Profile

Cover photo
Neeraj Dwivedi
Works at ISS Software Development Private Ltd.
Attended Pt Deen Dayal Vidyalaya Kanpur
Lives in Gurgaon, Haryana
1,039 followers|720,514 views
AboutPostsPhotosYouTube

Stream

Neeraj Dwivedi

Shared publicly  - 
1
Add a comment...

Neeraj Dwivedi

Shared publicly  - 
 
 
Funny Boll Jumping ...............
Comments please:
20 comments on original post
3
Add a comment...

Neeraj Dwivedi

Shared publicly  - 
 
मैं ही क्यों आखिर, हर बार टूटता हूँ?
 
हर जगह छूटता हूँ,
मैं ही क्यों आखिर, हर बार टूटता हूँ?
 
मैसूर में खोया जो, कावेरी के जल में,
इतिहास की धरती पर, रिमझिम से मौसम में,
उस खोये कतरे को,
हर जगह ढूंढता हूँ ....
हर जगह छूटता हूँ,
मैं ही क्यों आखिर, हर बार टूटता हूँ?
 
इस ईंट के जंगल से, क्यों मोह मुझे होगा,
क्यों मील के पत्थर से, बिछोह मुझे होगा,
गुडगाँव शहर में मैं,
इक गाँव ढूँढता हूँ ....
हर जगह छूटता हूँ,
मैं ही क्यों आखिर, हर बार टूटता हूँ?
 
खोजता हूँ जर्रों में, चिन्ह आज खुद के,
पंछियों के रव कलरव, ताल वो कुमुद के,
हर कदम पे रुक रुक,
हर बार सोचता हूँ ....
हर जगह छूटता हूँ,
मैं ही क्यों आखिर, हर बार टूटता हूँ?
n  नीरज द्विवेदी
n  Neeraj Dwivedi
 ·  Translate
6
2
NEERAJ ANAND's profile photoMohammad Danish's profile photoहेमराज हंस's profile photoNiraj Dwivedi's profile photo
2 comments
 
Like
Add a comment...

Neeraj Dwivedi

Shared publicly  - 
 
मैं खुश रहता हूँ,
आज कल भी
तुम्हारे बिना भी

पर तुम्हे पता है .... 
 ·  Translate
1
Add a comment...

Neeraj Dwivedi

Shared publicly  - 
 
जल्दी बीतो न, 
दिन, 
रात 
और दूसरे समय के टुकड़ों ...
तेज चलो न 
घडी की सुईयों 
धक्का दूँ क्या ....
ये टिक टिक 
जल्दी जल्दी टिक टिकाओ न …
तुम्हारा क्या जाता है 
पर मेरा जाता है।

-- नीरज द्विवेदी
 ·  Translate
1
Add a comment...

Neeraj Dwivedi

Shared publicly  - 
 
 
रेशे Reshe
रेशे कल शाम बिछुड़ गए
मुझसे मेरे कई अधूरे
शब्द, खो गए कुछ अस्पष्ट
भाव बिखरे हुए अजन्में विचार और दूर हो गयीं
मुझसे कुछ अधूरी
पंक्तियाँ अधपकी नज्में और मेरे अंग
……. लगा जैसे कुछ रेशे
निकल गए हों मेरे जेहन
के मेरी आत्मा
के ……. -     Neeraj
Dwivedi -     नीरज ...
 ·  Translate
View original post
1
Add a comment...
Have him in circles
1,039 people
neeraj kumar's profile photo
Saurabh Kumar's profile photo
Sunil Kumar Lal's profile photo
Kuldeep Arya's profile photo
ritesh kumar tiwari's profile photo
Aditya Singh's profile photo
V K Dwivedi's profile photo
ankit agarwal's profile photo
Nsd SHIVAM's profile photo

Neeraj Dwivedi

Shared publicly  - 
 
"खुशबू सीली गलियों की" के बारे में लिखने के लिए मुझे बहुत देर हो चुकी है शायद। पता नहीं किसी कविता संग्रह के बारे में लिखने के लायक हूँ मैं या नहीं परन्तु एक संग्रह है जिसके बारे में मैं कुछ लिखना चाहता हूँ। संग्रह का नाम है "खुशबू सीली गलियों की" जिसमें संगृहीत हैं सीमा दी की कवितायेँ।

चलिए मैं भी कहानी सुनाना बंद कर इसी संग्रह की कुछ पंक्तियों से संग्रह का परिचय देता हूँ।

तुम मुझे दो शब्द
और मैं
शब्द को गीतों में ढालूँ

जिस प्रकार सा .....
 ·  Translate
1
Add a comment...

Neeraj Dwivedi

Shared publicly  - 
4
Mohammad Danish's profile photoSube singh Sujan's profile photo
2 comments
 
धन्यवाद 
 ·  Translate
Add a comment...

Neeraj Dwivedi

Shared publicly  - 
 
An awesome interface for pharmaceutical companies -- Have a look .. 
1
Add a comment...

Neeraj Dwivedi

Shared publicly  - 
 
मैं खुश रहता हूँ,
आज कल भी
तुम्हारे बिना भी

पर तुम्हे पता है ... 
 ·  Translate
1
Add a comment...

Neeraj Dwivedi

Shared publicly  - 
 
विंध्य हिमाचल से निकली जो,
उस धारा की गति प्रवाह हम,
मार्ग दिखाने इक दूजे को,
बुजुर्ग अनुभव की सलाह हम,
फटकार हैं हम, डांट हैं हम, एक वृक्ष की शाख हैं हम।
 ·  Translate
1
Add a comment...

Neeraj Dwivedi

Shared publicly  - 
 
I write this for two reasons: to add context to what is evident from the Zee News video clip https://www.youtube.com/watch?v=54xGasucqAc ; to avoid a Rashomon like state and rebut Rajdeep Sardesai's attempt to paint himself t...
1
Add a comment...
People
Have him in circles
1,039 people
neeraj kumar's profile photo
Saurabh Kumar's profile photo
Sunil Kumar Lal's profile photo
Kuldeep Arya's profile photo
ritesh kumar tiwari's profile photo
Aditya Singh's profile photo
V K Dwivedi's profile photo
ankit agarwal's profile photo
Nsd SHIVAM's profile photo
Work
Occupation
Engineer
Employment
  • ISS Software Development Private Ltd.
    2012 - present
  • Infosys
    Engineer, 2010 - 2012
Places
Map of the places this user has livedMap of the places this user has livedMap of the places this user has lived
Currently
Gurgaon, Haryana
Previously
Kanpur,Ghaziabad, UP - Mysore, Karnataka - Tirwa,Kannauj, UP
Story
Tagline
मैं खोना नहीं चाहता अपनी आवाज, एहसानों के नीचे क्यूँ दबाते हो मुझे?
Introduction

लिखना कोई शौक न है मेरा,

ये तो बस इक अभिलाषा है,

इस माँ के चरणों में अर्पित,

मेरे भावों की भाषा है।

मेरे शब्दों से रची बुनी,

नव भारत की परिभाषा है,

बस शब्द चुने हैं भावों ने,

भारत समझेगा, आशा है।

      I am just a nice creature of God having just a little knowledge. Its my attempt to extend myself in the air. I love myself, my neighborhood, my city, my country and off-course this universe. My aim for life is just being a sincere & a true human being only.

Bragging rights
Survived BTech from UPTU anyhow..
Education
  • Pt Deen Dayal Vidyalaya Kanpur
    Intermediate, 2005
  • Ajay Kumar Garg Engineering College, Ghaziabad
    BTech, 2010
Basic Information
Gender
Male
Other names
नीरज द्विवेदी, Annu, Neeraj Kumar Dwivedi