Profile cover photo
Profile photo
SUMIT PRATAP SINGH
Lyricist & Script writer
Lyricist & Script writer
About
Posts

Post has attachment
Add a comment...

Post has attachment
जय हिंद साथियो!
दैनिक जागरण के इटावा संस्करण में पुलिस के उजले और सकारात्मक पक्ष को समर्पित हमारे यूट्यूब चैनल 'सावधान! पुलिस मंच पर है' की खबर को स्थान दिया है। इसे सब्सक्राइब करके आप भी हमारे अभियान से जुड़ सकते हैं।
हमारे यूट्यूब चैनल का यूआरएल लिंक निम्न है : -
https://www.youtube.com/channel/UC1Mij97JpMSf-bsRiC8iToA
Photo
Add a comment...

Post has attachment
जय हिंद साथियो!
आप सभी की शुभकामनाओं के फलस्वरूप हमारा यूट्यूब चैनल 'सावधान! पुलिस मंच पर है' चर्चित हो रहा है। वरिष्ठ पत्रकार श्री प्रदीप महाजन जी का अपनी पत्रिका में इस खबर को स्थान देने के हार्दिक आभार।
आप भी हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर इससे जुड़ें। हमारे यूट्यूब चैनल का यूआरएल लिंक निम्न है : - https://www.youtube.com/channel/UC1Mij97JpMSf-bsRiC8iToA
Photo
Add a comment...

Post has attachment
पुलिस की ट्रेनिंग
है मुसीबतों की रेनिंग ☺️
https://m.youtube.com/watch?v=6KeZ3l5fjYo
Add a comment...

Post has attachment
जय हिन्द मित्रों!
करनाल, हरियाणा के जयदीप सिंह लेखन जगत के उभरते हुए सितारे हैं। पुलिसवालों के बारे में जहाँ अधिकतर लोग नकरात्मक विचारधारा रखते हैं, वहीं जयदीप पुलिस विभाग और पुलिस कर्मियों के बारे में कुछ अलग ही सोचते हैं। यदि आपको उनके ये विचार अच्छे लगें तो इन्हें लाइक व शेयर करके आगे बढ़ाइये और हमारे यूट्यूब चैनल 'सावधान! पुलिस मंच पर है' को सब्सक्राइब भी कीजिये।
धन्यवाद
वीडियो का यूट्यूब यूआरएल लिंक नीचे दिया गया है : -
https://youtu.be/FxmQqWNrj8g
Add a comment...

Post has attachment
नमस्कार!

पन्ना, मध्य प्रदेश के कवि जयपाल सिंह परमार ने अपनी कविता 'कर्तव्य पथ पर पुलिस' के माध्यम से पुलिसजन के मन की बात आप सभी के समक्ष रखी है। जयपाल जी भारतीय जीवन बीमा निगम की पन्ना शाखा में विकास अधिकारी पद पर लगातार तीस वर्षों से प्रथम स्थान पर रहते हुए साहित्य की साधना में रत हैं। अतिशीघ्र ही उनकी पहली पुस्तक 'कल्पवृक्ष सेंहुड़ लगता है' प्रकाशित ही होनेवाली है।
उनकी इस कविता को सुनें और अच्छी लगे तो इसे लाइक और शेयर करें और हमारे यूट्यूब चैनल 'सावधान! पुलिस मंच पर है' को सब्सक्राइब भी करें।
धन्यवाद

वीडियो का यूट्यूब लिंक निम्न है : -
https://youtu.be/ySG44wXOCXA
Add a comment...

Post has attachment
स्मार्ट आदमी
हमें नहीं मतलब अपने आसपास कुछ भी  घटित होने से  किसी के जीने-मरने  हँसने या रोने से  न ही हमें  ये जानने की है इच्छा कि प्रकृति की सुंदरता का  वध करके कैसे रोज उग रहे हैं कंक्रीट के नए-नए जंगल  और भला कैसे  प्राकृतिक संसाधनों का गला घोंट कर  उगाई जा रही है ...
Add a comment...

Post has attachment
नन्हे कदम
नन्हे कदम पड़ें जो घर में खुशहाली आ जाती है रौनक सी घर में रहती है नव ऊर्जा इसमें समाती है बालक का रोना-धोना भी मन-मस्तिष्क को सुख देता है छोटे-मोटे कष्टों को तो ये सुख यूँ ही हर लेता है हृदय में हिलोरें उठती हैं खुशी से फूलती छाती है बेफिक्री कर जाती है कट्...
नन्हे कदम
नन्हे कदम
sumitpratapsingh.com
Add a comment...

Post has attachment
चिरपोटन चाचा के नाम चिट्ठी
     ब चपन, बोले तो जीवन का मस्तमौला, बेफिक्र और शरारत से भरा समय। सो उसी बचपन का आनंद लेते हुए मैं छठी कक्षा में पढ़ रहा था। बचपन ने शरारत करने को कहा तो कागज लेकर बैठ गया चिट्ठी लिखने को। पहली रचना के तौर पर मैंने चिट्ठी में छठी के कोर्स की एक कविता की पैर...
Add a comment...

Post has attachment
व्यंग्यात्मक तेवर झलकाती सहिष्णुता की खोज
    का नून व्यवस्था से सीधा जुड़ा कोई व्यक्ति जब लेखन में उतरता है और वह भी व्यंग्य लेखन में तो उसकी रचनाओं पर कुछ कहने लिखने से पहले इस बात की तारीफ तो अनिवार्य हो जाती है कि वह लिखने में सन्नद्ध हुआ। यानि उसका अपना पक्ष है और वह इसे खुलकर अभिव्यक्त करना च...
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded