Shared publicly  - 
 
Bikaner Hindi Unicode font Download with practical Use
Unicode Fonts What for
सबसे पहले संक्षेप में समझ लें कि अंग्रेजी के साथ-साथ कुछ यूरोपीय भाषाएं व चिह्न कंप्यूटर में आरंभिक काल में आए तथा उनपर आधारित अन्य भाषाओं के फोंट बने। इससे मूल अंग्रेजी होते हुए भी भाषाई टाइपिंग प्रदर्शित हो जाती थी। फोंट की अनुपस्थिति में डिब्बे से दिखाई देते थे। यूनिकोड के माध्यम से विश्व की बहुत सी भाषाओं को यूनीक या अनन्य कोड प्रदान किए गए। इससे फोंट चाहे बदल भी जाए कोड के अनुसार लिखी गई सामग्री वही मौलिक बनी रहती है। इसलिए हिन्दी को भी कोड मिले तथा हिन्दी यूनिकोड फोंट भी बहुत से बन गए। पुराने हिंदी दर्शाने वाले अंग्रेजी या चिह्न आधारित फोंट भारत में लोकप्रिय हो चुके हैं अतः उन्हें यूनिकोडिंग के लिए परिवर्तित करना होता है जिससे समस्त माध्यमों पर प्रयोग किया जा सके। मुद्रण प्रकाशन कार्य की वृत्ति के अनुसार नॉन यूनिकोड हिन्दी फोंट तथा हिंदी टाइपिंग के भिन्न ले आउट आज भी चल रहे हैं।
Hindi Keyboard Layouts for Unicode Fonts
हिंदी के यूनिकोड फोंट को किसी भी कीबोर्ड लेआउट पर उपयोग किया जा सकता है। ध्यान रहे लेआउट की दृष्टि से अंग्रेजी के तथा बहुत सी भाषाओं के लेआउट भिन्न भिन्न हैं। कोड को भाषिक चिह्नों में बदलने की प्रोग्रामिंग आंतरिक स्तर पर होती है। फोंट इंस्टाल होने के बाद उनको किसी भी लेआउट पर काम ले सकते हैं। अंग्रेजी से देवनागरी बनाने से लेकर इनस्क्रिप्ट या रेमिंग्टन कृतिदेव स्टाइल में टाइपिंग की जा सकती है।
Unique Layout for Hindi Devanagari
जैसा कि पहले चर्चा हो चुकी है कि हिन्दी देवनागरी के लिए नॉन यूनिकोड फोंट के बहुत से कीबोर्ड लेआउट थे लेकिन पुराने टाइपराइटर रेमिंग्टन की स्टाइल सर्वाधिक लोकप्रिय थी तथा नॉन यूनिकोड फोंट में सर्वाधिक इसे ही कुछ परिवर्तनों से अपनाया गया है। भारत सरकार ने बहुत वर्षों बाद इस विषय पर कुछ ध्यान दिया तथा हिन्दी तथा भारतीय भाषाओं के लिए यूनीक अनन्य कीबोर्ड लेआउट तैयार करवाए गए। यूनिकोड इंटरनेशनल को भी वही कीबोर्ड लेआउट दिए गए तथा विभिन्न ऑपरेटिंग सिस्टम में भी यही लेआउट शामिल भी हो गए।
Different Hindi keyboard layout working with same Unicode Hindi Fonts
चूंकि भारत में बिकने वाले कीबोर्ड अधिकांशतः अंग्रेजी "की" ही दर्शाने वाले हैं इसलिए हिन्दी भाषा का कीबोर्ड लेआउट बन कर भी लोकप्रिय नहीं हुआ। बहुत वर्षों तक पुराने टाइपराइटर से हिन्दी टाइपिंग सिखाई जाती रही इसलिए कृतिदेव, देवली, चाणक्य, वॉकमैन जैसे नॉन यूनिकोड कीबोर्ड लेआउट को ही हिन्दी टाइपिंग के लिए व्यवहारिक रूप से काम में लिया जाता रहा है। पिछले पाँच वर्षों में मोबाइल टैब कंप्यूटर पर हिन्दी टाइपिंग अंग्रेजी कीबोर्ड आधारित गूगल व एमएस हिंदी इनपुट से बढ़ रही है। इन दिनों Voice typing (वाणी टंकण) क्रोम व एंड्रोएड पर तेजी से बढ़ी है।
Bikaner Unicode Hindi font for All
हिन्दी के बहुत से फोंट में से चाणक्य वॉकमैन एरियलयूनि सर्वाधिक सुघड़ सुंदर व्यवस्थित फोंट हैं तथा इनके समान ही बीकानेर फोंट है बस अंतर यह है कि चाणक्य वॉकमैन नॉन यूनिकोड हैं तथा एरियलयूनि 22 एमबी का भारी भरकम फोंट है क्योंकि सर्वाधिक भाषाएं उसमें समाहित हैं। इन सीमाओं को बीकानेर फोंट पार कर हिन्दी के लिए बनाया गया यूनिकोड फोंट है जो 180 केबी का है। ब्राउजर से लेकर मोबाइल में इसे प्रयोग किया जा सकता है तथा इससे हिन्दी सुंदर व्यवस्थित समानुपातिक मिश्रित संयुक्ताक्षर के साथ देखी जा सकती है।
Chrome Firefox Edge Safari Opera किसी भी ब्राउजर में यूनिकोड UTF-8 करने तथा हिन्दी देवनागरी के लिए फोंट बीकानेर सैट करने के बाद आप हिन्दी देवनागरी इसी फोंट के माध्यम से देख सकते हैं। एंड्रोएड मोबाइल या टैब में भी इंस्टाल करने के लिए System Dir के Fonts Folder में सिस्टम के अनुसार जैसे Samsung Devanagri or DroidSansDevanagari नाम के फोंट के समान नाम बदलकर इसका प्रयोग किया जा सकता है। यह ध्यान रहे कि permission original font की तरह ही रखनी होगी जिसके लिए Root होना आवश्यक है। चित्रों के माध्यम से permission difference for original font दर्शाई गई है।
Translate
1
Add a comment...