattle #cow #dairyfarming #dairybusiness #healthtips #calf #veterinary #vetcare
Photo

Post has attachment
ब्रुसेलोसिस की रोकथाम कैसे करे?

• ४-८ महीने की आयु के बीच महिला बछड़ों को टीका लगाएं।
• ब्रुसेलोसिस से बचाने के लिए पशु के जीवनकाल में केवल एक टीकाकरण आवश्यक है
• 5 महीने के बाद से किसी भी गर्भपात को ब्रुसेलोसिस के लिए संदेह किया जाना चाहिए।
• संक्रमित पशुओं को तुरंत गर्भपात के बाद कम से कम २० दिनों के लिए अलग रखे।
• कम से कम ४ फीट गहरे खड्डे में गर्भपात भ्रूण, नाल, दूषित बिस्तर, फीड आदि को दफ़न किया जाना चाहिए। यह सामग्रियों में बहुत बैक्टीरिया होती है जिस वजह से ब्रुसेलोसिस की बीमारी फैलने का खतरा अधिक प्रमाण में होता है।
• गर्भपात हुए जानवर को अलग करने के बाद शेड कीटाणुरहित कीजिये।
• संक्रमित सामग्रियों को नंगे हाथों से न उठाईये, क्यूंकि यह बीमारी इंसानों में भी फैल सकती है।
Photo

Post has attachment
भैंस की नस्ल: पंढरपुरी
प्रजनन पथ: महाराष्ट्र के सोलापुर, सांगली और कोल्हापुर जिले
दिखावट: काला, कुछ जानवरोंमें सफेद निशान माथे, पैर और पूंछ पाए जाते है।
सींग: सींग बहुत लंबे होते हैं और कंधे के ब्लेड से परे का विस्तार करते हैं, कभी-कभी पिन हड्डियों तक।
दूध उत्पादन: औसतम १७९० किलोग्राम दूध, ८% फैट के साथ
#dairybuffalo #dairybusiness #dairyfarmer #veterinary #vetcare #knowledge
Image Courtesy: icar.org.in
Photo

Post has attachment

Post has attachment
नए जन्मे हुए बछड़े अच्छी तरह से देखभाल कीजिये। #cattle #cow #dairyfarming #dairybusiness #healthtips #calf #veterinary #vetcare #animalmedicine
Photo
Wait while more posts are being loaded