Profile cover photo
Profile photo
Jivo Canola Oil - Live Healthier. Live Longer.
131 followers -
Live Healthier. Live Longer
Live Healthier. Live Longer

131 followers
About
Posts

Post has attachment
#NaniKehtiHai

याददाश्त के लिए अच्छे हैं अखरोट!

अखरोट स्वादिष्ट, स्वस्थ और आवश्यक मस्तिष्क पोषण में अमीर हैं। मस्तिष्क और मानसिक विकारों को बढ़ाने के लिए अखरोट की आवश्यकता है फल की तरह बिल्कुल रासायनिक मुक्त और कोलेस्ट्रॉल में कम है। विज्ञान भोजन में आपके नियमित विकल्पों पर मुट्ठी भर आहार के साथ समग्र स्वास्थ्य लाभ से सहमत है। अखरोट ओमेगा 3 फैटी एसिड का एक बड़ा स्रोत है और स्वाभाविक रूप से सोडियम, कोलेस्ट्रॉल और लस मुक्त हैं। ग्लोबल स्टडीज से पता चलता है कि रोज़ अखरोट खाने से कार्डिनोवास्कुलर रोग, उच्च रक्तचाप, मधुमेह, कैंसर, अस्थमा और गठिया जैसी पुरानी बीमारी का जोखिम कम हो सकता है। कैलिफ़ोर्निया अखरोट के बारे में सबसे अच्छा रास्ता यह है कि न केवल पोषण बल्कि बहुत स्वादिष्ट है तो एक स्नैक के रूप में मुट्ठी भर लें, या अपने भोजन में शामिल करें ताकि आप को कुचलने, पोषण और स्वाद बढ़ सकें।

अल्जाइमर रोग रिपोर्ट 2012 के एक जर्नल ने पाया कि भूमध्यसागरीय आहार के हिस्से के रूप में अखरोट खाने से बेहतर स्मृति और मस्तिष्क समारोह शामिल था। एक नए अध्ययन से पता चलता है कि प्रतिदिन मुट्ठी भर अखरोट खाने से आपकी स्मृति, एकाग्रता और गति को बढ़ावा देने में मदद मिल सकती है, जिस पर आपके मस्तिष्क की जानकारी की जानकारी होती है। अखरोट में एंटीऑक्सिडेंट उम्र से संबंधित संज्ञानात्मक गिरावट का सामना करने में मदद कर सकते हैं और अल्जाइमर सहित न्यूरो-डीजेरेटिव रोगों के जोखिम को भी कम कर सकते हैं।

तो, दैनिक अखरोट का सिर्फ एक मुट्ठी भर आहार आपकी स्मृति को बढ़ा सकता है अखरोट भी एक अच्छा 'बाल भोजन' है इसका कारण यह है कि अखरोट में बायोटिन (विटामिन बी 7) होता है जो बालों को मजबूत करने, बालों के झड़ने को कम करने और कुछ हद तक बाल विकास में सुधार करने में सहायता करता है। अखरोट के अलावा, आप बालों के झड़ने को रोकने के लिए इन खाद्य पदार्थों की कोशिश कर सकते हैं। ब्रिटिश जर्नल ऑफ न्यूट्रीशन में शोध के अनुसार, केले के रोटी जैसी पके हुए वस्तुओं में अखरोट का आनंद लेने के लिए अब भी स्वास्थ्य लाभ हैं और महत्वपूर्ण सोच में मदद मिल सकती है। आनंद के दौरान इसकी मुख्य चीज़ पागल आकर्षण है। हर तरह की फलों को हर तरह से मुट्ठी भर मिलते हैं। तो क्यों न आप इसे अपने दैनिक पोषण में पसंद करेंगे, जबकि यह मस्तिष्क में रक्त प्रवाह बढ़ रहा है और मस्तिष्क की रक्त शर्करा का उपयोग करने की क्षमता को बढ़ाता है, इसका ईंधन का मुख्य स्रोत है।
Photo
Add a comment...

Post has attachment
#CookingInCanola

Egg-less & Butter-Less Lemon Sponge Cake with Canola Oil

Ingredients
1 ¾ cup maida
1 tsp baking soda
2 tsp baking powder
1 ¼ cup curd
½ cup castor sugar
grated rind of 1 lemon
3 tbsp lemon juice
¼ cup Jivo Canola oil

Method

Combine curd and powdered sugar in a bowl and whisk it or beat it using hand blender .

Add lemon rind, lemon juice and canola oil. Blend it again.

Sieve maida, baking powder and baking soda. Add this dry mixture to the first mixture.

Preheat oven to 180 degree C for 10 mins.

Take a greased vessel. Pour the batter in it.

Keep the vessel in oven and bake at 180 degrees C for 25-30 mins.

You can check the cake by inserting a toothpick in it which should come out clean
Photo
Add a comment...

Post has attachment
#NaniKehtiHai

आंखों की समस्या में लाभकारी नीम!

नीम एक ऐसा खाद्य पदार्थ है, जो किसी को भी पसंद नहीं होता। ले
नीम में वह सारे औषधीय गुण पाए जाते हैं, जो आपके बालों के लिए और आंखों की समस्या को दूर भगाने के लिए पाए जाते हैं।

इसके नियमित उपयोग से आप आंखों की हर तरह की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

नीम एक ऐसी सामग्री है, जिसे खाने से आपकी आंखों को काफी लाभ मिलेगा। मीठी नीम के पत्तों का चुर्ण बना लें और रोज सुबह 1 चम्मच सुबह खाली पेट उसे साधारण पानी के साथ लें। इससे आपकी आंखों की समस्या दूर होगी। लेकिन ध्यान रहे आपको पहले पत्तों को धूप में सुखाना होगा, इसके बाद ही आप मीठी नीम के पत्तों का चुर्ण बना सकते हैं। इसकी खास बात यह है कि यह जल्दी खराब नहीं होता है। यह काफी दिनों तक सुरक्षित रहता है।
Photo
Add a comment...

Post has attachment
#HealthAlert

Women are more susceptible to heart diseases than men

Women are more susceptible to heart diseases than menThe most common symptoms of heart attack in women include pain, pressure or discomfort in the chestThere are several lifestyle changes you can make to reduce your risk of heart disease

Heart disease is often thought of as a problem for men, more women than men die of heart disease every year. Symptoms in women can be different from symptoms in men. Fortunately, women can take steps to understand their unique symptoms of heart disease and to begin to reduce their risk of heart disease.

The most common symptom of heart attack in women is some type of pain, pressure or discomfort in the chest. Women are more likely than men to have atypical heart attack symptoms which are unrelated to chest pain, such as: neck, shoulder, upper back or abdominal discomfort
shortness of breath
nausea or vomiting
sweating
light-headedness or dizziness
and unusual fatigue
These symptoms are more subtle than the obvious crushing chest pain often associated with heart attacks especially in men. This may be because women tend to have blockages not only in their main arteries but also in the smaller arteries that supply blood to the heart — a condition called small vessel heart disease or microvascular disease.

Many women tend to show up in emergency rooms after much heart damage has already occurred because their symptoms are not those typically associated with a heart attack. If you experience these symptoms or think you're having a heart attack, call for emergency medical help immediately. Don't drive yourself to the emergency room unless you have no other options.
Photo
Add a comment...

Post has attachment
#NaniKehtiHai

पेट दर्द का निवारण!

थोड़ी सी अजवाइन ले और उसे तवे पर भुनकर इसमें थोड़ा काला नमक मिला ले।

अब इसे 3 – 4 ग्राम की मात्रा में पानी के साथ 2 – 3 बार सेवन करने से पेट दर्द से छुटकारा मिलता है।

अजवाइन में काला नमक, निम्बू का रस और जीरा मिला कर सेवन करने से भी पेट का दर्द ठीक होता है।
Photo
Add a comment...

#JivoCanolOil

Researchers believe that monounsaturated fats in canola oil help reduce abdominal fat which is linked with increased risk for cardiovascular disease, and for conditions such as metabolic
syndrome and diabetes.

Read More http://www.maharashtratoday.in/canola-oil-ticket-good-health/
Add a comment...

Post has attachment
#HealthAlert

पेट दर्द को करे छूमंतर ये औषधि!

बिगड़ते लाइफस्टाइल जैसे खराब और दूषित खानपान, तनाव और भागदौड़ भरे जीवन के चलते लोगों को कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं को सामना पड़ रहा है। इन समस्याओं में पेट दर्द की समस्या भी बहुत आम हो गई है। जिन लोगों को पेट दर्द होता है वही इसके दर्द को पहचानते हैं। वैसे तो पेट दर्द के लिए कई तरह की अंग्रेजी दवाएं मार्किट में मिलती है। लेकिन जितना हो सके हमें पेट दर्द के लिए घरेलू नुस्खे या औषधियों को ही इस्तेमाल करना चाहिए। कई औषधियां ऐसी हैं जिनका प्रयोग करके आप पेट की बीमारी को आसानी से दूर कर सकते हैं। आइए जानते हैं क्या हैं वो औषधियां-

तुलसी
तुलसी एक ऐसा पौधा है जिसे धरती पर अमृत कहा जाता है। तुलसी के सेवन से कई बीमारियों को सफाया होता है। पेट दर्द के लिए भी तुलसी बहुत असरकारी है। मात्र 1 चम्मच तुलसी का रस पीने से पेट का दर्द और पेट में मरोड़ की समस्या ठीक होती है। तुलसी के पत्‍तों का काढ़ा बनाकर पीने से दस्‍त और कब्ज जैसी परेशानी से छुटकारा मिलता है। तुलसी के 4 पत्‍तों का नियमित सेवन करने से पेट की बीमारियां दूर होती हैं।

त्रिफला
अनियमित खानपान और बढ़ते फास्ट फूड के चलन के चलते लोगों में कान्स्टपेशन का रोग बढ़ता जा रहा है। त्रिफला आयुर्वेद का अनमोल उपहार है। यह इस समस्या में बहुत फायदा करता है। त्रिफला तीन जड़ी-बूटियों का मिश्रण है। जिसमें अमलकी यानि कि एमबलिका ऑफीसीनालिस, हरीतकी यानि कि टरमिनालिया छेबुला और विभीतकी यानि कि टरमिनालिया बेलीरिका शामिल होता है। त्रिफला का 100 ग्राम चूर्ण और 60 ग्राम चीनी मिलाकर दिन में दो बार सेवन करने से पेट की सभी बीमारियां दूर होती हैं।

बथुआ
बथुआ भी पेट की समस्याओं से निजात दिलाता है। यह आमाशय को ताकत देता है और कब्ज की शिकायत को दूर करता है। बथुए की सब्जी कब्ज और अन्य पेट की समस्या वालों के लिए बहुत अच्छी रहती है। इससे कब्‍ज दूर होती है और शरीर में ताकत आती है और स्फूर्ति बनी रहती है। बथुए का रस, उबाला हुआ पानी पीएं, इससे पेट के हर प्रकार के रोग यकृत, तिल्ली, अजीर्ण, गैस, कृमि, दर्द आदि ठीक हो जाते हैं।

इसे भी पढ़ें : बवासीर के मस्से हटाने के लिए रामबाण हैं ये 5 घरेलू नुस्खे

सौंफ
सौंफ के फायदे अगर आप पढ़ेंगे तो शायद हैरान रह जाएंगे। पेट की समस्या के साथ ये हमारे शरीर में और भी कई तरह फायदे करती है। साथ ही सौंफ हर घर में प्रयोग किया जाने वाला मसाला है। इसे पानी में उबाले और ठंडा कर पीएं। दिन में सिर्फ तीन बार इस मिश्रण को लेने से अपच और कफ की समस्या समाप्त होती है। पेट में दर्द हो तो भुनी हुई सौंफ चबाकर खाएं, दर्द ठीक हो जाएगा। जो लोग कब्ज से परेशान हैं, उनको आधा ग्राम गुलकन्द और सौंफ मिलाकर दूध के साथ रात में सोते समय लेना चाहिए, इससे कब्ज दूर हो जाएगा।
Photo
Add a comment...

Post has attachment
#HealthAlert

क्रैंप

आपके पैर संभावित डिहाइड्रेशन का भी इशारा करते हैं। इसके साथ ही आपके पैरों की रंगत कई जरूरी मिनरल्‍स की कमी के बारे में भी बताते हैं।
पैरों में क्रैंप कैल्शियम, पोटेशियम और मैग्‍नीशियम जैसे जरूरी मिनरल्‍स के कारण हो सकते हैं। गर्भवती महिलाओं में यह समस्‍या अधिक देखी जाती है।
Photo
Add a comment...

Post has attachment
#HealthAlert

बाल उड़ना

आप आपके पैरों के रोमछिद्रों में रक्‍त प्रवाह सुचारू नहीं होता तो ऐसी समस्‍या हो सकती है।

इसका संबंध पैरों के तापमान से भी हो सकता है।
यह हाथ-पैर को रक्‍त पहुंचाने वाली रक्‍तवाहिनियों में समस्‍या का संकेत हो सकता है।

रक्‍त-प्रवाह सुचारू न होने का संबंध दिल से भी हो सकता है। यह भी संभव है कि दिल पर्याप्‍त मात्रा में रक्‍त पंप न कर पा रहा हो।
Photo
Add a comment...

Post has attachment
#JivoCanolaOil #DidYouKnow

Study published in the journal Obesity towards the end of 2016 showed that including canola oil in a healthy diet might help reduce abdominal fat in as little as four weeks.

Read More https://www.mid-day.com/articles/could-canola-oil-be-ticket-to-your-good-health/19168181
Photo
Add a comment...
Wait while more posts are being loaded